ग्रॉसरी शॉपिंग बन जाएगी स्मार्ट शॉपिंग

चयनिका निगम

13th April 2021

ग्रॉसरी शॉपिंग के लिए जाते समय अक्सर इसको स्मार्ट तरह से किए जाने की कोशिश आप करती होंगी। लेकिन इसको पूरा करने के लिए हेल्थ और बजट दोनों मुद्दों पर सोचने की जरूरत होती है।

ग्रॉसरी शॉपिंग बन जाएगी स्मार्ट शॉपिंग

ग्रॉसरी शॉपिंग...माने किचन का सामान, परिवार की जरूरत का सामान लेने का निर्णय जरूर आप ही करती होंगी। लेकिन ये निर्णय लेती कैसे हैं? आप सोच रही होंगी जो सामान खत्म हुआ वो ले आए। या फिर महीने के आखिर में सारा सामना ऑर्डर कर देती हैं। लेकिन क्या सिर्फ यही सही तरीका है। नहीं सही तरीका ये है कि ग्रॉसरी शॉपिंग का सामान हेल्थ और फाइनेंस के नजरिए से भी खरीदा जाना चाहिए। तब कहीं जाकर आपकी ग्रॉसरी शॉपिंग बेस्ट वाली होगी। ऐसी बेस्ट की घर में सामान की कोई कमी नहीं हो पाएगी, परिवार की हेल्थ भी बेस्ट होगी और खर्चों पर लगाम लगाना भी आसान होगा। ऐसी ग्रॉसरी शॉपिंग करने के लिए आपको क्या करना होगा, जान लीजिए आसान से टिप्स-

प्लानिंग है जरूरी-

लिस्ट बनाने का आइडिया बहुत पुराना है लेकिन इस आइडिया में अगर हेल्थ का तड़का भी लगा लिया जाए तो आपका काम बेस्ट हो जाएगा। आपको शॉपिंग में संतुष्टि भी जरूर मिल जाएगी। इसके लिए आपको एक बात ध्यान में रखनी होगी कि लिस्ट बनाते हुए सोचें कि किचन में कैसे सिर्फ हेल्थी चीजें ही रखी जाएं। जब इस तरह से सोचेंगी तो आपकी लिस्ट सिर्फ हेल्थी ग्रॉसरी लिस्ट ही बनेगी। 

हफ्ते का खाना-

हेल्थी ग्रॉसरी लिस्ट बनाने के लिए आप एक काम और कर सकती हैं। आप चाहें तो अगले पूरे हफ्ते के लिए डिनर और लंच की प्लानिंग कर लीजिए। इस प्लानिंग में सिर्फ हेल्थी डिशेज ही शामिल कीजिए। अब इनकी सामग्री को अपनी लिस्ट में जोड़ लीजिए। जब ये सामान आप ले आएंगी तो इन्हें देख कर आपको हेल्थी डिनर और लंच बनाने की याद भी आती रहेगी। और यकीन मानिए कि आप हेल्थी डिनर और लंच बनाएंगी ही। आपके पास सामान न होने का बहाना ही नहीं होगा। आप बच्चों के लिए हेल्थी स्नेक्स का सामान भी ला सकती हैं। जब सामान सामने होगा तो आप बच्चों को खुद ही सिर्फ हेल्थी सामान खाने के लिए देंगी। 

लेबल पढ़ना है जरूरी-

भले ही आपने वो प्रोडक्ट खरीदें हों, जो पूरी तरह नेचुरल होने का दावा करते हों। लेकिन इसके बाद भी आपको ग्रॉसरी शॉपिंग के समय पैकेट में लिखी जानकारी जरूर पढ़नी चाहिए। दरअसल कई सारे प्रोडक्ट हेल्थी बताए जाते हैं लेकिन इनमें फैट, सोडियम और कैलोरीज भरपूरी होती है। क्योंकि ऊपर के पैकेट पर ‘हेल्थी है' बता दिया जाता है तो हम अंदर चेक ही नहीं करते हैं। पर ये सिर्फ गलती होती है। जब आपने हेल्थी ग्रॉसरी प्रोडक्ट खरीदने की सोच ही ली है तो पैकेट के अंदर डिटेल में जरूर पढ़ लें। इससे आपके पास हेल्थी ग्रॉसरी आएगी ही। इस वक्त ये भी याद रखिएगा कि शुगर और फैट जैसे आसान शब्दों को बहुत अलग तरह से भी लिखा जाता है। जो आम आदमी को कई बार नहीं समझ आता है। 

खूब सारा एक साथ-

जी हां, ये भी ग्रॉसरी शॉपिंग का एक पुराना लेकिन कारगर नियम है। इसमें आपको सामान थोड़ा-थोड़ा न लेकर एक साथ लेना होता है। याद रखिए बड़ी मात्रा में लिया गया सामान बजट के नजरिए से अच्छा होता है। आपको कम कीमत में ज्यादा सामान मिल जाता है। इसका फायदा समझने के लिए आपको कीमत में मिलान करना होगा। तब आपको ज्यादा चीजें एक साथ खरीदने का फायदा समझ आ जाएगा। 

सस्ता हमेशा अच्छा नहीं-

देखिए ज़्यादातर बार ऐसा होता है कि हम सामान सस्ता खरीद लेना चाहते हैं। हमको लगता है इस तरह से हमें बजट में फायदा मिलेगा। लेकिन ऐसा हर बार नहीं होता है। बहुत बार स्टोर वाले चीजें इसलिए सस्ती देते हैं कि वो खराब हो चुकी होती हैं या जल्द ही खराब होने वाली होती हैं। इसलिए बजट बचाने के चक्कर में कुछ भी खरीद लेने से बचें। इसको परखना भी आपको ही पड़ेगा। याद रखिए ये बात पूरी तरह से सही भी नहीं है इसलिए आपको निर्णय सोच-समझ कर लेना होगा। ताकि बजट और हेल्थ दोनों सही रहें। आपको याद रखना होगा कि सस्ता हमेशा अच्छा नहीं होता है। सस्ते दाम देख कर ही शॉपिंग करने की आदत आपको छोड़नी होगी। 

बेस्ट ग्रॉसरी स्टोर-

शहर का बेस्ट ग्रॉसरी स्टोर जहां सब जाते हैं, वहां आप भी जाती हैं तो इस पर पहले विचार कर लीजिए। क्योंकि ऐसा गारंटी के साथ नहीं कहा जा सकता कि कोई स्टोर बेस्ट हो ही। दरअसल स्टोर के बाहर की छोटी दुकानें भी कई दफा बेस्ट और सस्ता सामान दे देती हैं। लेकिन अपनी ‘बड़ी दुकान, अच्छा सामान वाली' सोच के चलते लोग इन छोटी दुकानों में जाने से बचते रहते हैं। आपको एक बार हेल्थ और बजट के नजरिए से इन छोटी दुकानों पर जरूर जाना चाहिए। 

शॉपिंग एप पर मिले डिस्काउंट-

कई सारे शॉपिंग एप ऐसे होते हैं जो नियमित तौर पर डिस्काउंट पर सामान देते ही हैं। अगर ऐसा नहीं भी करते हैं तो अपने खास कस्टमर को निश्चित ख़रीदारी पर डिस्काउंट जरूर देते हैं। ऐसे एप को ग्रॉसरी शॉपिंग के लिए जरूर चुनिए। इनको आजमाने के लिए आप कुछ महीने इन एप को इस्तेमाल कीजिए, आपको जरूर इनको इस्तेमाल करने का फायदा समझ आएगा। आपको जरूर इन एप से ग्रॉसरी शॉपिंग करने पर हेल्थ और बजट दोनों का फायदा दिखेगा। 

 

मनीसंबंधी यह लेख आपको कैसा लगा?अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेजें। प्रतिक्रियाओं के साथ ही स्वास्थ्य से जुड़े सुझाव व लेख भी हमें ई-मेल करें- editor@grehlakshmi.com

ये भी पढ़ें-

अगर करना चाहते हैं घर का मेकओवर और बजट है कम तो ट्राई कीजिए यह टिप्स

 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

ज्यादा खर्च ...

ज्यादा खर्च की आदत जाएगी छूट

शादी के शॉपि...

शादी के शॉपिंग के लिए बेस्ट हैं ये 5 प्लेस...

अंजान शहर मे...

अंजान शहर में शादी का यूं करें इंतज़ाम

बजट के अनुसा...

बजट के अनुसार करें शॉपिंग

पोल

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत किस देश से हुई थी ?

वोट करने क लिए धन्यवाद

इंग्लैण्ड

जर्मनी

गृहलक्ष्मी गपशप

चित्त की महत...

चित्त की महत्ता...

श्री गुरुदेव की कृपा के बिना कुछ भी संभव नहीं। अध्यात्म...

तुम अपना भाग...

तुम अपना भाग्य फिर...

एक बार ऐसा हुआ कि पोप अमेरिका गए, वहां पर उनकी कई वचनबद्घताएं...

संपादक की पसंद

शांति के क्ष...

शांति के क्षण -...

मानसिक शांति के अत्यन्त सशक्त क्षण केवल दुर्बल खालीपन...

सुख खोजने की...

सुख खोजने की कला...

एक महिला बोली : मुनिश्री! मैं बड़ी दु:खी हूं। यों तो...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription