खाना पकाते समय रखें कुछ खास बातों का ध्यान

मोनिका अग्रवाल

30th July 2020

महिलाओं को किचन में खाना बनाते वक्त भी कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। चलिए आपको बताते हैं इस इंफैक्शन से बचने के लिए खाना पकाते वक्त किन बातों का ध्यान रखना चाहिए.

खाना पकाते समय रखें कुछ खास बातों का ध्यान

दूषित ख़ानपान,पेट की बीमारियों,मुँह के छालों,फेफड़ों व त्वचा के रोग,प्रजनन क्षमता में कमी और कैंसर जैसे 200 रोगों का कारण हो सकता है.भोजन को किस प्रकार तैयार और स्टोर किया जाय ताकि,इसके पौष्टिक तत्व नष्ट न हों और ख़ानपान से जुड़ी बीमारियों को रोका जा सके,प्रस्तुत हैं ये 10 टिप्स-

1-सफ़ाई का ख़ास ध्यान रखें-

खाना बनाने या कोई भी फ़ूड प्रॉडक्ट्स छूने से पहले हाथों को अच्छी तरह साफ़ कर लें.टोयलेट के बाद हाथ को अच्छे से धोएँ.खाना बनाने के लिए इस्तेमाल होने वाली जगह को अच्छे से सैनिटाइज़ करें.

2-कच्चे और पके भोजन को अलग रखें-

कच्चे मीट,चिकेन या सी फ़ूड्स को अन्य फ़ूड प्रोडक्ट्स से दूर रखें. कच्चे भोजन की सामग्री और बर्तनो के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले कटिंग बोर्ड और चाक़ू को ,मीट,पोल्ट्री आदि के लिए इस्तेमाल न करे.

3-खाना अच्छे से पकाएँ-

खाना अच्छे से पकाएँ ख़ास तौर पर मीट,पोल्ट्री और सी फ़ूड्स. इन्हें 70 डिग्री सेल्सियस पर धीरे धीरे उबाल कर अच्छे से पकाएँ.ध्यान रखें कि यह गुलाबी रंग का न दिखे.

4-सुरक्षित तापमान पर रखें-

कमरे के तापमान पर पके खाने को 2घंटे से अधिक बाहर न छोड़ें.पके हुए खाने को उचित तापमान पर फ्रिज में रखें.भोजन परोसने से पहले उसे कम से कम 60 डिग्री सेल्सियस तापमान पर अच्छे से गर्म करें.

5-सर्फेस को सैनिटाइज़ करें-

सर्फेस को गर्म साबुन के मिश्रण से साफ़ करें.1टेबल स्पून,ख़ुशबूरहित क्लोरीन ब्लीच ,एक गैलन पानी में मिलाकर आप ,सर्फेस साफ़ कर सकते हैं

6-सप्ताह में एक बार फ्रिज साफ़ करें-

सप्ताह में एक बार जो सामान उपयोग में नहीं लाया जा रहा हो, फ्रिज से निकाल कर फेंक दें. पका हुआ,बचा खाना,हर चार दिन बाद निकाल दें. कच्चा पोल्ट्री फ़ूड और मीट एक से दो दिन से ज़्यादा फ्रिज में कदापि न रखें.

7-एपलाइनसेस को भी साफ़ रखें-

खाना बनाने वाले सामानों को अंदर और बाहर से अच्छी तरह साफ़ करें. हैंडल्ज़,बटन को ( जहाँ हाथ बार बार लगते हैं) अच्छी तरह साफ़ करते रहें

8-अच्छी तरह धोएँ-

ताज़ी सब्ज़ियों और फलों को,काटने,पकाने और खाने से पहले,नमक या सोडा मिले पानी से अच्छी तरह धोएं,इससे सूक्ष्म जीवाणुओं को पनपने का मौक़ा नहीं मिलता.

9-बाद में डालें नमक-

प्रेशर कुकर में खाना बनाते समय पौष्टिक तत्व नष्ट नहीं होते.विशेषज्ञों के अनुसार सब्ज़ी या चावल बनाते समय यदि नमक बाद में डाला जाएं तो सही रहता है क्योंकि तड़का लगते समय नमक डालने से उसके आयोडीन कंटेंट भाप बनकर उड़ जाते हैं.

10-दूध के लिए रखें ध्यान-

गाय या भैंस आदि का दूध प्रयोग में लेने से पहले इसे अच्छी तरह उबाले, लेकिन बार बार नहीं. गाढ़ा दूध बच्चों के स्वास्थ के लिए तो उपयोगी होता है लेकिन,ध्यान रहे,बार बार उबालने से ब्लड प्रेशर,डायबिटीज़ ,डायरिया और कौलेस्ट्रोल या दिल के रोग होने का ख़तरा बढ़ जाता है.

 

ज़ीरो ऑयल कुकिंग -दिल की बीमारियों से छुटकारा

अपने  फर्नीचर को करें  सैनिटाइज़

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

कोविड-19 : स...

कोविड-19 : समान स्टोर करते समय ही नहीं, बल्कि...

भारतीय खाद्य...

भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण के...

इस तरह करे स...

इस तरह करे सप्ताह के अंत मे घर की सफाई

नन्हे बच्चों...

नन्हे बच्चों की आंखों को सूर्य की किरणों...

पोल

आपकी पसंदीदा हिरोइन

वोट करने क लिए धन्यवाद

सारा अली खान

अनन्या पांडे

गृहलक्ष्मी गपशप

उफ ! यह मेकअ...

उफ ! यह मेकअप मिस्टेक्स...

सजने संवरने का शौक भला किसे नहीं होता ? अच्छे कपड़े,...

लाडली को गृह...

लाडली को गृहकार्य...

उस दिन मेरी दोस्त कुमुद का फोन आया। शाम के वक्त उसके...

संपादक की पसंद

प्रेग्नेंसी ...

प्रेग्नेंसी के दौरान...

प्रेगनेंसी में अक्सर हर कोई अपने क्या पहनने क्या नहीं...

क्रेश डाइट क...

क्रेश डाइट के क्या...

क्रैश डाइट क्या होता है और क्या ये इतना खतरनाक है कि...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription