वुलन एलर्जी के कारण, लक्षण और निवारण

अर्पणारितेश यादव

14th January 2021

ऊनी कपड़ों को पहनने पर होने वाली एलर्जी को ही वूलन एलर्जी कहते हैं। इससे बचाव आसान है, आइए लेख से जानें इसके कारण, लक्षण और निवारण।

वुलन एलर्जी के कारण, लक्षण और निवारण

वुलन पहनते ही अगर आपके चेहरे पर रेडनेस, स्वैलिंग, नाक बंद होना, स्किन पर खुजली और रैशेज आना जैसी दिक्कतें आ जाती है तो समझ जाइए कि आपको वुलन एलर्जी है। ये कई दिन तक स्किन पर बने रहते हैं। और जैसे ही एक बार ठीक होने लगते हैं। तो फिर से बॉडी पर आ जाते हैं। आमतौर पर यह प्राब्लम हाथों और पैरों में अधिक देखने को मिलती है। डॉ. करूणा मल्होत्रा कहती है कि 'आमतौर पर जो किसी न किसी प्रकार की एलर्जी से ग्रस्त रहते है, उन्हें वुलन एलर्जी की समस्या अधिक होती है। यह एलर्जी वुलन और स्किन हेयर के बीच होने वाले खिचाव की वजह से होती है। उस जगह की स्किन रेड हो जाती है और छोटे-छोटे दाने निकलने लगते हैं, जिनमें लगातार खुजली होती रहती है। ङ्क्षवटर में वुलन एलर्जी होने की एक और वजह स्किन का वुलन के सीधे सम्पर्क में आना भी है। इससे अॢटकेरिया की प्रॉब्लम होती है। इससे अफेक्टेड एरिया की स्किन रेड हो जाती है। और जलन के साथ बहुत ज्यादा खुजली होती है। वही कुछ लोगों की वुलन कपड़े पहनते ही नाक बहने लगती है और आंखों में हमेशा पानी बना रहता है। लोग सोचते है कि कोल्ड हो गया है, जब कि यह  स्किन एलर्जी की वजह से होता है।

डॉक्टर्स के मुताबिक, यह एलर्जी आमतौर पर उन्हीं लोगों को होती है, जिनकी स्किन सेंसिटिव होती है। ज्यादातर महिलाओं, बच्चों और बूढ़ों को यह प्रॉब्लम होती है। दूसरी वजह स्किन का ड्राई होना है। 

क्या है उपाय

डॉक्टर करूणा मल्होत्रा कहती हैं कि 'वुलन एलर्जी का कोई परमानेंट इलाज नहीं है। हां थोड़े समय के लिए दवाइयों से राहत मिल जाती है, लेकिन असर खत्म होते ही वह फिर से हो जाती है। जिन्हें वुलन एलर्जी की समस्या ज्यादातर होती है। वो फुल स्लीव्स के कॉटन इनर वियर पहनें। इससे स्किन वुलन के सीधे टच में नहीं आएगी और एलर्जी से बचा जा  सकेगा। ऐसे लोगों को बाकी लोगों के बजाय ज्यादा गर्म कपड़े पहनने की भी जरूरत होती है। सभी वुलन कपड़ें एलर्जी की वजह नहीं बनते। कुछ ही वुलन ऐसी होती है। इसलिए अगर आप यह समझ लें कि कौन सी वुलन से आपको दिक्कत हो रही है तो आप इस दिक्कत से बच सकते हैं। इसके अलावा, वुलन पहनने से पहले स्किन पर कोल्ड क्रीम मल लें।

  • साथ ही साथ वुलन एलर्जी से बचने के लिए मॉइश्चराइजर का यूज रेग्युलर करना चाहिए। नहाने के बाद पूरी बॉडी में मॉइश्चराइजर लगाने से काफी राहत रहती है। मॉइश्चराइजर युक्त साबुन का ही इस्तेमाल करें।
  • एलर्जी वाली स्किन पर आलिव ऑयल की मसाज बेहद फायदेमंद होती है।
  • मॉइश्चराइजर युक्त साबुन का ही इस्तेमाल करें।
  • एक विटामिन ई युक्त नाइट क्रीम लें और उससे अपनी बॉडी और फेस को मॉइश्चराइजर करें।
  • बहुत गर्म पानी से न नहाएं।
  • हल्के गिले शरीर में मॉइश्चराइजर का उपयोग करें।
  • ड्राई स्किन के लिए ग्लिसरीन और गुलाब जल मिलाकर मॉइश्चराइजर के तौर पर लगा सकते है।

यह भी पढ़ें -उन खरीदते समय ध्यान रखें इन बातों का

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

वुलन एलर्जी ...

वुलन एलर्जी से ऐसे बचें

क्या आप भी स...

क्या आप भी स्किन केयर की कुछ ए टू जेड टर्म्स...

बट एक्ने को ...

बट एक्ने को कहें गुड बाए

बगलों में हो...

बगलों में होने वाली खुजली से कैसे पाएं छुटकारा...

पोल

आपको कैसी लिपस्टिक पसंद है

वोट करने क लिए धन्यवाद

मैट

जैल

गृहलक्ष्मी गपशप

कोरोना काल म...

कोरोना काल में आज...

शक्ति का नाम नारी, धैर्य, ममता की पूरक एवम्‌ समस्त...

मनी कंट्रोल:...

मनी कंट्रोल: बचत...

बचत करना जरूरी है लेकिन खर्च भी बहुत जरूरी है। तो बात...

संपादक की पसंद

कोलेस्ट्रॉल ...

कोलेस्ट्रॉल कम करने...

कोलेस्ट्रॉल कम करने के आसान तरीके

सिर्फ एक दिन...

सिर्फ एक दिन में...

एक दिन में कोई शहर घूमना हो तो आप कौन सा शहर घूमना...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription