क्रेश डाइट के क्या साइड इफेक्ट्स होते हैं

मोनिका अग्रवाल

31st July 2020

क्रैश डाइट क्या होता है और क्या ये इतना खतरनाक है कि इससे किसी की मौत हो जाए? आइए जानते हैं इस लेख के माध्यम से।

क्रेश डाइट के क्या  साइड इफेक्ट्स होते हैं

क्रैश डाइट का प्रभाव

जब भी हम वजन घटाने कि सोचते हैं तो सबसे पहले हमारे दिमाग में डायटिंग करने का ख्याल आता है। क्योंकि जाहिर है कि हमे व्यायाम करने के साथ साथ अपनी डाइट पर भी ध्यान देना चाहिए। लेकिन क्या इस डायटिंग के भी कुछ साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं? डायटिंग करने से आप को जल्दी नतीजे तो मिल जाएंगे लेकिन क्या यह आपके शरीर के लिए सही है? 

यदि आप डायटिंग कर रहे हैं और अचानक से आपने अपने खाने की मात्रा बहुत कम करदी है तो इससे आपके शरीर को बहुत सारी समस्याओं को झेलना पड़ सकता है। इसलिए  डायटिंग से मतलब वाकई उन खाद्य को छोड़ना है जो शरीर को नुकसान पहुंचाते हैं ना कि साथ में जरूरी के पोषक तत्वों से भी दूरी बनाना। जैसे अधिक मीठा, मैदा, नमक व जंक फूड आदि। यदि आप खाना ही नहीं खाएंगे तो आप का शरीर बहुत कमजोर हो जाएगा। इससे आपको एक समय के लिए तो वजन कम दिखाई दे सकता है परन्तु थोड़े समय बाद आपका वजन वापस दुगनी गति से बढ़ जाएगा। 

आइए जानते है कि यदि आप क्रैश डायटिंग को लंबे समय तक फॉलो करते हैं तो उस के क्या क्या परिणाम आप को भुगतने पड़ सकते हैं। 

खराब मेटाबॉलिज्म :

आपको पता ही होगा कि हमारे शरीर का वजन घटना व बढ़ना हमारे मेटाबॉलिज्म पर निर्भर करता है। यदि हमारा मेटाबॉलिज्म ठीक है तो हम व्यायाम करने व वजन घटाने आदि के लिए पर्याप्त ऊर्जा मिलेगी। लेकिन यदि आप अचानक से अपनी डाइट से सारे प्रोटीन व पोषण तत्त्व हटा देंगी तो आपका मेटाबॉलिज्म लेवल कम हो जाएगा। जो आप की सेहत के लिए बिल्कुल भी ठीक नहीं है। 

इम्यूनिटी कमजोर होना :

डायटिंग करने से आप को किसी भी प्रकार के कार्बोहाइड्रेट या फैट या पोषक तत्त्व नहीं मिलते हैं। जिसकी वजह से आप की इम्यूनिटी कमजोर हो सकती है। इससे आपके बीमार पड़ने के चांस बहुत अधिक हो जाते हैं। यदि आप बीमार पड़ेंगी और आपका शरीर ही स्वस्थ नहीं रहेगा तो हो सकता है आपका वजन घटने की बजाए उल्टा बढ़ जाए।

इम्यूनिटी कमजोर होना

 

हृदय सम्बन्धी रोग :

यदि आप एक बहुत सख्त डाइट को फॉलो करती हैं तो आपके शरीर को ऊर्जा प्रदान करने वाला कोई भी पोषण तत्त्व आपके शरीर में नहीं होता। जिससे आप बहुत थका हुआ व कमजोर महसूस करेंगी। इसके साथ साथ ही आपकी दिनचर्या बहुत बदल जाएगी। इससे आपको हृदय सम्बन्धी रोग होने का खतरा भी हो सकता है। अतः आप को अपनी डाइट में हेल्दी खाने को तो जरूर शामिल करना चाहिए।

हृदय सम्बन्धी रोग

 

खाने में विकार :

यदि आप एक दम से अपनी सारी खाने की आदतों को बदल देती हैं तो आपके शरीर को इस नई डाइट को अपनाने में थोड़ा समय लग सकता है। इसलिए आपको भोजन विकार हो सकते हैं। आप किसी भी खाने कीउपयोगिता समझे बिना उससे दूरी बना लेंगे और ऐसे में आपको जरूरी पोषक तत्व नहीं मिल पाएंगे।लम्बे समय तक भूखे रहने वाले लोग थके और चिड़चिड़े हो जाते हैं। उनका मूड स्विंग बार-बार होता रहता है।

त्वचा संबंधी परेशानी: क्रैश डाइटिंग आपकी हेल्थ के साथ ही आपके स्किन का भी हाल बुरा कर देती है। बैलेंस डाइट न होने और न्यूट्रीएंट्स की कमी से स्किन में रफनेस, डलनेस और ड्राइनेस हो जाती है। समय से पहले आपके चेहरे पर झुरिया पढ़ सकते हैं और आप बेवजह वक्त से पहले ही बूढ़ी दिखने लग जाएंगी। गैस और एसिडिटी की समस्याएं भी आपको परेशान करेंगी।

 

यह भी पढ़ें-

इंस्टेंट एनर्जी के लिए कारगर उपाय

प्रोटीन पाउडर्स के खतरनाक पहलू

 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

क्या आप जानत...

क्या आप जानते हैं कि जंक फूड असल में होता...

वजन घटाएं-लह...

वजन घटाएं-लहसुन के पानी से

बाजुओं को मज...

बाजुओं को मजबूत बनाने वाले योगासन

कुछ हैल्दी फ...

कुछ हैल्दी फूड जो केवल नाम के ही हैल्दी हैं...

पोल

आपकी पसंदीदा हिरोइन

वोट करने क लिए धन्यवाद

सारा अली खान

अनन्या पांडे

गृहलक्ष्मी गपशप

उफ ! यह मेकअ...

उफ ! यह मेकअप मिस्टेक्स...

सजने संवरने का शौक भला किसे नहीं होता ? अच्छे कपड़े,...

लाडली को गृह...

लाडली को गृहकार्य...

उस दिन मेरी दोस्त कुमुद का फोन आया। शाम के वक्त उसके...

संपादक की पसंद

प्रेग्नेंसी ...

प्रेग्नेंसी के दौरान...

प्रेगनेंसी में अक्सर हर कोई अपने क्या पहनने क्या नहीं...

क्रेश डाइट क...

क्रेश डाइट के क्या...

क्रैश डाइट क्या होता है और क्या ये इतना खतरनाक है कि...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription