8 मिठाइयां जो बनती है सब्जियों से, जानिए रेसिपी

Sonal Sharma

22nd March 2021

अगर आप कुछ चेंज चाहते हैं तो सब्जियों से बनी मिठाइयां खा सकते हैं।

8 मिठाइयां जो बनती है सब्जियों से, जानिए रेसिपी

Sweets made from vegetables

सेहत बनाए रखनी है तो अपने आहार में लाल, पीली सब्जियां, हरी पत्तेदार सब्जियां जरूर शामिल करना चाहिए। यूं तो आप घर में सब्जियों से नमकीन, तीखे और मसालेदार आइटम जरूर बनाते होंगे, लेकिन सब्जियों से मिठाइयां बनाने के बारे में कम ही सोचते हैं अगर आप कुछ चेंज चाहते हैं तो सब्जियों से बनी मिठाइयां खा सकते हैं। मान लीजिए अगर आपके घर वाले किसी दिन लौकी की सब्जी नहीं खाना चाहते है, उनके लिए लौकी की लड्डू की रेसीपी लेकर आए है। इसी तरह कद्दू का पेठा भी बहुत पसंद करते हैं। गाजर का हलवा तो आप घर पर बनाकर खाया ही होगा लेकिन इस बार आप गाजर की बर्फी भी बनाकर ट्राय कर सकते हैं। प्याज और टमाटर को वैसे तो सब्जियों के मसाले बनाने में ही इस्तेमाल करते सुना होगा, लेकिन इस बार प्याज का हलवा और टमाटर की बर्फी बनाइए। परवल की मिठाई भी ज़रूर ट्राय करें। इसी तरह लहसुन का सेवन शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए ज़रूरी है, तो क्यों न इसे केवल सब्जियों में डालने की बजाए लहसुन की मिठाई के रुप में खीर बनाकर खाएं। शकरकंद की ब्राउनी बच्चों को खिलाकर तो देखिए। आप इन रेसिपी को ज़रूर ट्राय करें और वाह-वाही लूटें।

कद्दू का पेठा

सामग्री

2 किलो सफेद पका कद्दू

1.5 किलो शक्कर

2 टी स्पून चूना

पानी आवश्यकतानुसार

विधि

कददू के चाकू से काटकर छिलके उतारकर पीस करके फ़ोक से पीस में छेद करें। एक बर्तन में 2 लीटर पानी और चूना डालकर मिला लें। कद्दू के पीस डालकर 10-12 घंटे के लिए ढ़ककर रखें।

कद्दू के पीस का पानी निकालकर अच्छे पानी से कद्दू को साफ पानी से धोकर एक प्लेट में निकाल लें। 

एक तपेले में पानी डालकर गैस को तेज आंच पर चालू करें। पानी में उबाल आ जाने पर कद्दू के पीस डालकर 20-25 मिनट तक तेज आंच पर उबालें।

ध्यान रहे कि कददू को उबालने के लिए इतना पानी होना चाहिए कि कददू के पीस सारे पानी में डूब जाए। उबल जाने पर कददू के पीस को छलनी पर निकाल कर सारा पानी निकालें।

एक चौड़े बर्तन में 3 कप पानी और शक्कर डालकर चम्मच से शक्कर को मिलाए। एक उबाल आ जाने पर उबले कददू के पीस डालकर चाशनी गाढ़ी होने तक उबालें और 10-12 घंटे के लिए चाशनी में ही रहने दें।

चाशनी फिर पतली हो जाएगी तो एक बार फिर तेज आंच पर चाशनी गाढ़ी होने तक पकाएं। एक बोल पर छलनी रखकर एक-एक करके कद्दू के पेठे को रखकर कम से कम 7-8 घंटे के पंखे में सुखाएं। अब जितनी ज्यादा देर सुखाऐंगे उतने ज्यादा दिन रखकर खा सकते हैं।

लौकी के लड्डू

सामग्री       

500 ग्राम लौकी

250 ग्राम शक्कर

½ कप खोपराबुरा

ड्रायफ्रूट्स आवश्यकतानुसार

विधि

लौकी के छिलके चाकू से उतारें और फिर किसनी में किसकर कददू कस के लौकी का पानी हाथों से दबाकर निकालें। एक पेन में घी डालकर गैस को तेज आंच पर चालू करें।

घी गर्म हो जाने पर किसी लौकी डालकर चम्मच से चलाकर 3-4 मिनट भुनें। भुन जाने पर शक्कर डालकर पानी सूखा जाने तक भुनें और कटे ड्रायफ्रूट्स डालकर मिला लें।

अब गैस को बंद करके भुनी लौकी ठंडी होने दें। ठंडा हो जाने पर खोपराबुरा मिलाकर हाथों पर घी लगाकर लड्डू बनाकर तैयार करें।

गाजर की बर्फी

सामग्री

1 किलो गाजर

1 कप सूजी

1 कप दूध

2 कप शक्कर

½ टी स्पून इलायची पाउडर

½ कप मिल्क पाउडर  

ड्रायफ्रूट्स आवश्यकतानुसार

विधि

गाजर के चाकू से छिलके उतारकर पानी से धोकर साफ करके छोटे-छोटे पीस करके मिक्सर के जार में दरदरा पीस लें।

एक पेन में सूजी डालकर गैस मध्यम आंच पर चालू करें। और सूजी को धीमी आंच पर चम्मच से चलाते हुए 3-4 मिनट के लिए भुनकर एक बोल में निकालें।

उसी पेन में घी में गाजर डालकर धीमी आंच पर पानी सूख जाने तक पकाएं। गाजर के पक जाने पर दूध डालकर चम्मच से चलाते हुए पकाकर शक्कर डालकर चम्मच से चलाएं।

शक्कर पिघल जाने पर भूनी सूजी इलायची पाउडर डालकर चम्मच से मिलाएं। गाजर पक जाने पर मिल्क पाउडर डालकर मिलाकर ट्रे में घी लगाएं। गाजर का पेस्ट डालकर ट्रे में फैलाकर ऊपर से कटे ड्रायफ्रूट्स डालें। अपने पंसद के आकार की बर्फी काटकर बनाकर इस बर्फी को आप 10-15 दिन के लिए रखकर खा सकते हैं।

प्याज का हलवा

सामग्री

500 ग्राम प्याज

4 टेबल स्पून घी

¾ कप दूध

4 टी स्पून कंडेन्स मिल्क  

2 टेबल स्पून शहद

¼ टी स्पून वेनिला ऐंसेस

6-7 केसर के धागे

ड्रायफ्रूट्स आवश्यकतानुसार

विधि

प्याज के चाकू से छिलके उतारकर छोटे-छोटे पीस करें। एक पेन में घी डालकर गैस को तेज आंच पर चालू करें। घी गर्म हो जाने पर प्याज डालकर धीमी आंच पर गोल्डन ब्राउन होने तक पकाएं।

पक जाने पर एक टीशू पेपर पर फैलाकर ठंडा होने दें। एक बोल दूध में केसर डालकर कुछ देर के लिए भिगोकर रखें। मिक्सर के जार में भुनें प्याज में दूध डालकर दरदरा पीसें।

पेन में घी डालकर धीमी आंच पर प्याज को भुन लें। फिर दूध डालकर उबाल आ जाने पर शक्कर पिघल जाने पर कंडेन्स मिल्क, वेनिला एसेंस और इलायची पाउडर डालकर पकाकर प्याज का हलवा तैयार करें। एक सर्विंग बोल में निकाल कर ऊपर से कटे ड्रायफ्रूट्स डालकर गरमा-गरम सर्व करें।

टमाटर की बर्फी

सामग्री

3-4 टमाटर

1 कप खोपराबुरा

1½ कप शक्कर  

½ टी स्पून इलायची पाउडर

1 टी स्पून घी

1 टी स्पून पिस्ता

1 टी स्पून बादाम कटे

चांदी का बर्क

विधि

टमाटर को पानी से धोकर साफ करें और चाकू से काट के मिक्सर के जार में डालकर बारीक पीसकर पेस्ट बना लें। एक पेन में घी डालकर गैस मध्यम आंच पर चालू करें।

घी गर्म हो जाने पर टमाटर का पेस्ट और खोपराबुरा डालकर चम्मच से चलाते हुए पेस्ट गाढ़ा होने तक पकाएं।

पेस्ट गाढ़ा हो जाने पर शक्कर बादाम, पिस्ता डालकर पेस्ट ड्राय हो जाने तक पकाएं। एक सिल्वर फाइल पर टमाटर का पेस्ट डालकर फैलाकर ऊपर से चांदी का बर्क लगाकर अपनी पसंद के आकार कि बर्फी काट कर तैयार करें।

टमाटर की बर्फी खआने में बहुत स्वादिष्ट तो होती ही साथ-साथ पौष्टिक भी होती हैं। एक बार जरुर ट्राय करें।

परवल की मिठाई

सामग्री  

250 ग्राम परवल

300 ग्राम मावा

100 ग्राम शक्करबुरा

¼ टी स्पून मीठा सोड़ा

1 टेबल स्पून पिस्ता कतरन

1 कप शक्कर

पानी आवश्यकतानुसार

विधि

परवल को चाकू से छिलके उतारकर असपास के डंठल काटकर पानी से धो लें। एक तपेले में पानी और मीठा सोड़ा डालकर गैस को तेज आंच पर चालू करें।

पानी में उबाल आ जाने पर छिले परवल डालकर ढ़ककर 5-7 मिनट के लिए उबालें। उबल जाने पर परवल निकाल कर ठंडा हो जाने पर चाकू से चीरा लगाकर चम्मच से अंदर के बीज निकाल लें।

एक तपेले में 1 कप पानी में शक्कर डालें, और चम्मच से चलाकर मिलाएं। चाशनी में उबाल आ जाने पर परवल डालकर 2 मिनट पकाकर गैस को बंद करके 10 मिनट के लिए चाशनी में ही रहने दें।

एक पेन में मावा डालकर चम्मच से चलाते हुए भूनें। मावा ठंडा हो जाने पर शक्करबुरा और कटे ड्रायफ्रूट्स डालकर हाथों से अच्छे से मिलाकर मसाला तैयार करें।

अब परवल को चाशनी से निकालकर तैयार मसाले को दबाते हुए परवल में भरकर ऊपर से पिस्ता डालकर परवल की मिठाई तैयार करें।

लहसुन की खीर

सामग्री  

1 कप लहसुन

1 लीटर दूध

½ कप शक्कर

½ टी स्पून इलायची पाउडर

1 टेबल स्पून पिस्ता

1 टेबल स्पून बादाम कटे  

विधि

लहसुन के छिलके उतारकर पानी से धोकर साफ करें। एक तपेले में पानी डालकरक गैस को तेज आंच पर चालू करके 5-7 मिनट तक उबालकर एक छलनी पर लहसुन निकालकर रखें।

एक पेन में दूध और शक्कर डालकर चम्मच से चलाते हुए धीमी आंच पर गाढ़ा होने तक दूध को उबालें। दूध अच्छा गाढ़ा हो जाने पर उबले लहसुन, इलायची, पिस्ता और बादाम डालकर 20-25 मिनट के लिए उबालें।  

लहसुन और दूध अच्छे से उबल जाने पर चम्मच से लहसुन को अच्छे दबाकर फ़ेटे और एक सर्विंग बोल में निकालकर ऊपर से कटी बादाम डालकर गरमा-गरम सर्व करें।

शकरकंद की ब्राउनी

सामग्री

1 कप शकरकंद   

½ कप पीनट बटर

½ कप बटर

2 टेबल स्पून कोको पाउडर

½ कप शहद

1 टी स्पून वेनिला ऐसेंस

¼ कप दही

¼ टी स्पून दालचीनी पाउडर

¼ टी स्पून नमक

विधि

शकरकंद को पानी से धो लें, एक तपेले में पानी रखकर गैस को तेज आंच पर चालू करके पानी में शकरकंद डालकर 5-7 मिनट ढककर उबालें। अच्छे से उबल जाने पर एक छलनी में निकालकर ठंडा हो जाने पर छिलके उतारकर अच्छे से मेश करके एक बड़े बोल में निकालें।

अब शकरकंद में पीनट बटर, कोको पाउडर, शहद, वेनिला ऐसेंस, दही, दालचीनी पाउडर, नमक और बटर डालकर चम्मच से अच्छे से मिलाकर बीटर से 5-7 मिनट तक फेंटकर बेटर तैयार करें।

अब ओवन को 175 डिग्री पर चालू करके 10 मिनट के लिए प्री-हीट करें। और ब्राउनी मेकर पर ब्रश से घी लगाकर तैयार  बेटर डालकर 30-40 मिनट पकाएं।

ब्राउनी बनी है या नही देखने के लिए एक टूथ पिक डालकर देखे। अगर वह साफ निकल जाए तो समझे कि ब्राउनी बनकर तैयार हैं। अब अपनी पसंद के आकार में काटकर सर्विंग प्लेट में निकाल कर परोसे।

आमलेट खाकर बोर हो गए हैं? ब्रेकफास्ट के लिए बनाइए ये 5 एग रेसिपी

हर सिंगल वुमन के पास होने चाहिए ये 7 किचन अप्लायंस

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

3 मिल्क पाउड...

3 मिल्क पाउडर डिज़र्ट रेसिपी का स्वाद कभी...

कोलकाता के य...

कोलकाता के ये 5 पारंपरिक व्यंजन जरूर ट्राय...

त्योहारों मे...

त्योहारों में बची हुई मिठाई से बनाए ये 5...

होली के त्यो...

होली के त्योहार पर बनाएं ये खास 8 पकवान

पोल

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत किस देश से हुई थी ?

वोट करने क लिए धन्यवाद

इंग्लैण्ड

जर्मनी

गृहलक्ष्मी गपशप

क्या है वॉटर...

क्या है वॉटर वेट?...

आपने कुछ खाया और खाते ही अचानक आपको महसूस होने लगा...

विजडम टीथ या...

विजडम टीथ यानी अकल...

पिछले कुछ दिनों से शिल्पा के मुंह में बहुत दर्द हो...

संपादक की पसंद

नारदजी के कि...

नारदजी के किस श्राप...

कहते हैं कि मां लक्ष्मी की पूजा करने से पैसों की कमी...

पहली बार खुद...

पहली बार खुद अपने...

मेहंदी लगाना एक कला है और इस कला को आजमाने की कोशिश...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription