अपने पीरियड्स के लिए 2 दिन पहले ही तैयार रहें

मोनिका अग्रवाल

4th September 2020

एक देर से देर तक चक्र 21 से 39 दिनों तक कहीं भी रहता है, इसलिए रक्तस्राव में बिताए दिनों की संख्या व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में भिन्न होती है। ज्यादातर लोगों को दो से सात दिनों तक खून बहता है।चक्कर कोई सा भी हो लेकिन उसके शुरू होने से पहले मानसिक रूप से तैयार होने के लिए कुछ बातों का ध्यान रखना अति आवश्यक है। जानते हैं इस लेख के माध्यम से।

अपने पीरियड्स के लिए 2 दिन पहले ही तैयार रहें

अपने मासिक के लिये रहें तैयार

पीरियड्स से ज्यादा चिंता तो हमें उससे पहले हो जाती है कि क्या हमारे पास उपयुक्त मात्रा में पैड उपलब्ध होंगे? हम पीरियड से पहले ही उसके बारे में सोच सोच कर स्वयं को परेशान कर लेते हैं। इस ओवर थिंकिंग को कैसे कम किया जा सकता है? आइए आज इन सब चीजों के बारे में जानते हैं।हर किसी का मासिक धर्म चक्र अलग होता है। आपका चक्र आपकी वर्तमान अवधि के पहले दिन से शुरू होता है और आपकी अगली अवधि के पहले दिन पर समाप्त होता है। 

आप को अपने पीरियड्स के लिए तैयारी एक या दो दिन पहले ही कर लेनी चाहिए। ताकि आप को मुख्य समय पर किसी चीज की कमी न हो। आप के पास जरूरत का सारा सामान उपलब्ध हो यह पहले ही तय कर लेना चाहिए। आप को पीरियड्स के लिए कुछ मैनेजमेंट समय से पहले कर लेनी चाहिए ताकि आप को आने वाले पीरियड के समय किसी तरह की कोई समस्या का सामना न करना पड़े और आप एक चिंता मुक्त एवं सुरक्षित पीरियड का अनुभव कर सके। 

पीरियड्स के समय के लिए कुछ टिप्स

किसी पीरियड ऐप का प्रयोग करें:  आप को एक पीरियड ऐप अवश्य डाउनलोड कर लेना चाहिए। यदि आप कभी अपने पीरियड्स के बारे में भूल भी जाती हैं तो वह न केवल आप को याद दिलाने में व चौकन्ना रखने में सहायता करेगा बल्कि आप के पीरियड्स के समय आने वाले हर लक्षण को नोट करेगा। जैसे आप की साइकिल कितने दिन तक चलती है, आप का फ्लो कितना है? यदि आप किसी महीने में पहले से अजीब चीजें नोटिस करती हैं तो डॉक्टर से सलाह ले सकती हैं। 

स्वयं को तैयार रखें:अपने पास हर समय एक्स्ट्रा पैड या पेंटी लाइनर रखें। यदि आप काम पर जाती हैं तो खास कर एक एक्स्ट्रा अंडर वियर को भी अपने साथ रखें। अच्छा व संतुलित भोजन खाएं। हर रोज कम से कम 8 घंटे अवश्य सोएं। यदि आप पर्याप्त मात्रा में नहीं सोती हैं तो आप को साइकिल डिस्टर्ब हो सकती है। यदि आप रात में काम करती हैं तो सुनिश्चित करें की दिन में किसी अंधेरे वाले वातावरण में अपनी नींद अवश्य पूरी कर रही हों।

एक हेल्दी डायट खाएं:आप के शरीर व खास कर आप के रिप्रोडक्टिव सिस्टम को अपने काम अच्छे से करने के लिए विभिन्न प्रकार के पोषण की आवश्यकता होती है। यदि आप वह पोषण नहीं खाएंगी तो आप का रिप्रोडक्टिव सिस्टम अच्छे से काम न करे और आप के पीरियड भी अनियमित हो जाएं। अतः जंक फूड आदि खाना छोड़ कर हेल्दी व संतुलित भोजन को अपनी डाइट में अवश्य शामिल करें। 

अधिक वर्कआउट न करें:यदि आप जितनी कैलोरीज़ अपने अंदर लेते हैं उससे अधिक वर्कआउट करते समय बर्न कर देते हैं तो आप के शरीर के अंदर एनर्जी नहीं बचती है। जिसकी वजह से आप थका थका महसूस करते हैं। इससे आप के शरीर पर कुछ उल्टे असर भी पड़ते हैं जिसकी वजह से वह सही से फंक्शन नहीं कर पाता। अतः यदि आप को वर्कआउट करना ज्यादा पसंद है तो आप कुछ सप्लीमेंट्स का प्रयोग कर सकते हैं। 

अपनी स्ट्रेस को नियंत्रित करें:यदि आप अपने काम के कारण या किसी और वजह से बहुत अधिक परेशान रहते हैं तो यह आप की स्ट्रेस का कारण बन सकता है। इसलिए इस चिंता को छोड़ कर कुछ समय के लिए वह काम करें जो आप को करना बहुत अच्छा लगता है। जिस वजह से आप स्ट्रेस को नियंत्रित कर पाएं। अन्यथा इसकी वजह से आप की साइकिल अनियमित हो जाएगी। 

अपने वजन को नियंत्रित रखें:आप को अपनी स्ट्रेस के साथ साथ अपने वजन को भी संतुलित व नियंत्रित रखना होगा। ध्यान रखें कि आप बहुत ज्यादा मोटे या बहुत ज्यादा पतले न हो गए हो। मोटापे से आप के रिप्रोडक्टिव हार्मोन्स पर असर पड़ता है। अतः नियमित पीरियड्स के लिए आप को एक हेल्दी वेट रखना बहुत जरूरी होता है।

 

यह भी पढ़ें-

इंटीमेंट हाइजीन प्रोडक्ट बन सकता है यूटीआई का कारण

महिलाओं में होने वाली एक हार्मोनल समस्या

 

 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

पीरियड ज्याद...

पीरियड ज्यादा दिन तक आने के कारण

7 बेस्ट पीरि...

7 बेस्ट पीरियड पैंटीज जिनके विषय में मालूम...

गर्म पानी दू...

गर्म पानी दूर करे परेशानी

महिलाएं पीरि...

महिलाएं पीरियड्स के समय चिड़चिड़ापन क्यों...

पोल

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत किस देश से हुई थी ?

वोट करने क लिए धन्यवाद

इंग्लैण्ड

जर्मनी

गृहलक्ष्मी गपशप

जन-जन के प्र...

जन-जन के प्रिय तुलसीदास...

भगवान राम के नाम का ऐसा प्रताप है कि जिस व्यक्ति को...

भक्ति एवं शक...

भक्ति एवं शक्ति...

शास्त्रों में नागों के दो खास रूपों का उल्लेख मिलता...

संपादक की पसंद

अभूतपूर्व दा...

अभूतपूर्व दार्शनिक...

श्री अरविन्द एक महान दार्शनिक थे। उनका साहित्य, उनकी...

जब मॉनसून मे...

जब मॉनसून में सताए...

मॉनसून आते ही हमें डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया, जैसी...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription