सेक्स से जुड़े तथ्य जो अभी भी पूरी तरह नहीं मालूम

मोनिका अग्रवाल

3rd September 2020

सेक्स के बारे में बहुत सी भ्रांतियां है जिसके लिए उचित शिक्षा की जरूरत है। सेक्स को लेकर लोगों के बीच कई तरह की गलत फहमियां फैली हुई हैं।

सेक्स से जुड़े तथ्य जो अभी भी पूरी तरह नहीं मालूम

इंटर्नेट पर पढ़कर,या लोगों से बात करके,सेक्सुअल हेल्थ के बारे में आधीअधूरी जानकारी ही मिलती है,और सेक्स  के बारे में तरह तरह की प्रचलित धारणाओं से भी कोई मदद नहीं मिलती है.कुछ लोग पोर्न के चक्कर में पड़ जाते हैं,जो कि ग़लत है.इन तथ्यों को दुरुस्त करके ,प्रस्तुत है ये जानकारी जो आपके लिए सही साबित होगी-

1-कोई महिला पिरीयड्ज़ के दौरान गर्भवती नहीं हो सकती- क़ई पार्ट्नर्ज़ प्रेगनेंसी से बचने के लिए पिरीयड्ज़ को अनप्रोटेक्टेड सेक्स संबंध बनाने के खुले मौक़े के रूप में इस्तेमाल करना चाहते हैं.हालाँकि पिरीयड्ज़ के दौरान प्रेगनेंसी की संभावना कम है,फिर भी जोखिम रहता है

2-महिला की वेजाइना नियमित सेक्स से ढीली हो जाती है-सेक्स करने से वेज़ाइंना स्थाई रूप से ढीला नहीं होता है.ये कही जाने वाली सिर्फ़ पुरानी बातें हैं,उत्तेजित होने पर वेजाइना की मांसपेशियाँ रिलेक्स होती हैं,और फिर बाद में सामान्य हो जाती हैं

3-रोज़ाना हस्थमैथुन ठीक नहीं-रोज़ाना हस्थमैथुन करने में कोई ख़राबी नहीं है.वास्तव में कई सेक्सुअल हेल्थ एक्सपर्ट इसको सेहत के लिए अच्छा मानते हैं.

4-प्रेगनेंसी से बचाव के लिए पुल आउट विधि काम करती है-यह सर्वथा ग़लत है. यहाँ तक कि अगर आपका पार्ट्नर आउटसाइड आ गया है तो भी एक सम्भावना है कि स्पर्म आपकी स्क़िन के ज़रिए आपकी वेज़ाइना तक अपना रास्ता तय कर सकते हैं.

5-सभी और्ग़ैज्म बेजाइनल होते हैं-सच तो यह है कि जो महिलाएँ सेक्स के दौरान क़्लाइमेक्स पर पहुँचती हैं,उनके 25%को पेनेरेटिव सेक्स के माध्यम से और्ग़ैज्म हासिल होता है,जबकि एक बड़े हिस्से को क्लिटोरल स्टिमुँलेशन की अतिरिक्त ज़रूरत होती है

6-40साल की उम्र में सेक्स ख़त्म हो जाता है-कुछ लोग बेडरूम में परफ़ॉर्म नहीं कर पाते क्योंकि उनकी बोडी सेक्स करने लायक नहीं रह जाती.ये लोग,डायबिटीज़,हाईपरटेंशन और मोटापे के शिकार हो चुके होते हैं और इस ओर ध्यान ही नहीं देते .हक़ीक़त ये है कि कोई भी व्यक्ति 90साल तक सेक्स कर सकता है.

7-पैनिस को बड़ा करने वाली दवा या टूल्ज़ काम करते हैं-मिथक है.दुनिया में अब तक ऐसा कोई तेल या दवा नहीं बनी जो पुरुषों के पीनिस साइज़ को बढ़ा सके. कुछ दवाएँ ऐसी ज़रूर होती हैं जिनके सेवन से पीनिस में ब्लड फ्लो बढ़ जाता है और उन्हें लगता है .सच तो यह है कि,पीनिस साइज़ बढ़ गया.वास्तव में पीनिस साइज़ माने नहीं रखता.

8-शादी शुदा कपल दूसरों के बारे में फेंटिसाइज नहीं कर सकते-लोग ऐसा सोचते हैं कि इंटरकोर्स के दौरान किसी और की कल्पना करना धोखाधड़ी है या चीटिंग है जबकि ये एक सामान्य नेचर है.कुछ कपल्स तो ऐसा करके हो औरगैज़िम पर पहुँचते हैं.

यह भी पढ़ें-

कहीं सेक्स के दौरान  योनि में सूखेपन की समस्या से परेशान तो नहीं आप ? जानिए कारण

हैप्पी सेक्स लाइफ के लिए चरम सुख पाने के 11 तरीके

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

अगर पहली बार...

अगर पहली बार हो रही हैं अपने पार्टनर के करीब...

क्या आप सही ...

क्या आप सही साइज़ का कंडोम इस्तेमाल कर रहे...

क्या कोविड-1...

क्या कोविड-19 के फैलते इन्फेक्शन के बीच सुरक्षित...

शादीशुदा लाइ...

शादीशुदा लाइफ से गायब हो चुका है सेक्स तो...

पोल

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत किस देश से हुई थी ?

वोट करने क लिए धन्यवाद

इंग्लैण्ड

जर्मनी

गृहलक्ष्मी गपशप

बच्चे के बार...

बच्चे के बारे में...

माता-पिता बनना किसी भी वैवाहिक जोड़े के लिए किसी सपने...

धन की बरकत क...

धन की बरकत के चुंबकीय...

पैसे के लिए पुरानी कहावत है जो आज भी सही है कि "बाप...

संपादक की पसंद

परिवार के सा...

परिवार के साथ करेंगे...

कोरोना काल में हम सभी ने अच्छी सेहत के महत्व को बेहद...

इन डीप नेक ब...

इन डीप नेक ब्लाउज...

यूं तो महिलाएं कई तरह के वेस्टर्न वियर को अपने वार्डरोब...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription