मैं एक बदमाश (नॉटी) किस्म की गृहलक्ष्मी हूं! - सयाली भगत

Richa Mishra Tiwari

9th October 2020

मैं अपने वर्क प्लेस में भी सेम रहती हूं क्योंकि मैं मानती हूं की हम ह्यूमन बिंग्स है हम हमेशा परफेक्ट नहीं रह सकते लेकिन हमें कोशिश ज़रूर करनी चाहिए। इसलिए मैं हर चीज़ को जॉयफुल , लाइटफुल, तरीके से लेने की कोशिश करती हूं।

मैं एक बदमाश (नॉटी) किस्म की गृहलक्ष्मी हूं!  - सयाली भगत

आप लॉकडाउन कितना एन्जॉय कर रही है...

मेरे लिए लॉकडाउन का शुरुआती दौर काफ़ी अच्छा रहा। जिसमें हम रेस्ट कर रहे थे, सारी बातें कर रहे थे और मैं वह सारी चीजें कर रही थी जिसका मुझे टाइम नहीं मिलता था। लेकिन अब इतनी फुर्सत हो गई है कि इस फुर्सत से ही बोरियत लगती है। अब ऐसा लग रहा है कब सारा सब कुछ ठीक हो जाए।

आप अपने आपको किस किस्म की गृहलक्ष्मी मानती है?

मैं एक बड़े ही नॉटी किस्म की गृहलक्ष्मी हूं। क्योंकि सच बताऊ तो मैं कोशिश पूरी करती हूं सारी चीजें ठीक करने की, किचन में पूरा टाइम देने की, हर किसी को अटेंशन देने की लेकिन हर कोई इंसान परफेक्ट नहीं होता ना। इस परफेक्ट से किसी को बुरा लग सकता है कुछ भी हो सकता है। लेकिन मैं तो मुंह पर बोल देती हूं मेरे बस का बस इतना ही है "आई एम सो सॉरी" आप अभी स्माइल से काम चला लो और स्माइल कर देती हूं। इसलिए सब रहते है तू एक बड़ी ही बदमाश (नॉटी) है।

 पर्सनल लाइफ के साथ क्या आप अपनी वर्क लाइफ में भी नॉटी है?

मैं अपने वर्क प्लेस में भी सेम रहती हूं क्योंकि मैं मानती हूं की हम ह्यूमन बिंग्स है हम हमेशा परफेक्ट नहीं रह सकते लेकिन हमें कोशिश ज़रूर करनी चाहिए। इसलिए मैं हर चीज़ को जॉयफुल , लाइटफुल, तरीके से लेने की कोशिश करती हूं। हालांकि मैं काफी सीरियस फ़िल्में करती हूं जैसे हॉरर, इमोशनल, थ्रिलर लेकिन हमेशा मैं अपना मूड लाइट रखने की कोशिश करती हूं। हंसी मजाक को ज्यादा पसंद करती हूं। अगर मुझसे या किसी और से कोई भूलचूक जाए तू मैं इतना माइंड नहीं करती हूं। इसलिए मैं अपने काम पर भी और पर्सनल लाइफ में भी सेम रहती हूं।

 

 आप अपना काम और घर दोनों कैसे संभालती है?

 

मेरे पेरेंट्स और मेरे इनलॉस का मुझे अच्छा सपोर्ट है। तो वह मुझे घर में और बच्चे के साथ हेल्प कर देते हैं। साथ ही मेने अपने टाइमिंग बहुत ही सपेसिफिक कर रखें हैं। मैं महीने में कम से कम 10 से 12 दिन अपने वर्क के लिए देती हूं। बाकि का टाइम मैं वर्क फ्रॉम होम करती हूं, उसके लिए मैं सुबह जल्दी उठकर में 4-5 घंटे अपना काम कर लेती हूं। उसके बाद मेरी बच्ची का उठने का समय होता है तो उसके साथ में अपना टाइम बिताती हूं। उसके बाद जब वह दोपहर में सो जाती है तो मैं उसके साथ आधा घंटा रेस्ट कर के फिर से अपने काम में लग जाती हूं। इस तरह से में वर्क फॉर्म होम करती हूं ऑर्डर जो में 10-12 डे देती हूं उसमें मैं हस्बैंड, स्पेशली मेरे इनलॉस का मुझे अच्छा खासा सपोर्ट है इसलिए में बैलेंस करके चलती हूं और मेरे हस्बैंड सपोर्टिव होने के साथ-साथ एक अच्छे फादर भी है इसलिए मेरी बेटी मुझे ज्यादा मिस नहीं करती हैं।

 

बच्ची को संभालना और वर्क फ्रॉम होम करने पर जब आप थक जाती है तब क्या करती हैं?

जब मेरी बेटी छोटी थी तब थोड़ी परेशानी होती थी लेकिन अब 2 साल के होने के बाद थोड़ी चीज़े आसान हुई है। मैं अपनी बच्ची को कुछ भी क्रिएटिव करने को दे दू या उसको समझा दू कि ऐसा करना है तो वह उन चीज़ों में काफ़ी ज़्यादा इंट्रेस्ट लेती है। उसे सबसे ज़्यादा रोटी बनाना पसंद है तो वह आटा भी बना लेती है और रोटी भी बना लेती है। इन साडी चीज़ों के साथ में उसे बिजी रखती हूं। दूसरा में वर्क फॉर्म होम करती हूं तो मुझे टीम की बहुत ज्यादा जरुरत नहीं पड़ती है क्योंकि ये क्रिएटिव फील्ड है। इसमें बहुत ज़्यादा आप सोच रहे हो लिख रहे हो तो आपको एक पर्सनल स्पेस चाहिए होता है। वहीं में ये सारी चीज़े पहले से ही रेडी रख लेती हूं और फिर जो डिस्कर्शन का जो 1 घंटा है उस एक घंटे में मैं इस तरह प्लान करती हूं कि मेर बेटी जो है वह गार्डन में साइकिल चला लेगी और में उस एक घंटे में मैं सबसे साथ मीटिंग कर लुंगी। इस तरह से में हर रोज कुछ ना कुछ नया प्लान करती हूं। साथ ही मैं ये पूरी कोशिश करती हूं की इन सबसे में घर किचन और हस्बैंड को अटेंशन दे सकू। मैं थोड़ा-सा मैं स्लीप कम्प्रोमिज कर लेती हूं। लेकिन मैं आपको भी ये सुझाव देना चाहती हूं कि जब थोड़ा-सा टाइम मिले तो मैडिटेशन करो इससे आपकी पूरी बॉडी फ्रेश हो जाती है। अगर आप थोड़ा-सा नींद भी कम्प्रोइज कर लेते हो तब भी आप फ्रेश महसूस करोगे।

 

सांसु मां के लिए आप किस तरह की गृहलक्ष्मी है और किस तरह की बॉन्डिंग आप उनसे शेयर करती है?

मेरा मानना है कि मेरी मदर इन लॉ काफी ज्यादा सपोर्टिव है मेरी उनके साथ काफी अच्छी बॉन्डिंग है मैं उन्हें कभी बर्डन नहीं देती। अगर मुझे काम होता है तो ऐसा नहीं कि मैं पूरा काम उन पर डाल देती हूं। मैं उनसे कहती हूं सुबह का खाना आप देख लो, रात का मैं देख लूंगी। ऐसे में मैं उनके साथ सारी रेस्पोंसबिलिटी शेयर करती हूं। इस तरह हमारा रिश्ता आगे बढ़ता है और हमारा रिलेशनशिप हमेशा बना रहता है।

क्या कभी आपने सांसु मां से डाट खाई है ?

हां 2-3 बार खाई है। लेकिन मम्मी जैसी है तो ठीक है और हम तो ज्वाइन फैमिली में रहते है तो ये मेरे लिए कोई इतनी बड़ी बात नहीं है।

पति के लिए कैसी गृहलक्ष्मी है आप और उनके साथ आप कैसी बॉन्ड शेयर करती है ?

मैं अपने हस्बैंड के लिए एक स्ट्रिक्ट टाइप की गृह लक्ष्मी है। क्योंकि मेरे हस्बैंड एक तरह से वर्कहोलिक है इसलिए वह हमेशा ज्यादा से ज्यादा काम करने के बारे में सोचते हैं। इसलिए मैं उन्हें कहती रहती हूं अब यह हो गया बस!! मैं उन्हें वर्क से खींच लाने की कोशिश करती हूं। यदि मुझे मॉल जाना है या पिक्चर जाना है या शॉपिंग पर जाना है तो मैं उन्हें कहती हूं कि नो नो पहले आ जाओ डोंट नो एनीथिंग बस।

क्या कभी उन्होंने आपको डाटा है?

नो नो ही इस वैरी स्वीट, हां लेकिन वेट जरूर करवाते हैं। अगर में नीच पहुंच जाऊ या ऑफिस चले जाऊ तो वेट जरूर करवाते हैं।

कैसे आप अपने पति के साथ टाइम स्पेंड करती है?

उनके साथ टाइम स्पेंड करने के लिए मूवी और शॉपिंग तो है ही लेकिन इसी के साथ हम दोनों को एक जगह पर बैठकर टाइम स्पेंड करना बेहद पसंद है। कई बार हम दोनों कहीं पर भी बैठकर ज्यूस पीने के लिए या फिर कॉफी पीने के लिए बैठते हैं तो हम घंटो-घंटो तक बात करते ही रहते हैं हमें पता ही नहीं चलता है। हम लगभग शहर के सारे कैफेटेरिया ढूंढ लेते हैं जहां से बाहर का नजारा काफी अच्छा दिखाई देता हो। हमें लेट नाइट इवनिंग ज्यादा नहीं पसंद इसलिए हम शाम के समय सनसेट के वक्त ज्यादातर घूमने जाते हैं।

 

आप अपने पति के साथ ऐसी कौनसी प्लेस पर टाइम स्पेंड करना पसंद करती है?

हमें टाइम स्पेंड करने के लिए जुहू बीच बहुत पसंद है क्योंकि चाहे फिर ड्राइव करते टाइम यहां से निकलो या फिर बीच पर वॉक करो या बीच पर किसी कैसे में बैठो और वहां का नजारा देखो हमें बहुत पसंद है। हमने हमारी शादी की प्लेस भी व्यू के कारण ही चूस की थी और वह प्लेस भी जुहू बीच के सामने ही थी। हमारी शादी प्रिंस पैलेस में हुई थी तो हम कभी-कभी यादें ताजा करने के लिए उस कैफ़े में भी चले जाते हैं और वहां टाइम स्पेंड करते है।

आप अपनी बेटी के लिए कैसी मां है और कैसे उसके साथ टाइम स्पेंड करती है ?

मेरा मानना है कि मैं एक नाइस तरह से स्ट्रिक्ट वाइफ तो है साथ ही मैं एक लीनियंट मदर भी हूं। मैं अपनी बेटी को पूरा सपोर्ट करती हूं। इस वजह से मुझे घर के लोग कई बार डांटते भी हैं और कहते हैं की इतना भी इजी नहीं रहना चाहिए तू बच्ची को बिगाड़ देगी। लेकिन मेरे लिए यह बहुत जरूरी है कि मेरा बच्चा अपने आप में कंपटीशन रखें ना की किसी और से।

जब आप बच्ची को डाटती है तो अपने इन लॉस  क्या बोलते हैं?

जब मैं मेरी बच्ची को चिलाती हूं तो घर वाले मुझे बोलते हैं प्लीज उसको ऐसे मत बोलो, प्लीज ये मत करो। मैं हमेशा चीज़ों को बैलेंस करके चलती हूं मैं इसे कभी भी इंबैलेंस नहीं होने देती हूं। मेरा मानना है कि अगर अपने डाटा है और आपको रात में अच्छे से नींद आ रही है तो सब ठीक है आपने कुछ गलत नहीं किया है लेकिन आपको अगर बुरा लग रहा है तो फिर थोड़ा सा टोन डाउन कर देना चाहिए।

आप अपने दोस्तों के लिए कैसी गृहलक्ष्मी है और उनके साथ आप कैसे वक्त बिताती है?

मेरा मानना है कि मैं एक मैच्योर टाइप की फ्रेंड हूं। क्योंकि मेरा कोई फ्रेंड मुझे मुश्किल वक्त में याद करता है तो यदि मुझे उन्हें समझाना रहता है या फिर उन्हें कुछ बताना रहता है तभी मैं उनका सपोर्ट करती हूं। मैं अपने फ्रेंड्स को टाइम देने की कोशिश करती हूं लेकिन हमेशा नहीं हो पाता। कभी-कभी मैं दोस्तों के साथ घूमने जाती हूं और सबसे खास बात यह है कि अभी लॉकडाउन में हमने ऑनलाइन ही पार्टी की और फ्रेंडशिप की बोंड को एंजॉय किया। ऐसे ही हमने लॉकडाउन में टाइम स्पेंड किया।मैं दोस्तों के साथ घूमने जाती हूं अभी लॉकडाउन में हमने ऑनलाइन डांस पार्टीज भी कि, किसी का प्रमोशन होता तो सब बोलते चलो ऑनलाइन ही पार्टी कर लेते हैं, ऐसे ही हम दंशराज खेल लेंगे तो ऐसे ही हमने शार्ट में पार्टी की और टाइम स्पेंड किया।)

आप किचन में किस टाइप की गृहलक्ष्मी है और सबको खुश करने के लिए किस टाइप की चीज़े बनती है ?

मेरा मानना है की मैं एक बोसी टाइप की गृहलक्ष्मी हूं। क्योंकि मैं मैड को बोलती हूं ये ऐसा नहीं ऐसा बनना चाहिए। लेकिन जब मैं बनाती हूं तो बोलती हूं जैसा भी बना है खा लो। कम्प्लेन ना करो। मेने इतनी मेहनत कर के 2 घंटे टाइम निकालकर ये बनाया है। अच्छा लगे तो बताना और अच्छा ना लगे तो प्लीज चुप चाप खा लेना। वैसे मैं किचन में रोज नहीं जाती हूं लेकिन मैं सब चीज़ पर ध्यान रखती हूं। मॉनिटर करती हूं।

आप हमारे दर्शकों के लिए ब्यूटी टिप्स क्या शेयर करना चाहेंगी?

मैं पहले अपनी ब्यूटी टिप्स और दूसरे प्रोडक्ट्स पर काफी ध्यान देती थी। लेकिन लॉकडाउन के बाद से ही मेने अपने फंडे चेंज कर दिए है। मैं आयुर्वेदा इंडियन ट्रेडिशन को बहुत ज्यादा मानने लगी हूं। इनके काफी ज्यादा फायदे है। इसके लिए 2 3 चीज़ें है जिन्हें इस्तेमाल चाहिए।

ग्रीन टी - इससे स्किन, हेयर, वाइटालिटी, एनर्जी, पेट और हेल्थ बहुत अच्छी रहती है और ये इम्युनिटी के लिए भी बहुत अच्छी होती है।

हल्दी - हल्दी को हम दूध में चाय में तो लेते ही है। इसको आप ग्रीन टी में भी ले सकते हैं। मैं भी लेती हूं। ये स्किन के ग्लो के लिए, क्लीन्सिंग के लिए बेहद अच्छे होते हैं। साथ ही इम्युनिटी के लिए भी ये काफी अच्छा माना जाता है। इसको आप फेस पर भी लगा सकते हैं। क्योंकि मेरे लिए ये काफी अच्छा साबित हुआ है।

गरम पानी - गर्म पानी से फेट काफी ज्यादा कम होता है। इससे आपका फैट कम होता है। ये बेहद अच्छा होता है। इसको आप एक्सरसाइज कर के के दौरान लेने से आपका वेट लॉस काफी तेजी से होता है।

आप हमारे दर्शकों को क्या फैशन टिप्स देना चाहेंगी।

मेरा मानना है कि हमें अपने लिए भी तैयार होना चाहिए। इसके लिए आपको जो जो चीज़े अच्छी लगती है आप वो सब चीज़े पहन लो सब अच्छा लगेगा। वहीं यदि आप घर में रह रही है और कम्फर्टेबल कपड़े पहनना पसंद करती है तो साथ ही में आप कुछ ना कुछ छोटा मोटा ऐसेजराइस (सजना सवारना) जरूर करें। थोड़ा मेकअप लगाएं। एक अच्छी लिपस्टिक लगाए। इससे आप घर बैठे भी अच्छी लगेगी और आप को खुद को सुंदर महसूस करा सकती है।

आप अपने आप को फिट रखने के लिए क्या करती है और कैसी डाइट फॉलो लेती है?

मेरा मानना है कि हम हमेशा ही डाइट को फॉलो नहीं कर सकते हैं। लेकिन खुद को फिट करने के लिए सबसे जरुरी है पोषण कंट्रोल और अर्ली डिनर। यानि जल्दी खाना खाना और खुद को मैंटेन रखना। मैं खुद को फिट रखने के लिए लगभग 7 बजे तक खाना खा लेती हूं और दूसरे दिन सुबह उठकर 6 से 7 बजे के बीच एक कप ग्रीन टी ले लेती हूं साथ ही कॉफी सुबह 10 बजे तक लेती हूं। इसके अलावा मैं 3 से 4 बार वर्कआउट करती हूं। मैं एक्सरसाइज में हिट वर्कआउट करती हूं। इससे पूरी बॉडी की एक्सरसाइज हो जाती है।

आप अपने मी टाइम में क्या करती हैं और कैसे उसे स्पेंड करती है?

मेरा मानना है कि मेरा मी टाइम मेरे लिए रीडिंग है। क्योंकि मुझे रीडिंग करना बहुत पसंद है। मैं सोने से पहले भी बुक रीड करती हूं। साथ ही थोड़ी टीवी देख लेती हूं और कुछ ना कुछ काम कर लेती हूं या फिर मां पापा से फ़ोन पर बात कर लेती हूं। कुछ ऐसे ही मैं अपना मी टाइम स्पेंड करती हूं।

फ्यूचर में आप अपने आप को कैसा देखती है?

मेरा मानना है कि मैं अपने आप को ओटीटी प्लेटफार्म पर देख रही हूं क्योंकि लोग अभी इन्ही सब चीज़ों को ज्यादा पसंद कर रहे हैं और मैं भी इन ही स्किल्स पर काम कर रही हूं। अभी मैं वेबसेरीज पर काम कर रही हूं तो अभी सब चीज़ों को देखते हुए कुछ नया कंटेंट बनाने की कोशिश चल रही है। मैं इसमें प्रोडूसर बनकर भी काम देख रही हूं।

आप दर्शकों को क्या मैसेज देना चाहेंगी -

मैं सारी गृहलक्ष्मियों को बोलना चाहती हूं कि "हमें अपने आप को नहीं भूलना है, नेवर फॉरगेट टू लव योर सेल्फ ऑलवेज लव योर सेल्फ़"

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

मैं चुलबुली ...

मैं चुलबुली ,नटखट और ड्रामेबाज टाइप गृह लक्ष्मी...

मैं एक वर्कि...

मैं एक वर्किंग गृहलक्ष्मी हूं!! - उर्वशी...

मैं एक ट्रें...

मैं एक ट्रेंडी किस्म की गृहलक्ष्मी हूं! -...

मैंने किसी क...

मैंने किसी को थप्पड़ नहीं मारा - तापसी पन्नू...

पोल

आपको कैसी लिपस्टिक पसंद है

वोट करने क लिए धन्यवाद

मैट

जैल

गृहलक्ष्मी गपशप

टमाटर से फेस...

टमाटर से फेस पैक...

 अगर आपको भी त्वचा से संबंधी कई तरह की परेशानी है तो...

पतले और हल्क...

पतले और हल्के बालों...

 तो सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए आज हम आपको कुछ ऐसा बता...

संपादक की पसंद

टीवी की आदर्...

टीवी की आदर्श सास,...

हर शादीशुदा महिला के लिए करवा चौथ का त्योहार बेहद ख़ास...

मैं एक बदमाश...

मैं एक बदमाश (नॉटी)...

आप लॉकडाउन कितना एन्जॉय कर रही है... मेरे लिए लॉकडाउन...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription