डे केयर सेंटर सुविधा में भी सावधानी ज़रूरी

महिमा निगम

1st May 2021

क्या आप बच्चे को डे केयर सेंटर भेजने जा रही हैं? अगर हां, तब बहुत ज़रूरी है कुछ बातों पर ध्यान देना और वह भी बिल्कुल शुरुआत से ही

डे केयर सेंटर सुविधा में भी सावधानी ज़रूरी

किसी सी भी वर्किंग मैरिड कपल के लिए अपनी प्रोफेशनल और पर्सनल लाइफ को मैनेज करना काफी मुश्किल होता है। ऊपर से अगर कपल वर्किंग के साथ-साथ पेरेंट्स भी हों तो यह मुश्किलें और बढ़ जाती हैं। खासतौर से उनके लिए जिनके बच्चे छोटे होते हैं। ऐसे में मां-बाप के पास बच्चों को डे केयर सेंटर में भेजने के सिवाय और कोई बेहतर विकल्प नहीं होता। कई मां-बाप अक्सर सही डे केयर चुनने में गलती कर बैठते हैं और जल्दबाज़ी में अपनी नन्ही जान को गलत डे केयर में एडमिशन दिला देते हैं, जिससे उन्हें बाद में कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ जाता है। जैसे बच्चों का बीमार पड़ना, उनका किसी तरह  के शोषण का शिकार होना, मां-बाप से एकदम से दूर होना, स्वभाव में बदलाव आना, सही मानसिक विकास में बाधा आना। ऐसी किसी समस्या का सामना आपको ना करना पड़े, इसलिए हम आपको बता रहे हैं कि डे केयर में अपने बच्चों को डालने से पहले किन बातों को ध्यान रखें।

क्या होता है डे केयर सेंटर

डे केयर सेंटर में मां-बाप अपने उन बच्चों का एडमिशन करवाते हैं, जिनकी उम्र ज्यादातर 10 साल से कम होती है। एडमिशन होने के बाद बच्चे वहां सुबह से शाम तक रहते हैं। अगर बच्चा स्कूल जाता है तो वह स्कूल से सीधा डे केयर पहुंच जाता है और अगर नहीं जाता है तो मां-बाप उसे अपने ऑफिस जाने से पहले वहीं छोड़ देते हैं और शाम में काम से लौटते वक्त उन्हें ले लेते हैं। डे केयर सेंटर में बच्चे खेलते हैं, पढ़ते हैं और कई सारी एक्टीविटीज़ भी करते हैं।

ध्यान में रखें ये बातें-

डे केयर रजिस्टर्ड है कि नहीं

पैसा कमाने के नाम पर आजकल कई ऐसे लोग भी हैं, जो डे केयर सेंटर खोल तो लेते हैं, लेकिन उनका रजिस्ट्रेशन नहीं हुआ होता है। ऐसे में उनका फ्रॉड होने के आसार ज्यादा होते हैं। इस तरह के फ्रॉड डे केयर सेंटर से बचने के लिए बच्चों का एडमिशन करवाने से पहले यह जरूर पता लगा लें कि वह रजिस्टर्ड है कि नहीं।

साफ-सफाई में ना हो कोई कमी

बच्चों को बीमारियां बहुत जल्दी पकड़ती हैं। ऐसे में आपका बच्चा जिस जगह अपना पूरा दिन बिता रहा है, उसका साफ-सुथरा होना बेहद आवश्यक होता है। एडमिशन करवाते वक्त डे केयर को पूरी तरह से देखें-परखें और वहां की केयर टेकर्स का भी रहन-सहन देखकर ही आगे का फैसला लें।

सुविधाओं को परखें

कई बार ऐसा होता है कि एक डे केयर सेंटर में कई बच्चे होते हैं, लेकिन उनका ध्यान रखने के लिए नैनी या केयर टेकर सिर्फ एक। ऐसे में हर बच्चे पर ध्यान नहीं जा पाता और पूरा दिन वह परेशान रहता है। आपकी नन्हीं जान को इस समस्या का सामना ना करना पड़े, इसलिए आप एडमिशन करवाने से पहले यह पता लगा लें कि डे केयर सेंटर में नैनी या केयर टेकर की संख्या कितनी है।

खाने की जांच-पड़ताल

पूरा दिन आपका बच्चा डे केयर सेंटर में भूखा तो रहेगा नहीं। सो उसे वहां सही खाना मिलेगा या नहीं, खाने का स्वाद बच्चे के मुताबिक होगा या नहीं, इस बात का भी पता लगा लें।

अलग बिस्तर ज़रूर हो

दाखिला करवाने से पहले यह भी देख लें कि वहां सारे बच्चों के लिए सोने के बिस्तर अलग-अलग हैं कि नहीं।

पढ़ाई और खेलने-कूदने का इंतजाम

डे केयर सेंटर में बच्चों का समय व्यर्थ ना हो, इसलिए वहां पढा़ई का क्या अरेंजमेंट है, इस बात का पता लगाएं। साथ ही इस बात को भी अनदेखा ना करें कि वहां बच्चों को किस तरह के खेल और अन्य एक्टिविटीज करवाई जाएंगी।

आप भी खोल सकती हैं डे केयर सेंटर

अगर आप भी अपना छोटा सा बिजनेस खोलने का मन बना रही हैं तो डे केयर सेंटर एक अच्छा विकल्प है। इसे शुरू करने के लिए आपको मात्र 25 से 30 हजार रुपये की जरूरत पड़ेगी और बच्चों को संभालने के लिए ज़रूरत के अनुसार नैनी की। इसके अलावा आपको बच्चों के लिए कुछ खिलौने लेने के साथ-साथ किताबें भी लेनी पड़ेंगी। खाने का भी इंतजाम करना होगा। इन सब चीजों की शुरुआत आप छोटे स्तर से कर सकती हैं।

यह भी पढ़ें -साड़ी को पहनें वैस्टर्न स्टाइल के साथ

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

मोबाइल ऐप्स ...

मोबाइल ऐप्स जो करें न्यू मॉम्स की मदद

सरल और कारगर...

सरल और कारगर चिकित्सा मुद्रा चिकित्सा

जानें हैंड स...

जानें हैंड सैनिटाइजर से होने वाले नुकसान,...

अपनी शिक्षा ...

अपनी शिक्षा से दिखा रही हैं समाज को रास्ता...

पोल

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत किस देश से हुई थी ?

वोट करने क लिए धन्यवाद

इंग्लैण्ड

जर्मनी

गृहलक्ष्मी गपशप

वापसी - गृहल...

वापसी - गृहलक्ष्मी...

 बीस साल पहले जब वह पहली बार स्कूल आया था ,तब से लेकर...

7 ऐसे योग आस...

7 ऐसे योग आसन जो...

स्ट्रेस, देर से सोना, देर से जागना, जंक फूड खाना, पौष्टिक...

संपादक की पसंद

हस्त रेखा की...

हस्त रेखा की उत्पत्ति...

जिन मनुष्यों ने हस्त विज्ञान की खोज की उसे समझा और...

अक्सर पैसे ब...

अक्सर पैसे बढ़ाने...

बाई काम पर आती रहे, काम अच्छा करे और पैसे बढ़ाने की...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription