क्या आप भी स्किन केयर की कुछ ए टू जेड टर्म्स को लेकर कंफ्यूज हैं

मोनिका अग्रवाल

12th September 2020

कई बार होता है कि हम जल्द बाजी में किसी अक्षर का गलत मतलब समझ लेते हैं और गलती से उस चीज का प्रयोग भी गलत काम में कर लेते हैं जिस वजह से हमें अच्छे नतीजे नहीं मिलते हैं

क्या आप भी स्किन केयर की कुछ ए टू जेड टर्म्स को लेकर कंफ्यूज हैं

क्या आप भी अपना स्किन केयर रूटीन शुरू करने जा रहे हैं? यदि हां तो यह अच्छी बात है परन्तु क्या आप स्किन केयर से जुड़े सभी शब्दों को जानते हैं? कई बार होता है कि हम जल्द बाजी में किसी अक्षर का गलत मतलब समझ लेते हैं और गलती से उस चीज का प्रयोग भी गलत काम में कर लेते हैं, जिस वजह से हमें अच्छे नतीजे नहीं मिलते हैं और हम फिर उस उत्पाद में खामियां निकालते हैं। इसलिए स्किन केयर के किसी भी प्रोडक्ट को खरीदने से पहले उसके इंग्रेडिएंट्स के बारे में अच्छे से रिसर्च कर लेनी चाहिए कि क्या वह आप की स्किन को सूट करेगा भी या नहीं। तो आइए जानते हैं कुछ ए टू जेड टर्म्स का मतलब। 

A-एंटी ऑक्सिडेंट : यह ऐसे तत्त्व होते हैं जो आप की स्किन के फ़्री रेडिकल्स से लड़ते हैं और उन्हें खत्म करते हैं। फ्री रेडकल्स आप की स्किन को खराब करते हैं, आप की स्किन का निखार खोते हैं जिससे आप की स्किन में कम उम्र में ही बहुत सी झुर्रियां व एजिंग साइन देखने को मिलते हैं। 

B-ब्रॉड स्पेक्ट्रम : यह एक लेबल है जिसे सन स्क्रीन आदि में प्रयोग किया जाता है। यह आप की स्किन को UVA व UVB जैसी खतरनाक किरणों से बचाता है। अतः इससे आप की स्किन को सन एक्सपोजर व टैनिंग भी नहीं होगी और सूरज की खतरनाक किरणों से कैंसर का खतरा भी नहीं होगा। 

C-कॉन्टेक्ट डरमेटाइटिस : यह एक ऐसी अवस्था होती है जिस में आप को स्किन पर रेडनेस, स्केल, जलन, चुभन आदि होने लगती है खास कर जब आप किसी चीज के संपर्क में आते हैं जैसे मेकअप या स्किन केयर उत्पाद। इस से आप को एलर्जी हो सकती है या जलन, चुभन आदि हो सकता है।

D-डिटॉक्स : जब आप अपनी बॉडी से जहरीले व खतरनाक टॉक्सिंस को निकालते हैं तो इस प्रक्रिया को डेटॉक्सिन कहा जाता है। कुछ उत्पादों की सहायता से आप अपनी बॉडी को डिटॉक्स कर सकते हैं तो कुछ उत्पाद इसके नाम पर आप को भ्रमित भी करते हैं। डिटॉक्स उत्पाद केवल आप की स्किन से जर्म्स व तेल को निकालते हैं। 

E-एम्मोलियांट : यह एक प्रकार के मॉइश्चराइजिंग एजेंट होते हैं जो आप की स्किन के अंदर तक जा कर उस सॉफ्ट व कोमल बनाते हैं। फेस ऑयल जैसे आर्गन ऑयल व जोजोबा ऑयल आप की स्किन के लिए एमोलियांट के रूप में काम करते हैं। इन से आप की स्किन ऑयली नहीं होती है। 

F-फ्रेगरेंस फ़्री : यदि आप की सेंसिटिव स्किन है तो खुशबू वाले पदार्थ आप के लिए जलन या खुजली आदि का कारण बन सकते हैं। इनसे आप की स्किन भी डेमेज होती है। अतः यदि आप फ्रेगरेंस या सुगन्ध मुक्त उत्पादों का प्रयोग करेंगे तो आप को इस प्रकार की कोई तकलीफ नहीं होगी। 

G-गाइकोलिक एसिड : यह अल्फा हाइड्रॉक्सी एसिड का ही एक प्रकार होता है जो गन्ने से निकलता है। यह एक प्रकार से एक्सफोलियांट का काम करता है। यदि आप की स्किन में डैड स्किन आदि इकट्ठी हो जाती हैं तो यह उन्हें आप की स्किन से निकालने में मदद करता है। 

H-हमेक्टांट : यह एक प्रकार का हाइड्रेटिंग तत्त्व होता है जो अक्सर मॉइश्चराइजर में पाया जाता है। यह आप को स्किन को ड्राई होने से बचाता है और यदि आप की स्किन पहले से ही ड्राई है तो यह उस में पानी एड करता है। कुछ एसिड्स जैसे ह्यालुरोनिक एसिड व ग्लिसरीन इसके उदाहरण हैं।

K-करेटोसिस पोलारिस : इसे कभी कभार चिकन स्किन भी कह दिया जाता है। इसमें आप की स्किन में छोटे छोटे लाल रंग के दाने हो जाते हैं। यह नुक़सान दायक नहीं होता है। यह आप के हेयर फॉलिकल में केराटिन इकठ्ठा होने के कारण ऐसा होता है। अतः इससे आप को इन्फ्लेमेशन हो जाता है। 

L-लैक्टिक एसिड : यह भी अल्फा हाइड्रोक्सी एसिड का एक प्रकार है जो अक्सर दूध में पाया जाता है। इसे दूध के अलावा फलों व सब्जियों में भी पाया जाता है। यह भी गाइकॉलिक एसिड की तरह एक प्रकार के एक्सफोलियांत के जैसे काम करता है व डैड स्किन आदि को स्किन से निकालता है।

M-मेलास्मा : यह भी एक चर्म रोग होता है जिसमें आप की स्किन पर ग्रे या ब्राउन रंग के धब्बे हो जाते हैं। यह मुख्य तौर से मुंह पर होते हैं और इनका कारण हार्मोन में बदलाव आना होता है। यह कई बार प्रेग्नेंसी के कारण भी हो जाता है जिसकी वजह से इसे कई बार प्रेग्नेंसी का मास्क भी कहा जाता है।

N-नियासिनमाइड : यह विटामिन बी 3 की एक फॉर्म है जिसे त्वचा पर लगाया जाता है। एक रिसर्च के मुताबिक यह पाया गया है कि नियासिनमाइड पिंपल्स व एजिंग साइंस को ठीक करने में लाभदायक साबित हुआ है। इसके साथ साथ यह पिग्मेंटेशन, झुर्रियों व फाइन लाइन को कम करने के लिए भी बहुत बेहतर है।

O-ऑक्लयुसिव : यह भी एक ऐसा तत्त्व है जो मॉइश्चराइजर में पाया जाता है परंतु यह स्किन को हाइड्रेट नहीं करता है बल्कि स्किन को लॉक कर देता है ताकि हाइड्रेशन आप के स्ट्रातुम कोरेनियम से बाहर न निकल पाए। यह आप को ड्राई स्किन से तो बचाता ही बचाता है पर साथ में आप को एग्जिमा जैसी स्किन कंडीशन से भी बचाता है।

P-पैराबिन : यह स्किन केयर उत्पादों में एक प्रकार का प्रिजर्वेटिव होता है जो उनकी शेल्फ लाइफ को बढ़ाने में मदद करता है ताकि वह जल्दी खराब न हो। परंतु यदि आप की सेनितिव स्किन है तो पैराबीन से आप को कुछ साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं जिनमें से मुख्य है खुजली व सोरायसिस जैसी स्किन कंडीशन। 

R-रोसेसिए : यह एक बहुत आम स्किन कंडीशन है जिसमें आप की स्किन लाल पड़ जाती है। आप को छोटे छोटे लाल रंग के दाने हो जाएंगे या फिर आप की ब्लड वेसल ब्रोक हो जाएंगी। यह किसी भी चीज से हो सकता है जैसे मौसम में बदलाव, आप के द्वारा एक्सरसाइज न करने से, आप के स्किन केयर व खाने पीने आदि से। 

S-एसपीएफ : यह एक प्रकार की सूर्य की हानिकारक किरणों से बचाने वाली प्रोटेक्शन है। परंतु यह बात नोट करने योग्य है कि एसपीएफ आप को केवल यूवीबी किरणों से ही बचाती है और इसमें समय सीमा होती है। यदि आप एक बार एसपीएफ को लगा कर सोचते हैं कि वह पूरा दिन चल जाएगी तो ऐसा नहीं हो सकता। 

T-टोनर : यह एक ऐसा स्किन केयर है जो आप की स्किन के पीएच लेवल को बैलेंस करने में सहायता करता है। आजकल टोनर को एक्टिव इंग्रेडिएंट्स के साथ जैसे एंटी आक्सिडेंट्स व केमिकल एक्सफोलिएटर के साथ मिला कर बनाया जाता है। परंतु यह जरूरी है कि आप अपने स्किन केयर रूटीन में टोनर को शामिल करें।

V-विटामिन सी : यह तत्त्व आप की स्किन में कोलेजन व अन्य महत्त्वपूर्ण कंपाउंड का उत्पादन करने के लिए बहुत आवश्यक है। यह आप की स्किन पर एक एंटी आक्सिडेंट का काम भी करता है और आप को यूवी रेज से बचाता है। यह स्किन में मेलानिन नाम के तत्त्व का उत्पादन भी रोकता है ताकि आप को उससे पिग्मेंटेशन आदि न हो। परंतु विटामिन सी की सभी फॉर्म्स एक जैसी नहीं होती हैं। अतः आप को प्रयोग करने से पहले उसके इंग्रेडिएंट्स को जरूर चैक कर लेना चाहिए। 

यह भी पढ़ें-

स्किन केयर प्रोडक्ट्स जिन के विषय में आपका जाना जरूरी है

कुछ ऐसे स्किन केयर प्रोडक्ट जो शायद काम ही न आयें

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

स्किन टू स्क...

स्किन टू स्किन कंगारू रूटीन के लाभ

स्किन केयर प...

स्किन केयर प्रोडक्ट्स जिन के विषय में आपका...

कुछ घरेलू ची...

कुछ घरेलू चीजों का स्वास्थ्य के लिए प्रयोग...

फर्स्ट एड कि...

फर्स्ट एड किट बनाते समय किन किन बातो का रखें...

पोल

आपको कैसी लिपस्टिक पसंद है

वोट करने क लिए धन्यवाद

मैट

जैल

गृहलक्ष्मी गपशप

टमाटर से फेस...

टमाटर से फेस पैक...

 अगर आपको भी त्वचा से संबंधी कई तरह की परेशानी है तो...

पतले और हल्क...

पतले और हल्के बालों...

 तो सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए आज हम आपको कुछ ऐसा बता...

संपादक की पसंद

टीवी की आदर्...

टीवी की आदर्श सास,...

हर शादीशुदा महिला के लिए करवा चौथ का त्योहार बेहद ख़ास...

मैं एक बदमाश...

मैं एक बदमाश (नॉटी)...

आप लॉकडाउन कितना एन्जॉय कर रही है... मेरे लिए लॉकडाउन...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription