मैं दबंग गृहलक्ष्मी हूं।

Jyoti Sohi

9th September 2020

आज हम रोशनी डालते हैं परिधि मंत्री के जीवन पर। परिधि एक बिजनेस वुमेन हैं। साथ साथ एक पत्नी और एक बहु भी हैं। तो आज हम उनसे बातचीत के कुछ अंश आपके समक्ष साझा करने जा रहे है और आपको बताएंगे कि किस प्रकार कार्यक्षेत्र के साथ साथ वो अपना घर परिवार मैनेज करती हैं।

मैं दबंग गृहलक्ष्मी हूं।
जीवन की दौड़भाग में एक गृहलक्ष्मी बहुत से रोल अदा करती है। कभी मां बनकर, कभी बेटी बनकर और कभी बहु बनकर। मगर इन सबसे परे उनकी अपनी भी एक पहचान है। तो आइए आज हम रोशनी डालते हैं परिधि मंत्री के जीवन पर। परिधि एक बिजनेस वुमेन हैं। साथ साथ एक पत्नी और एक बहु भी हैं। तो आज हम उनसे बातचीत के कुछ अंश आपके समक्ष साझा करने जा रहे है और आपको बताएंगे कि किस प्रकार कार्यक्षेत्र के साथ साथ वो अपना घर परिवार मैनेज करती हैं। तो आइए डालते हैं ज्योति सोही की उनसे बातचीत के कुछ अंशों पर नज़र 
परिधि मंत्री 
मैं सूथ हेल्थ केयर जिनका फलैग शिप Brand है परी, उस कंपनी में बतौर कंज्यूमर इनसाईट एंड प्रोडक्ट इनोवेशन हेल्थ केयर मैनेज कर रही हूं।
आप खुद को एक शब्द में बताइए
मैं दबंग किस्म की गृहलक्ष्मी हूं। आज की दुनिया में गृहलक्ष्मी को सिर्फ काम करना ही नहीं बल्कि काम करवाना भी आना चाहिए। हांलाकि वर्कप्लेस पर काम करवाना आसान नहीं होता है।
बतौर गृहलक्ष्मी घर को लेकर आपके क्या फंडे हैं।
घर में मैं बहुत चिल्ड आउट रहती हूं। घर में फ्रेंडली एटमास्वेयर रहता है। सबसे मिलकर बैठकर बातें करना एक साथ काम करना अच्छा लगता है।
रिश्तों की अगर बात करें, तो आप कैसे मैनेज करती हैं
अब मै रिश्तों की बात करूं तो घर में सबके साथ बहुत सुलझा हुआ रिलेशन है।  अब वो ज़माना नहीं है कि गृहलक्ष्मी केवल घर रहकर घर का काम करें अब गृहलक्ष्मी धन लक्ष्मी बन चुकी हैं और अब वो घर के साथ साथ कार्यक्षेत्र को मैनेज करना भी बखूबी जानती हैं।
बतौर पत्नी और बहू आपका कैसा रोल है।
मैं बहुत नटखट गृहलक्ष्मी हूं। घर में पति और बाकी लोगों से बहुत सुलझे हुए रिश्ते हैं। मेरी सास बहुत सहनशील हैं और मैं उनके साथ पेशेंट रहती हूं क्यों की हमारे बीच उम्र का गैप है। वो मुझ से कुछ भी एक्सपेक्ट नहीं करती हैं और हर बात को बिना कहे बखूबी समझती हैं और मुझे उनका पूरा सहयोग मिलता है। पिछले दिनों हम काफी वक्त से एक साथ रह रहे हैं ऐसे में मुझे उन्हें जानने का भी मौका मिला है। 
मानसून के सीज़न में सैनीटरी पैड कितनी डयूरेशन के लिए इस्तेमाल करना चाहिए। इससे जुड़ी कुछ टिप्स हमारी गृहलक्ष्मियों का दीजिए
आपको अपनी बाॅडी को समझना है कि कैसा फ्लो है और रैशिज़ तो नहीं होते। मानसून में हमें पांच से छ घंटे में पैड बदल लेना चाहिए। नाईट टाईम के लिए आपको बड़े साईज़ के पैड इस्तेमाल करने चाहिए। छोटी मोटी एक्सरसाईज कर सकते है। आपको खाना पौष्टिक खाना चाहिए।  
अपना मी टाईम आप कैसे स्पैंड करती हैं।
मेरा मी टाईम मेरा अपना टाईम होता है। मैं कुछ वक्त एंकात में भी बिताना पसंद करती हूं और घूमना फिरना भी बहुत पसंद हूं। अपने हसबैंड के साथ, फैमिली के साथ, दोस्तों के साथ और कभी अकेले भी। 
फैशन को लेकर आपके क्या फंडे है।
फैशन मेरे लिए बहुत सिंपल है। फैशन वो है जो आराम से आप कैरी कर सको। मुझे ब्राईट रंग बहुत पसंद है और आफिस के लिए मुझे मोनोक्रोम कलर पसंद हैं। फैशन का मतलब जो भी, जिसमें भी आप कंफर्टेबल फील करें, वही है।
ब्यूटी के क्या फंडे हैं आपकी लाईफ में
सुंदर दिखना ब्यूटी नहीं अपने स्किन का ध्यान रखना वो ब्यूटी है। ब्यूटी सिर्फ चेहरा नहीं विचार भी है। अच्छे विचारों को अपनाना भी ब्यूटी है। रात को सोते वक्त नाईट क्रीम लगाती हूं, बस मेरा फंडा यही है।
लाईफ की ब्यूटी से आप क्या समझती हैं
लाईफ की ब्यूटी वहीं है कि आप कैसा सोचते हैं, रिश्तों को कैसे निभाते हैं।  आपके आसपास कैसे लोग हैं आप क्या काम करते हैं। 
कोई कविता जो आप सुनाना चाहें।
दो लाईन्स है जो मेरे डेस्क पर हमेशा लिखी रहती है कि आपका जीवन समाप्त हो उससे पहले आप उंचाईयों को छू लें।
गृहलक्ष्मी को अचिवर होना कितना ज़रूरी है।
गृहलक्ष्मी के लिए कुछ भी अचीव करना ज़रूरी नहीं है। जो मन चाहें आप उसी राह पर चलें। दिमाग पर किसी चीज़ को हावी न होने दें। चीजें खुद ब खुद होती चली जाती हैं। 
भविष्य को लेकर आपकी क्या योजनाएं हैं।
मैं भविष्य के बारे में नहीें सोचती हूं। भविष्य अनप्रीडिक्टेबल है, लेकिन हम चाहते है कि रिश्तों में हमेशा ऐसी ही मिठास बनी रहे। साथ ही काम की बात करूं तो परी को जिस मुकाम से शुरू किया है आगे लेकर जाना है और यही चाहते हैं कि ये भारत की नंबर वन फैमिनन हेल्थ केयर कंपनी बने। पर्सनल फ्रंट पर जो चल रहा है, बस यूं ही चलता रहे।
फैमिली को लेकर भविष्य का क्या फंडा है।
अब तक गृहलक्ष्मी सिर्फ दूसरों के लिए जीती आई हैं, मगर अब गृहलक्ष्मियों को अपना ख्याल रखना होगा और अपने लिए भी जीना होगा। 
फैमिली को लेकर आपके क्या फंडे हैं 
फैमिली मेरी लाईफ में सबसे ज़रूरी है। किसी भी रिश्ते को टेकन फार ग्रंटिड न ले। कहीं सहनशीलता चाहिए तो वो दें कही नटखट पन चाहिए तो वो दिखाएं। हमेशा जुड़े रहें और खुश रहें।
रैपिड फायर राउंड में आपके नज़रिए से कौन सा खिताब आपकी जिंदगी में किसे सूट करता है।
सहनशील गृहलक्ष्मी
मेरी सास बहुत सहनशील है और अपने सभी बच्चों का ख्याल रखती हैं।
बातूनी गृहलक्ष्मी
मेरी सहेली रोमा है तो बातें बहुत करती है, मगर बहुत अच्छी सलाह देती हैं।
फैशनेबल गृहलक्ष्मी 
मेरी सहेली है अनुप्रिया, जो बिना मांगे मुझे फैशन टिप्स देती  हैं।
चालाक गृहलक्ष्मी
श्रुति मेरी कलीग है, जो बहुत जल्दी काम करवा लेती हैं।
सादी गृहलक्ष्मी
मेरी भाभी बहुत सिंपल है और उनकी जिंदगी मेरे लिए एक मार्गदर्शन है।

 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

मैं एक मल्टी...

मैं एक मल्टी टास्कर गृहलक्ष्मी हूं। - डाॅ...

मैं एक वर्कि...

मैं एक वर्किंग गृहलक्ष्मी हूं!! - उर्वशी...

मैं एक बदमाश...

मैं एक बदमाश (नॉटी) किस्म की गृहलक्ष्मी हूं!...

मैं एक ट्रें...

मैं एक ट्रेंडी किस्म की गृहलक्ष्मी हूं! -...

पोल

आपको कैसी लिपस्टिक पसंद है

वोट करने क लिए धन्यवाद

मैट

जैल

गृहलक्ष्मी गपशप

टमाटर से फेस...

टमाटर से फेस पैक...

 अगर आपको भी त्वचा से संबंधी कई तरह की परेशानी है तो...

पतले और हल्क...

पतले और हल्के बालों...

 तो सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए आज हम आपको कुछ ऐसा बता...

संपादक की पसंद

टीवी की आदर्...

टीवी की आदर्श सास,...

हर शादीशुदा महिला के लिए करवा चौथ का त्योहार बेहद ख़ास...

मैं एक बदमाश...

मैं एक बदमाश (नॉटी)...

आप लॉकडाउन कितना एन्जॉय कर रही है... मेरे लिए लॉकडाउन...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription