शिकारी और कबूतर - पंचतंत्र की कहानियां

गृहलक्ष्मी कहानी

23rd November 2020

एक बार कबूतरों का झुंड घर से खाने की तलाश में निकला। मीलों लंबी उड़ान के बाद वे सब थक गए थे। तभी कबूतरों को बरगद के पेड़ के नीचे चावल के दाने बिखरे दिखाई दिए।

शिकारी और कबूतर - पंचतंत्र की कहानियां

कबूतरों के राजा ने कहा- "आओ, दोस्तों, चावल खाएँ। वे सब मिल कर चावल खाने लगे।" ज्यों ही वे चावल खाने लगे, एक बड़ा सा जाल ऊपर गिरा। सभी कबूतर उसमें फँस गए। "अरे हम तो पकड़े गए" राजा चिल्लाया "अब हम क्या करेंगे?"

अगले ही पल, उन्होंने एक शिकारी को आता देखा। "इससे पहले कि शिकारी हमें मार डाले, जल्द ही कुछ करना चाहिए।" कबूतरों के राजा ने कहा। सभी कबूतर काफी डरे हुए थे। कबूतरों का राजा बड़ा बुद्धिमान था। उसने अपना दिमाग ठंडा रखा। उसने कहा-"मेरे पास एक उपाय है।

हमें मिल कर काम करना चाहिए। हम इस जाल को एक साथ ले कर | उड़ जाएंगे। याद रखो, हम सबको एक रहना चाहिए।"

हर कबूतर ने अपनी चोंच से जाल उठा लिया। और इस तरह वे सब जाल ले कर उड़ गए। शिकारी पक्षियों को देख कर हैरान था, जो जाल को मुँह में दबाए उड़े जा रहे थे। वह काफी दूर तक उनके पीछे भागा, लेकिन उन्हें पकड़ नहीं सका।

वे पहाड़ियों और घाटियों के ऊपर से होते हुए, एक नगर के पास पहुँचे। वहाँ कबूतर राजा के पुराने दोस्तों में से एक चूहा रहता था। कबूतर राजा ने कहा- "यहाँ रहने वाला चूहा मेरा अच्छा दोस्त है। वह हमारी मदद अवश्य करेगा।" राजा की आवाज़ सुन कर चूहा बिल से बाहर आ गया। कबूतरों के राजा ने चूहे से कहा कि वह जाल को दाँतों से काट कर उन्हें आजाद कर दे।

चूहा तेजी से जाल कुतरने लगा, सभी कबूतर एक-एक करके आजाद होने लगे। वे सब आजाद हो कर बहुत खुश हुए। उन सबने जान बचाने के लिए चूहे को धन्यवाद दिया और अपने घर की ओर उड़ गए।

शिक्षा :- यदि हम एक हों, तो कोई भी हमारा कुछ नहीं बिगाड़ सकता।

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

लोगों पर छोड...

लोगों पर छोड़ें प्रभाव

मेरी बीवी की...

मेरी बीवी की शादी का सच

कहानी--- मां...

कहानी--- मां....

दयालु साधु :...

दयालु साधु : विक्रम बैताल की कहानियाँ

पोल

आपको कैसी लिपस्टिक पसंद है

वोट करने क लिए धन्यवाद

मैट

जैल

गृहलक्ष्मी गपशप

6 बेहतरीन बॉ...

6 बेहतरीन बॉडी केयर...

6 बेहतरीन बॉडी केयर टिप्स

24 घंटे में ...

24 घंटे में समझें...

अवध की तहजीब का शहर है लखनऊ। इस शहर में मॉडर्न दुनिया...

संपादक की पसंद

क्या आप सौंद...

क्या आप सौंदर्य...

सौंदर्य प्रतियोगिता अपने आप को सर्वश्रेष्ठ साबित करने...

महिलाओं और प...

महिलाओं और पुरुषों...

महिलाओं और पुरुषों में सेक्स और वर्जिनिटी की धारणा...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription