रक्षा बंधन के मौके पर रहें सावधान, रखें इन बातों का खास ख्याल

Jyoti Sohi

31st July 2020

रक्षा बंधन के पर्व के मौके पर हमें राखी बंधते वक्त कुछ खास बातों का ख्याल रखने की ज़रूरत है, ताकि हम कोरोना जैसी महामारी से खुद को बचा सके। इस साल राखी के इस पर्व को बहुत से लोग घर पर रहकर ही खास बना रहे हैं।

रक्षा बंधन के मौके पर रहें सावधान, रखें इन बातों का खास ख्याल
रक्षा बंधन एक ऐसा अटूट रिश्ता है, जो भाई बहनों के प्यार को रक्षा की मज़बूत डोरी से बांधे रखता है। रक्षा बंधन का त्योहार सदियों से यूं ही चला आ रहा है। हम लोग हर साल अपने भाईयों को राखी बांधते हैं और उनसे ढेर सारी दुआएं लेते हैं और साथ ही मिलता है रक्षा का वचन मगर इस बार हमें भी रक्षा के उस वचन को सिद्ध करने के लिए खास एहतियात बरतनी होगी यानि रक्षा बंधन के पर्व के मौके पर हमें राखी बंधते वक्त कुछ खास बातों का ख्याल रखने की ज़रूरत है, ताकि हम कोरोना जैसी महामारी से खुद को बचा सके। इस साल राखी के इस पर्व को बहुत से लोग घर पर रहकर ही खास बना रहे हैं। आइए जानते हैं इस पर्व के मौके पर कौन से नियमों का पालन है ज़रूरी
घर पर बनाएं रक्षा की डोरी
सबसे पहले हम बात करेंगे राखी की, इस बार हमें कोशिश करनी चाहिए कि हम राखी जैसी पवित्र डोर को ज्यादा से ज्यादा घर पर ही तैयार करें। आप इसे घर पर रखी कोई भी रेशमी डोरी, कलावा, मोती और सितारों की मदद से सजाकर आसानी सेबना सकती हैं। जो न सिर्फ देखने में आकर्षित होगी बल्कि बांधते वक्त भी आपको इसे सेनिटाईज करने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी और न ही मन में कोई शंका रहेगी।
राखी बांधने से पहले हाथों को करें सेनिटाईज़
राखी के मौके पर अगर आपके भाई आपके घर आ रहे हैं, तो सबसे पहले उनका मूंह मीठा करवाने की बजाय उनके हाथों को सेनिटाईज़ ज़रूर कराएं, ताकि किसी तरह के बैकटीरियां की गुंजाईश न रहे। इसके बाद उन्हें कुछ देर एक अलग कमरे में बैठनें के लिए कहें और फिर कुछ देर बाद सही मुहूर्त पर उनकी कलाई पर राखी बांधे और अपने त्योहार को सुरक्षित बनाए।ं
घर पर बनाएं मिष्ठान
राखी का मौका हो और मीठे की बात न आए, ऐसा नामुमकिन है। कुछ भी मीठा हो, मगर सेफ हो। वैसे तो सावन के मौसम में और खासतौर पर राखी के मौके पर घेवर और अनरसे की गोलियां बाज़ार में खूब बिकती है। जो इस त्योहार की शोभा में चार चांद लगा देते हैं। लेकिन इस बार हमें सारी रेसिपीज़ घर पर ही बनानी है। चाहे घेवर हो यां केक, लेकिन अगर आप इन रेसिपीज़ को नहीं बना पा रहे, तो आप हल्वा यां बर्फी जैसा कुछ भी मीठा बनाकर अपने भाईयों और परिवार के बाकी सदस्यों का मूहं मीठा करवाएं और अपना त्येाहार मनाएं। इस बात का खास ख्याल रखें की बाहर से कोई भी मिठाई यां खाने की वस्तु लाने से परहेज़ करना चाहिए।
बाज़ार से लाए गिफ़्ट को ज़रूर करें सेनिटाईज़
आप अपने प्रियजनों के लिए अगर कोई गिफ्ट आईटम खरीदते हैं, तो उसे घर लाकर कुछ अलग रख दें और फिर सेनिटाईज़ करने के बाद ही किसी को उपहार में दें। इसके अलावा अगर आप कोई सामान खरीद रही हैं, तो कोशिश करें कि आप उन्हें घर पर लाकर ही पैक करें, ताकि स्वच्छता कायम रहे और किसी वायरस का खतरा न पनपें।
हाथों को बार बार सेनिटाईज़ करने से बचें
अगर आप कहीं बाहर है , तो आप सेनिटाईजर का इस्तेमाल करें लेकिन अगर आप घर पर ही है, तो हाथों को सेनिटाईज़ करने की बजाय उन्हें साबुन से धोएं, ताकि किसी प्रकार की एलर्जी न हो सके। इसके अलावा अगर आपके घर में छोटे बच्चे और बुजूर्ग है, तो उनसे सेनीटाईज़र को दूर रखें अन्यथा इसके दुष्परिणाम घातक साबित हो सकते हैं। 
किसी के घर जाने से परहेज़ करें
ऐसे हालातों में हमें कोशिश करनी चाहिए कि हम घर पर ही रहें और अपना ख्याल रखें। सुरक्षा के लिहाज़ से हमें कहीं बाहर निकलने से पहले उस एरिया की पूरी जानकारी हासिल करनी चाहिए। ताकि हमें सक्रंमण वाले इलाकों का पता लग पाए। इसके अलावा चाहे त्योहार ही हो हमें फिर भी किसी के घर जाकर मास्क नहीं उतारना चाहिए और जल्द ही लौट आना चाहिए।
बुजुर्गों का रखें खास ख्याल
अगर आप 60 की उम्र पार कर चुके हैं, तो आपको बेहद सावधानी बरतने की आवश्यकता है। आप फोन यां फिर वीडियो कान्फ्रंेस के ज़रिए अपने प्रियजनों से सपंर्क साध सकते हैं। इसके अलावा आप अपने परिवार के साथ ही इन पलों को एंजाय करें, ताकि कोई इंफेक्शन आपको न छू पाए।
हर साल जिस त्योहार को भाई बहन एक साथ बैठकर मनाते हैं। उस त्योहार स्वरूप इस साल अचानक से बदल गया। ऐसे में अब लोगों के मन में कई तरह के विचार और शंकाएं पैदा हो रही है कि हम अपनों से कैसे मिलें यां कैसे बातचीत करें। मगर आज के इस दौर में बहुत से माध्यम है, जिसके ज़रिए आप उनसे बात ाी कर सकते हैं और खुषी का इज़हार भी कर सकते हैं। 
वेब काल के ज़रिए संपर्क करें
कई जगह लाकडाउन और महामारी के कारण लोगों का घर से निकलना संभव नहीं हो पा रहा। तो ऐसे में सभी भाई बहन वेब काॅल के ज़रिए रक्षा बंधन इस त्योहार पर एकजुट हो सकते हैं और खुशी ज़ाहिर कर सकते हैं। 
भाई किससे राखी बंधवाए 
ऐसा कहा जाता है कि जिन भाईयों की बहन उन्हें खुद राखी नहीं बांध पाती हैंए वह बहन की भेजी राखी को परिवार में मौजूद किसी भी बच्चीए बुआए मांए बेटी और भांजी से बंधवा सकते हैं।श् हिंदू धर्म में बुआ और भांजी को बहुत महत्व दिया जाता है। कई घरों में बुआ और भांजी द्वारा राखी बंधवाने का रिवाज भी होता है। खासतौर पर उत्तर प्रदेशए राजस्थानए गुजरात आदि कुछ प्रदेशों में बहन होने के बाद भी पुरुष अपनी बुआ और भांजी से राखी बंधवाते हैं।
बहन किसे बांधे राखी 
जिस तरह रक्षाबंधन के दिन किसी भाई के हाथों की कलाई सूनी नहीं होनी चाहिए, उसी तरह हर बहन को रक्षाबंधन पर किसी न किसी भाई तुल्य व्यक्ति या फिर जिससे रक्षा का वचन लिया जा सके, उसे राखी जरूर बांधनी चाहिए। बेशक इस बार आप भाई के हाथों पर राखी न बांध पाएं, मगर भाई के स्थान पर आप देवर, मामा, चाचा, पिता, भांजे , भतीजे आदि को राखी बांध सकती हैं। यदि इनमें से कोई भी आपके समीप न हो तो आप भगवान कृष्ण को राखी बांध सकती हैं। 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

भइया मेरे! र...

भइया मेरे! राखी के बंधन को कुछ ऐसे निभाना...

कुछ ऐसा है र...

कुछ ऐसा है रक्षाकवच से रक्षाबंधन तक का राखी...

एक-दूसरे  की...

एक-दूसरे  की रक्षा और  कर्तव्यों का बोध कराता...

इमोशनल करने ...

इमोशनल करने के साथ ही आपको सोचने पर भी मजबूर...

पोल

आपको कैसी लिपस्टिक पसंद है

वोट करने क लिए धन्यवाद

मैट

जैल

गृहलक्ष्मी गपशप

टमाटर से फेस...

टमाटर से फेस पैक...

 अगर आपको भी त्वचा से संबंधी कई तरह की परेशानी है तो...

पतले और हल्क...

पतले और हल्के बालों...

 तो सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए आज हम आपको कुछ ऐसा बता...

संपादक की पसंद

टीवी की आदर्...

टीवी की आदर्श सास,...

हर शादीशुदा महिला के लिए करवा चौथ का त्योहार बेहद ख़ास...

मैं एक बदमाश...

मैं एक बदमाश (नॉटी)...

आप लॉकडाउन कितना एन्जॉय कर रही है... मेरे लिए लॉकडाउन...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription