क्या है गोलो डाइट, क्या इससे होता है वजन कम?

Spardha Rani

31st March 2021

क्या है गोलो डाइट? क्या वाकई इससे वजन कम करने में मिलती है मदद? ऐसे कई सवालों का जवाब आपको इस आर्टिकल में मिलेगा।

क्या है गोलो डाइट, क्या इससे होता है वजन कम?

वजन कम करने की बात आते ही सब उत्सुक हो जाते हैं। सबको यह जानना रहता है कि आखिर वह कौन सी डाइट है, जिसे चुनने के बाद वेट लॉस करना आसान हो जाता है। गोलो डाइट एक ऐसी ही डाइट है, जो गूगल पर भी ट्रेंड करती रहती है। यदि आपको इसके बारे में कुछ नहीं पता है और आप गोलो डाइट के बारे में जानना चाहती हैं तो यह आर्टिकल आपके लिए ही है।

क्या है गोलो डाइट

गोलो डाइट कार्बोहाइड्रेट, फैट या अन्य न्यूट्रिएन्ट को कम नहीं करता है बल्कि हार्मोन्स को बैलेंस करने पर फ़ोकस करता है। इस डाइट के पीछे का दर्शन यही है कि हार्मोनल एन्जायटी स्ट्रेस को ट्रिगर कर सकता है, जो खराब नींद, भूख और थकान का कारण बनता है। ये सब मिलकर अनचाहे बढ़ते वजन का कारण बनते हैं। गोलो डाइट को बनाने वाले मानते हैं कि डाइट और एक्सरसाइज दोनों मिलकर भी लंबे समय तक वेट लॉस इफेक्ट्स नहीं ला सकते हैं। इसलिए उन्होंने एक कैप्सूल बनाया, जिसका नाम रिलीज है। यह इस गोलो डाइट का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है।

गोलो डाइट सप्लीमेंट

इस सप्लीमेंट जिसका नाम रिलीज है, में प्लांट एक्सट्रैक्टस और मिनरल्स होते हैं जो वेट के फिजिकल और साइकोलॉजिकल पक्ष को मैनेज करते हैं। यह ब्लड शुगर लेवल, इंसुलिन रेग्युलेशन को ऑप्टिमाइज करता है और हार्मोन्स को बैलेंस करते हैं। यह भूख और क्रेविंग्स को भी कंट्रोल करता है। इस सप्लीमेंट को मील के साथ लिया जाता है और यदि आपको सिर्फ 5 से 10 किलो कम करना है तो इसका डोज कम रहेगा। हालांकि, नैशनल मेडिसिन कॉम्प्रीहेंसन डेटाबेस के अनुसार, इस में कुछ इंग्रेडिएन्ट्स नॉजिया को ट्रिगर कर सकते हैं या आपके पाचन तंत्र को बिगाड़ सकते हैं।

गोलो डाइट में क्या खा सकते हैं?

गोलो डाइट का मुख्य फूड कंपोनेंट गोलो मेटाबॉलिक फ्यूल मैट्रिक्स है, जो आपको चार फ्यूल ग्रुप- प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फैट और वेजीटेबल से चुनने की आजादी देता है। ये लिस्ट हैं-

प्रोटीन : अंडे, मीट, पोल्ट्री, सीफूड, नट्स और डेयरी प्रोडक्ट्स।

कार्बोहाइड्रेट: बेरी, फल, मीठे आलू, सफ़ेद आलू, बीन्स और होल ग्रेन।

वेजीटेबल: ब्रोकोली, पालक, काले, स्प्राउट्स, फूलगोभी, सेलेरी, खीरा और जुकिनी।

फैट: ऑलिव ऑयल, नारियल तेल, चिया सीड्स, हेम्प सीड्स और फ्लेक्स सीड्स।

आपको रोजाना तीन मील खाना है और हर मील में हर फ्यूल ग्रुप के 1-2 स्टैंडर्ड सर्विंग्स होने चाहिए।

क्या गोलो डाइट वेट लॉस में करता है मदद?

यह डाइट होल फूड्स खाने पर जोर देता है और एक्सरसाइज करने को कहता है, जो मिलकर वेट लॉस करते हैं।

गोलो डाइट में क्या खाने से करें परहेज

यह डाइट प्रोसेस्ड और रिफाइंड फूड खाने को मना करता है और होल फूड्स खाने के लिए कहता है। गोलो डाइट में इन फूड्स से करें परहेज-

प्रोसेस्ड फूड: आलू के चिप्स, कुकीज, क्रैकर्स और बेक्ड चीजें।

रेड मीट: बीफ़, लैम्ब और पोर्क।

शुगरी बेवरेज: सोडा, स्पोर्ट्स ड्रिंक्स, मीठी चाय, विटामिन वॉटर और जूस।

ग्रेन: ब्रेड, बार्ली, राइस, ओट्स, पास्ता और मिलेट।

आर्टिफिशियल स्वीटनर: सैक्रीन, अस्पार्टम और सुक्रलोज।

 

ये भी पढ़ें-

वेट लॉस के लिए क्या ज्यादा सही है- गुड़ या शहद 

रोजाना पानी पीने के आसान तरीके 

 

स्वास्थ्य संबंधी यह लेख आपको कैसा लगा? अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेजें। प्रतिक्रियाओं के साथ ही स्वास्थ्य से जुड़े सुझाव व लेख भी हमें ई-मेल करें-  editor@grehlakshmi.com

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

वेट लॉस के ल...

वेट लॉस के लिए वेजीटेरियन डाइट

वजन घटाने के...

वजन घटाने के लिए आसान और सरल 20 उपाय

कोविड वैक्सी...

कोविड वैक्सीन से पहले और बाद में क्या खाएं...

जानिए वजन घट...

जानिए वजन घटाने में कैसे मदद करता है जिंजर...

पोल

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत किस देश से हुई थी ?

वोट करने क लिए धन्यवाद

इंग्लैण्ड

जर्मनी

गृहलक्ष्मी गपशप

घर पर वाइट ह...

घर पर वाइट हैड्स...

वाइट हैड्स से छुटकारा पाने के लिए 7 टिप्स

बच्चे पर मात...

बच्चे पर माता-पिता...

आपकी यह कुछ आदतें बच्चों में भी आ सकती हैं

संपादक की पसंद

तोहफा - गृहल...

तोहफा - गृहलक्ष्मी...

'डार्लिंग, शुरुआत तुम करो, पता तो चले कि तुमने मुझसे...

समझौता - गृह...

समझौता - गृहलक्ष्मी...

लेकिन मौत के सिकंजे में उसका एकलौता बेटा आ गया था और...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription