जिंदगी में झांकते मोहल्ले वालों को हैंडल करना इतना भी मुश्किल नहीं है

चयनिका निगम

13th June 2021

मोहल्ले वालों के गॉसिप से अक्सर रहती हैं परेशान तो इससे पीछा छुड़ाने में तैयारी में कुछ कदम जरूर उठा लीजिए।

जिंदगी में झांकते मोहल्ले वालों को हैंडल करना इतना भी मुश्किल नहीं है

श्रुति इस वक्त बहुत परेशान हैं। उनको ऐसा लगने लगा है मानो वो मोहल्ले वालों के लिए ही जी रही हैं क्योंकि अब उनको सारे काम मोहल्ले वालों के हिसाब से जो करने पड़ते हैं। दरअसल बाकी मोहल्ले वालों की तरह श्रुति के यहां भी मोहल्ले वाले आंख और काम लगाए ही रहते हैं। कौन घर में आ रहा है, कौन जा रहा है, किसने क्या पहना है और कौन किससे बात कर रहा है जैसी बातें मोहल्ले वाले अक्सर ही करते हैं। मगर अब इस बात को स्वीकार कर लेने की बजाए श्रुति परेशान हो जाती हैं,उन्हें कोई हल नहीं समझ आता है। पर इसका हल इतना भी कठिन नहीं है। बस थोड़ी सूझ-बूझ के साथ गॉसिप के दीवाने मोहल्ले को सुधारा जा सकता है। 

आप खुद बता दें-  यहां हम आपसे घर-परिवार के जरूरी राज बताने के लिए बिलकुल नहीं कह रहे हैं बल्कि हम तो रोजमर्रा की छोटी-मोटी बातें ही गॉसिप करने वाले से कहने के लिए कह रहे हैं। आप नियम से एक बार उन्हें रोज घर की कोई एक बात जरूर बताइए। एक दिन उनको शायद ये अहसास हो जाएगा कि आप तो खुद ही सब बता देती हैं। आपके बारे में क्या ही गॉसिप करें। लेकिन ऐसा नहीं होता है तो आपको सीधे बात करनी होगी कि ‘मैं खुद बताती हूं, फिर भी आप गॉसिप करती हैं।' 

 

कोई काम था?- आप अपने पड़ोसी से एक सवाल ठीक तब करिए जब वो आपके घर की ओर ही देख रही हों। उनसे पूछिए कि ‘क्या कुछ काम था?' वो कहेंगी ‘नहीं' । ‘अच्छा आप इधर देख रहीं थी तो लगा कोई काम है।' आपके इतना कहते ही वो झेप जरूर जाएंगी। अगर इसके बाद भी उन्हें समझ नहीं आया तो समझ लीजिए कि वो सुधरेंगी नहीं। 

 

और भी गम हैं- याद रखिए जीवन में परेशान होने के लिए भी कई गम हैं। ये पड़ोसियों वाला मसला तो कुछ है ही नहीं। इसलिए पूरी कोशिश यही कीजिए कि आपको इस मसले पर सोचना ही न पड़े। अगर सोच भी रही हैं तो पहले पहल इसे इगनोर ही करें। इगनोर नहीं करेंगी तो परेशानी आपको ही होगी। जबकि पड़ोसी तो सिर्फ अपने मनोरंजन के लिए गॉसिप करते हैं लेकिन आप सिरदर्द क्यों लें? इस तरह से खुद को समझा लीजिए फिर देखिएगा कोई भी आपको परेशान नहीं कर पाएगा। 

 

जब आप भी करें गॉसिप-  हो सकता है मोहल्ले की जो औरतें आपके बारे में बातें करती हैं वो आपके साथ बैठ कर दूसरों की भी बुराई करें। लेकिन इस वक्त आप ऐसा न करें। वहां से उठ कर चली जाएं। या उनसे कह सकती हैं कि ‘मेरे बारे में कोई गॉसिप करे मुझे अच्छा नहीं लगता, फिर दूसरों के बारे में मैं कैसे बातें करूं' इससे आपके मोहल्ले वाले शायद अपनी गलती समझ जाएं। 

रिलेशनशिपसंबंधी हमारे सुझाव आपको कैसे लगे?अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेेजें। आप फैशन संबंधी टिप्स व ट्रेंड्स भी हमें ई-मेल कर सकते हैं-editor@grehlakshmi.com

 

ये भी पढ़ें-

भारतीय परिवारों की विरासत हमेशा सोने की तरह चमकती है

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

बाई कंट्रोल:...

बाई कंट्रोल: पड़ोसियों से गॉसिप करती है बाई...

सास-बहू के ब...

सास-बहू के बीच आग लगाने का कम कर रही है बाई...

'गॉसिप ग्रुप...

'गॉसिप ग्रुप' से बनानी हो दूरी तो अपनाएं...

बच्चा होता ज...

बच्चा होता जा रहा है चिढ़चिढ़ा तो ऐसे सुधारें...

पोल

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत किस देश से हुई थी ?

वोट करने क लिए धन्यवाद

इंग्लैण्ड

जर्मनी

गृहलक्ष्मी गपशप

बच्चे के बार...

बच्चे के बारे में...

माता-पिता बनना किसी भी वैवाहिक जोड़े के लिए किसी सपने...

धन की बरकत क...

धन की बरकत के चुंबकीय...

पैसे के लिए पुरानी कहावत है जो आज भी सही है कि "बाप...

संपादक की पसंद

परिवार के सा...

परिवार के साथ करेंगे...

कोरोना काल में हम सभी ने अच्छी सेहत के महत्व को बेहद...

इन डीप नेक ब...

इन डीप नेक ब्लाउज...

यूं तो महिलाएं कई तरह के वेस्टर्न वियर को अपने वार्डरोब...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription