क्या हस्तमैथुन से एक्ने हो सकते हैं

मोनिका अग्रवाल

8th April 2021

मास्टरबेशन के कारण सेहत खराब होती है या नहीं? क्या हमारे चेहरे पर दाने होने लगते हैं? ऐसे कई सवालों हैं जो हर किसी के दिमाग में आते होंगे। क्या इन बातों में सच्चाई है? इस बारे में भी पता होना बेहद जरूरी है

क्या हस्तमैथुन से एक्ने हो सकते हैं

हस्तमैथुन

मास्टरबेशन यानी कि हस्तमैथुन। एक ऐसी क्रिया जिसे लेकर हर किसी की सोच अलग होती है, और उनकी राय अलग होती है। इससे जुड़े हमारे आस पास काफी मिथक भी होते हैं और कुछ गलत धारणाएं भी होती हैं। कुछ लोग इसे सेहत के ले लिए फायदेमंद मानते हैं तो कुछ लोग इसे काफी नुकसानदायक मानते हैं। जिस तरह से हम सेक्स के बारे में बात नहीं करते, ठीक उसी तरह मास्टरबेशन के बारे में खुलकर बात करना पसंद नहीं करते। काफी लोगों का ये भी मानना है कि मास्टरबेशन करने से सेहत खराब हो जाती है। साथ ही स्किन या पर बट एक्ने  की भी समस्या होने लगती है। इन बातों में कितनी सच्चाई है? आज इस लेख के जरिये यही जानने की कोशिश करेंगे। तो चलिए फिर शुरू करते हैं।

क्या पिम्पल्स हैं मास्टरबेशन की वजह?- अगर आप मास्टरबेशन करते हैं, और आपको पिम्पल्स की समस्या हो रही है तो ऐसा मास्टरबेशन की वजह से होना सम्भव है। कभी कभी हमारे शरीर में हार्मोन का स्तर हमारी स्किन को काफी ज्यादा प्रभावित करता है। जिसकी वजह से पिम्पल्स की शिकायत होने लगती है। लेकिन इन सब से हटकर देखा जाए तो ये एक तरह का मिथक भी है। आम तौर पर यौवन के समय पर ज्यादातर पिम्पल्स की शिकायत होने लगती है। यह समय ऐसा होता है जिसमें शरीर ज्यादा टेस्टोस्टेरोन और एण्ड्रोजन का उत्पादन करता है। हमारे शरीर में ऐसी कई ग्रंथियां हैं जो काफी ऑयली होती हैं। जिससे रोम छिद्र बंद हो जाते हैं, और पिंपल्स निकलने लगते हैं।

क्या हार्मोन के स्तर को प्रभावित करता है मास्टरबेशन?- ये सवाल अक्सर सभी के दिमाग में घूमता है कि क्या मास्टरबेशन से हमारे शरीर के हार्मोन का स्तर प्रभावित होता है? जानकारों की मानें तो ऐसा भी सम्भव है। लेकिन इससे स्किन की हेल्थ ज्यादा प्रभावित नहीं होती। जब भी आप अपने पार्टनर के साथ सेक्स करते हैं तो शरीर में उस समय टेस्टोस्टेरोन की बढ़ोतरी बेहद कम होती है। जो कुछ मिनट के बाद सामान्य भी हो जाता है। मास्टरबेशन के कारण रिलीज होने वाले हार्मोन को पूरी तरह पिम्पल्स होने का जिम्मेदार नहीं ठराया जा सकता है।

मास्टरबेशन के कारण सेहत खराब होती है या नहीं

फिर क्या हैं पिम्पल्स के कारण?- हर किसी का शरीर अलग होता है और उसकी प्रक्रिया भी अलग होती है। ठीक उसी तरह हर किसी में पिंपल्स निकलने की वजह भी अलग होती है। वैसे पिम्पल्स की ज्यादातर समस्या बंद रोम छिद्रों की वजह से होता है। साथ ही कभी कभी जब हमारा शरीर डेड स्किन कोशिकाओं से ढक जाता है तो त्वचा को सांस लेने की जगह नहीं मिलती। जिसकी वजह से ब्लैक और वाइट हेड्स के साथ पिम्पल्स की समस्या होने लगती है।

बैक्टीरिया भी है बड़ी वजह-हमारी स्किन में पिम्पल्स बैक्टीरिया की वजह से भी पनपने लगते हैं। हम जब भी घर से बाहर निकलते हैं, तो हमारी स्किन काफी कुछ बर्दाश्त करती है। ना सिर्फ धूल बल्कि धूप भी स्किन को काफी नुकसान पहुंचती है। जब ये गंदगी हमारे पोर्स के सम्पर्क में आती है तो वो लाल पड़ने लगती है और सूज जाती है। ज्यादा समस्या होने से ये अल्सर का भी रूप ले लेती है।

स्किन के सम्पर्क में कैसे आते हैं बैक्टीरिया?- अगर आप बाहर निकलते वक्त खुद को पूरी तरह कवर करके चलती हैं और उसके बाद भी स्किन में पिम्पल्स की समस्या आती है तो इसकी वजह कई होती हैं। बैक्टीरिया आपकी स्किन में आपके मोबाइल से जरिये भी पहुंच सकते हैं। इसके अलावा जब आप गलती से गंदी तकिया का इस्तेमाल करती हैं, या कोई बुरा मेकअप इस्तेमाल करती हैं तो आपको पिम्पल्स की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। ये समस्या सभी तरह की स्किन में हो सकती है। शोध के मुताबिक 50 से 60 मिलियन लोग हर रोज पिम्पल्स की समस्या से जूझते हैं।

कैसे दूर करें पिम्पल्स- क्लियर, बेदाग़ और बिना पिम्पल्स की स्किन किसका सपना नहीं है। लेकिन ये सपना हर किसी का साकार हो, ऐसा जरूरी नहीं है। आज कल पिम्पल्स को खत्म करने के लिए कई तरह के ऑप्शन हैं। लेकिन पिम्पल्स से कितने दिनों में छुटकारा मिलेगा ये निर्भर करता है कि समस्या कितनी बड़ी है। आप ऐसे इस समस्या से छुटकारा पा सकती हैं चलिए ये भी जान लेते हैं।

  • आपको ब्लैकहेड्स या वाइट हेड्स की समस्या है तो आप एक्सफोलिएटिंग स्क्रब का इस्तेमाल कर सकते हैं।

  • आप स्क्रब से अपनी स्किन को क्लियर करने के लिए आप बेंज़ोयल पेरोक्साइड या सैलिसिलिक एसिड का इस्तेमाल कर सकती हैं।

  • पिम्पल्स से निजात पाने के लिए हर रोज अपनी स्किन की देखभाल कीजिये।

  • आयल हटाने के लिए आप चेहरे को कई बार पानी से धोएं।

कैसे करें देखभाल?- बात जब स्किन की देखभाल करने की होती है तो इस बात को जानना बेहद जरूरी है कि स्किन की केयर कैसे करें। स्किन की सही देखभाल आपको कई समस्याओं से दूर रखेगी। आप अपनी लाइफस्टाइल में कुछ बदलाव कीजिए। अपनी आदतें बदलिए। जिससे आपकी स्किन खुलकर सांस ले सके। तो चलिए अब जान लेते हैं कि स्किन की सही देखभाल कैसे करें।

  • पौष्टिक आहार का करें सेवन- आप क्या खाते हैं क्या नहीं, इसका असर आपकी स्किन पर नजर आता है। आप अपने आहार में पौष्टिक और हेल्दी आहार शामिल करेंगी तो आपको पिम्पल्स के साथ आपको झाइयों से भी निजात मिलती है।

  • ताजे फलों का करें सेवन- फल हमारी स्किन के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। खासकर विटामिन सी से भरपूर श्रोत वाले फलों का सेवन ज्यादा से ज्यादा करें। इससे स्किन साफ़ और खिली खिली नजर आएगी।

  • चेहरे को रखें साफ़-दिनभर हमारी काफी कुछ सहन करती है। ऐसे में धूल, गंदगी और पसीने से हमारी स्किन में पिम्पल्स की समस्या होने लगती है। इन सब से निजात पाने के लिए चेहरे को हर रोज कम से कम दो से तीन बार धोने की कोशिश करें। इससे स्किन की सारी गंदगी और आयल निकल जाएगी।

  • ऐसा हो फेस वाश-चेहरे को धोते वक्त आप इस बात का ख्याल रखें कि आप जिस भी फेस वाश का इस्तेमाल कर रही हैं वो माइल्ड हो। ज्यादा केमिकल आपके चेहरे की रंगत बिगाड़ सकता है। इसलिए फेशवाश का चयन समझदारी के साथ करें।

  • वर्कआउट के बाद साफ़ करें स्किन-अगर आप वर्कआउट करती हैं तो उसके बाद स्किन को जरुर साफ़ करें। हम जब भी वर्कआउट करते हैं तो पसीना हमारी स्किन में जमने लगता है। जिससे कीटाणु भी रोम छिद्रों में जमने लगता है। जिससे पिम्पल्स की समस्या होने लगती है। इसलिए वर्कआउट के बाद नहाने का सुझाव दिया जाता है।

  • स्क्रबिंग भी जरूरी-चेहरे को साफ़ रखने के लिए, आप हफ्ते में कम से कम दो बार अपने चेहरे पर स्क्रबिंग करें। आप किसी जानकार या विशेषज्ञ की मदद भी इसमें ले सकते हैं। प्रोडक्ट वही इस्तेमाल करने की कोशिश करें जो आपके लिए बेहतर हो।

  • टोनर भी है जरूरी- दिनभर की भागदौड़ के बाद जब भी आप देर रात को अपने बिस्तर पर जाती हैं तो सोने से फहले आपको एक बात का ख्याल रखना जरूरी है। आप इस बात का ख्याल रखें कि आप एक अच्छे से टोनर से अपनी स्किन को साफ़ करें। जिससे रोम छिद्रों में जमी गंदगी हट जाए। और वो कीटाणु भी साफ़ हो जाएं जिनकी वजह से पिम्पल्स की समस्या हो सकती है।

  • ज्यादा केमिकल से करें पहरेज- अगर आपको लगता है कि आप मॉइश्चराइजर, सनस्क्रीन, और फेस क्लींजर का इस्तेमाल कर पिम्पल्स से बच सकती हैं तो ये कुछ हद तक तो फायदा पहुंचा सकते हैं, लेकिन एक समय के बाद उसके साइड इफेक्ट्स भी नजर आने लगते हैं। हम नहीं कह रहे कि आप इन प्रोडक्ट का इस्तेमाल ना करें , बेशक आप इनका इस्तेमाल करें लेकिन अपनी स्किन की जरूरत का भी ख्याल रखें।

आखिर क्या है हस्तमैथुन- एक सामान्य गतिविधि है। यह आपके शरीर को खुशी महसूस कराने और अंतर्निहित यौन तनाव को छोड़ने का एक प्राकृतिक और सुरक्षित तरीका है। यह सभी पृष्ठभूमि, लिंग और जाति के लोगों के बीच होता है। मिथकों के बावजूद, वास्तव में हस्तमैथुन के कोई शारीरिक रूप से हानिकारक दुष्प्रभाव नहीं हैं। हालांकि, अत्यधिक हस्तमैथुन आपके रिश्तों और रोजमर्रा की जिंदगी को नुकसान पहुंचा सकता है। इसके अलावा, हस्तमैथुन एक मजेदार, सामान्य और स्वस्थ कार्य है। 

स्किन में पिम्पल्स की समय खान पान और खराब लाइफस्टाइल की वजह से होते हैं। मास्टरबेशन को पिम्पल्स का पूरी तरह से जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता। जो ये सोचते हैं कि मास्टरबेशन की वजह से पिंपल्स होते हैं तो ये एक मिथक है। जिस पर विश्वास नहीं किया जाना चाहिए। मास्टरबेशन शरीर की एक प्राकृतिक मांग होती है, अगर आपने इस किया भी है तो शरीर में उपस्थित सभी हार्मोन का स्तर अपने आप ही संतुलित हो जाता है। तो आपको पिम्पल्स की समस्या है तो इसका उपचार ढूंढें ना की मास्टरबेशन को दोष दें। बिना अपराधबोध या शर्म के आत्म-सुख का आनंद लेने के लिए स्वतंत्र महसूस करें। किसी थेरेपिस्ट या किसी ऐसे व्यक्ति से बात करें, जो आपके संशय को दूर कर सके।

यह भी पढ़ें-

यौन उत्पीड़न किस प्रकार तन और मन पर असर करता है

क्या रिश्तो को महसूस किया जा सकता है

सेक्स का मजा लेने के लिए हितकारी अरोमा थेरेपी,नेचुरली बढ़ाएं कामोत्तेजना

 

स्वास्थ्य संबंधी यह लेख आपको कैसा लगा? अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेजें। प्रतिक्रियाओं के साथ ही स्वास्थ्य से जुड़े सुझाव व लेख भी हमें ई-मेल करें- editor@grehlakshmi.com

 

 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

योनि की मसाज

योनि की मसाज

पीरियड ज्याद...

पीरियड ज्यादा दिन तक आने के कारण

मोनोपॉज के द...

मोनोपॉज के दौरान योनि में सूखापन का इलाज...

कोरोना की न्...

कोरोना की न्यूस्ट्रेन वायरस से जुड़ी खास...

पोल

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत किस देश से हुई थी ?

वोट करने क लिए धन्यवाद

इंग्लैण्ड

जर्मनी

गृहलक्ष्मी गपशप

चित्त की महत...

चित्त की महत्ता...

श्री गुरुदेव की कृपा के बिना कुछ भी संभव नहीं। अध्यात्म...

तुम अपना भाग...

तुम अपना भाग्य फिर...

एक बार ऐसा हुआ कि पोप अमेरिका गए, वहां पर उनकी कई वचनबद्घताएं...

संपादक की पसंद

शांति के क्ष...

शांति के क्षण -...

मानसिक शांति के अत्यन्त सशक्त क्षण केवल दुर्बल खालीपन...

सुख खोजने की...

सुख खोजने की कला...

एक महिला बोली : मुनिश्री! मैं बड़ी दु:खी हूं। यों तो...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription