नीला सियार: पंचतंत्र की कहानी

गृहलक्ष्मी टीम

24th November 2020

एक बार सियार भोजन की तलाश में यहाँ-वहाँ भटक रहा था। लेकिन उसे खाने को कुछ नहीं मिल सका। थका हुआ और भूखा सियार भटकते-भटकते शहर में जा पहुंचा।

नीला सियार: पंचतंत्र की कहानी
अचानक उसने कुछ कुत्तों के भौंकने की आवाज़ सुनी। वह अपनी जान बचाने के लिए भागा और एक रंगसाज के घर घुस गया। घर के आँगन में नीले रंग से भरा टब पड़ा था। सियार उसमें गिर पड़ा।
वह कुत्तों के लौटने तक उसी में छिपा रहा। जब वह टब से निकला तो अपना नीला रंग देख कर हैरान रह गया। वह काफी अलग दिख रहा था। वह झट से जंगल की ओर चल दिया। उसे देख-देख कर जानवर डर के मारे इधर-उधर भागने लगे। उन्होंने नीले रंग का विचित्र सा जानवर पहले कभी नहीं देखा था। यह देख कर सियार के दिमाग में एक योजना आई। उसने सभी जानवरों से कहा - "तुम डर क्यों रहे हो। मेरे पास आओ और बात सुनो।"
हिचकते हुए, एक-एक जानवर उसके पास जाने लगा। सियार बोला -"डरो मत! ईश्वर ने मुझे तुम्हारा राजा बनाने के लिए यहाँ भेजा है। मैं तुम सबकी रक्षा व देखभाल करूँगा।" सभी जानवरों ने उस पर विश्वास कर उसे अपना राजा मान लिया। सियार ने शेर को अपना मंत्री, चीते को सहायक और भेड़िए को दरबान नियुक्त किया। वे सब राजा को अच्छा-अच्छा भोजन भेजते। सियार खुशी-खुशी रहने लगा।
एक दिन सियार ने सभी जानवरों की सभा बुलाई थी। तभी थोड़ी दूरी पर शोर सुनाई दिया। सियारों का एक झुंड 'हुँआ-हुँआ' की आवाजें निकाल रहा था। अपने साथियों की आवाजें सुन कर सियार बहुत प्रसन्न हुआ, - आँखों में खुशी के आँसू आ गए। वह भूल गया कि वह अब राजा है, वह भी मुंह ऊँचा करके जोर-जोर से हुआ-हुँआ करने लगा। जल्दी ही, सारे जानवर जान गए कि उनका राजा कोई और नहीं सिर्फ एक सियार था। जो बहुत समय से उन सबको ठगता जा रहा था। वे सब गुस्से में आकर उसके पीछे भागे और उसके । टुकड़े-टुकड़े कर दिए। वह वहीं मारा गया।

शिक्षा:-जो तुम नहीं हो, वह बनने की कोशिश मत करो।

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

संगीतज्ञ गधा...

संगीतज्ञ गधा : पंचतंत्र की कहानी

बहुरूपिया

बहुरूपिया

हिन्दी उपन्य...

हिन्दी उपन्यास पुतली (पार्ट-2)

जै हो गैया म...

जै हो गैया मैया की

पोल

आपको कैसी लिपस्टिक पसंद है

वोट करने क लिए धन्यवाद

मैट

जैल

गृहलक्ष्मी गपशप

6 बेहतरीन बॉ...

6 बेहतरीन बॉडी केयर...

6 बेहतरीन बॉडी केयर टिप्स

24 घंटे में ...

24 घंटे में समझें...

अवध की तहजीब का शहर है लखनऊ। इस शहर में मॉडर्न दुनिया...

संपादक की पसंद

क्या आप सौंद...

क्या आप सौंदर्य...

सौंदर्य प्रतियोगिता अपने आप को सर्वश्रेष्ठ साबित करने...

महिलाओं और प...

महिलाओं और पुरुषों...

महिलाओं और पुरुषों में सेक्स और वर्जिनिटी की धारणा...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription