पॉर्न वीडियो कब और कैसे देखे

मोनिका अग्रवाल

16th June 2021

लॉक डाउन में फंस जाने के कारण हम सभी का मन थोड़ा इंटिमेट होने का भी करता होगा जिस कारण हम पोर्न देख लेते हैं। अगर आप बिना अपनी प्राइवेसी को दांव पर लगाएं पोर्न देखना चाहते है तो इन टिप्स का प्रयोग करें।

पॉर्न वीडियो कब और कैसे देखे

क्या आप भी लॉक डाउन में बोर होते हुऐ कई बार पोर्न देख लेते हैं? तो इससे आपको कुछ देर की राहत तो मिल जाती है लेकिन आपकी प्राइवेसी भी रिस्क पर होती है। एक रिसर्च के दौरान पता चला है कि कुछ पॉर्न वेबसाइट्स 25% विजिटर्स पर नजर रखती है और इससे उनकी जानकारी भी लीक होने का डर रहता है। अगर आप भी बिना अपनी प्राइवेसी को दांव पर लगाएं आराम से पोर्न देखना चाहते हैं तो आप को आज की टिप्स जरूर पढ़नी चाहिए और अगर आप इनका पालन करेंगे तो आप जरूर खुद को और अपनी पर्सनल चीजों को ऐसी  वेबसाइट से सुरक्षित रख सकेंगे। तो आइए जानते हैं कौन सी हैं वह टिप्स जो आपको पोर्न देखते समय जरूर करनी चाहिए।

इनकॉग्निटो मोड़ में जाएं: इन दिनों सब वर्क फ्रॉम होम कर रहे हैं। सभी अपनी अपनी स्क्रीन शेयर करते हैं और अगर आप नॉर्मल ब्राउजर में प्रॉन साइट देखते हैं तो यह वेबसाइट आपके पिछले सर्च किए गए रिजल्ट को गैस करने की कोशिश करते हैं। इसलिए अगर आपके आस पास कोई व्यक्ति खड़ा हैं या आप स्क्रीन शेयर कर रहे हैं और आपके कुछ भी पी से टाइप करने पर अगर पोर्न वेबसाइट्स के नतीजे दिखते हैं तो इससे आपको शर्मिंदगी का सामना करना पड़ सकता है। अगर आप इस स्थिति से बचना चाहते हैं तो आपको इनकॉग्निटों मोड़ का प्रयोग करना चाहिए। इसमें आपकी प्राइवेसी भी बनी रहेगी और आपको किसी शर्मिंदगी का सामना भी नहीं करना पड़ेगा क्योंकि इसके दौरान साइट बंद करते ही आपका सारा डेटा डिलीट हो जाता है।

अपने वेब केम को कर लें कवर: कई बार जब आप पोर्न देखते हैं तो वह वेबसाइट आपके द्वारा उस दौरान की जाने वाली गतिविधियों को आपके कैमरे से रिकॉर्ड कर लेती हैं और आप को पता भी नहीं चल पाता है। इसके बाद वह इन्हीं चीजों के द्वारा आपको ब्लैक मेल करते हैं। वह आपको धमकियां दे सकते हैं कि वह आपकी इस रिकॉर्डिंग को आपके बाकी के कॉन्टैक्ट्स के पास भेज सकते हैं या वायरल कर सकते हैं। इसलिए सुरक्षा बरतने के लिए आपके पास एक बेहतरीन ऑप्शन है कि आप पोर्न देखते समय अपने कैमरे को उंगली से या किसी कपड़े की मदद से कवर कर लें ताकि आप इस प्रकार की स्थिति से बच सकें।

वीपीएन का करें प्रयोग: कई बार बहुत सी ऑनलाइन वेबसाइट आपके पर्सनल डेटा की तलाश में रहती हैं और उन्हें किसी तरह आपकी प्राइवेसी भंग करनी होती है। अगर आप पोर्न देख रहे हैं तो बहुत सी वेबसाइट आपके आईपी एड्रेस द्वारा भी आपकी बहुत सी जानकारियां निकाल सकती है। इसलिए इससे बचने का सबसे बेस्ट तरीका है कि आपको वीपीएन का प्रयोग करना चाहिए। इसका प्रयोग करने से आपके आईपी एड्रेस का ही पता नहीं लग पाता है और आप कहां से इंटरनेट चला रहे हैं यह कुछ भी जानकारी लीक नहीं हो पाती है।

एंटी वायरस का प्रयोग करें: कैसे तो पोर्न साइट अपने उपभोगताओं को बचाने का प्रयास करती हैं लेकिन कुछ वेबसाइट्स पर ऐसे कुछ एड्स दिखने लगते हैं जो आपकी प्राइवेसी के लिए ठीक नहीं होते हैं और जैसे ही आप उन पर क्लिक करते हैं आपके फोन में या तो कुछ इंस्टॉल हो जाता है या आपका डेटा लीक हो जाता है। इस प्रकार की स्थिति से बचने के लिए अपने लैपटॉप या फोन में एंटी वायरस इंस्टाल जरूर कर लें 

थोड़ा शांति से काम लें :अगर आप पोर्न देख रहे हैं तो हो सकता है आप बहुत ज्यादा एक्साइटेड हो जाएं और इन सब बातों को भूल कर प्राइवेसी लीक होने वाले जाल में फंस जाएं। इसलिए आपको यह ध्यान रखना होता है कि आप जोश में भी होश न खो दें।

क्या अधिक पोर्न देखना आपके लिए हानिकारक हो सकता है?

हमारे समाज के बहुत से लोग पोर्न देखना कोई बड़ी बात नहीं समझते हैं और इसे बिल्कुल सामान्य समझते हैं। उन्हें यह भी नहीं पता होता है कि अगर हम अधिक मात्रा में पोर्न देखते हैं तो इससे हमें नुकसान भी हो सकता है। बहुत सी रिसर्चस का कहना है कि पोर्न देखने से आपका रिश्ता और अधिक बेहतर बन सकता है इसलिए कपल्स को साथ में रह कर पोर्न देखना चाहिए। लेकिन वहीं दूसरी स्टडीज का कहना है कि पोर्न बनाने वाली कंपनीज अपनी विडियोज का परमोशन करवाने के लिए कुछ भी कह सकते हैं।

पोर्न देखने वालों को उसके नुकसानों के बारे में नहीं पता होता है या फिर वह इस ओर ध्यान ही नहीं देते हैं। पोर्न बनाने वाली कम्पनियां भी यह कहती हैं कि इसे देखने में कोई नुकसान नहीं होता है और वह चैरिटी आदि करने के माध्यम से अपने सेवकों को यह यकीन दिलवाते हैं कि उनके द्वारा यह किया जाने वाला काम किसी जीव के लिए लाभदायक हो रहा है। लेकिन क्या इसका कोई डेटा या फैक्ट है जो सभी के सामने हो? 

यह सब इन पोर्न बनाने वाली कंपनियों की साजिश होती है और इनके जाल में कोई भी बहुत आदमी से फंस सकता है। उनका यह मानना होता है कि सेक्स एक प्राकृतिक क्रिया है और इसलिए पोर्न देखना भी हेल्दी होता है।

सभी पोर्न सहमति से नहीं बनते

जब भी हम पोर्न देखते हैं तो यह मानते हैं कि इन क्रियाओं में जो जो एक्टर या अन्य शामिल हैं वह सब अपनी मर्जी से ही इस कार्य में शामिल हुए हैं। लेकिन अगर कोई बिना मर्जी के इस कार्य में शामिल हुआ हो तो?? हम यह कैसे जान सकते हैं? पोर्न को सपोर्ट करने वाले हमेशा यह साबित करते रहते हैं कि जो कुछ भी होता है सभी की मर्जी के साथ होता है लेकिन इसके पीछे कितना सच है यह हम नहीं जान सकते।

जितना हम स्क्रीन पर चीजें देखते हैं उनके पीछे भी एक दुनिया होती है जिसमें सेक्स ट्रैफिकिंग चलती है। इसका अर्थ मॉडर्न जगत की गुलामी है जिसमें एक व्यक्ति को कमर्शियल सेक्स एक्ट के लिए डराया, धमकाया या फोर्स किया जाता है। अगर कोई 18 साल से कम उम्र का व्यक्ति भी इन गतिविधियों में शामिल होता है तो उसे भी सेक्स ट्रैफिकिंग कहते हैं।

यह चीज काफी ट्रिकी हो सकती है क्योंकि कई बार व्यक्ति को नहीं पता होता कि उसे रिकॉर्ड किया जा रहा है हालांकि सेक्स उसकी मर्जी से ही होता है। तो इसे भी हम असहमति वाला पोर्न कहेंगे। इसके अलावा हो सकता है कुछ कपल्स फिल्म करने के लिए तो राजी हो जाएं लेकिन इस बात के लिए राजी न हों कि वह पोर्न किसी और को दिखाई जाए। हो सकता है बाद में यही व्यक्ति लड़की को इस वीडियो की वजह से ब्लैक मेल करे। इस चीज की सहमति निश्चित तौर पर महिला या लड़की ने नहीं दी होगी।

इस प्रकार आप यह पता नहीं कर सकते हैं कि जो पोर्न आप देख रहे हैं वह किस प्रकार बनाया गया है और जो व्यक्ति उसमें है उसकी यह बनाने में सहमति है या नहीं।

हो सकता है कुछ पोर्न एक्टर्स ने सहमति से पोर्न बना ली हो और बाद में उन्हें पेमेंट न मिली हो, या अगर वह ऐसा कोई सीन क्रिएट करते हैं तो कंपनी उन्हें काम देने से मना कर दे। इसमें एक्टर्स का शोषण होता है इसलिए अगर आप उन्हें देख रहे हैं तो आप भी उनके शोषण के जिम्मेदार बनते हैं।

क्या शोषण मुक्त पोर्न देखना आपके लिए हानि से मुक्त है?

बहुत से लोगों का शोषण हो या एक व्यक्ति का शोषण शोषण होता है और अगर आप सोच रहे हैं कि अगर सहमति वाला पोर्न देख रहे हैं तो वह सुरक्षित है तो हो सकता है उसी कंपनी ने पहले किसी एक व्यक्ति का शोषण किया हो जिसने पोर्न डालने पर असहमति जताई हो। अगर आप सोच रहे हैं कि थोड़ा बहुत पोर्न आपके लिए हेल्दी है तो आप यह मान रहे हैं कि थोड़ा बहुत सेक्सुअल शोषण भी सही है। अगर आप किसी शोषण करने वाली कंपनी का पोर्न देख रहे हैं तो उन्हें व्यू देकर उनको और आगे बढ़ने में और पीड़ित व्यक्ति का और अधिक शोषण करने के थोड़े जिम्मेदार तो आप भी हैं।

निष्कर्ष

इन टिप्स के साथ ही आपको बहुत सी सुरक्षा टिप्स का ख्याल रखना चाहिए जैसे जिस वेबसाइट पर आप जा रहे हैं उस पर एचटीटीपीएस एक्सटेंशन लगी हो ताकि वह आपके लिए सुरक्षित हो।

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

सेक्स के निय...

सेक्स के नियम जो हर जोड़े को एक बेहतरीन सेक्स...

माफी मांगने ...

माफी मांगने का सही और गलत तरीका

Husband Cont...

Husband Control Tips: पति हर बात पर आपको...

क्या किसी ने...

क्या किसी ने आपका फोन हैक कर लिया है, जानिए...

पोल

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत किस देश से हुई थी ?

वोट करने क लिए धन्यवाद

इंग्लैण्ड

जर्मनी

गृहलक्ष्मी गपशप

मुझे माफ कर ...

मुझे माफ कर देना...

डाक में कुछ चिट्ठियां आई पड़ी हैं। निर्मल एकबार उन्हें...

6 न्यू मेकअप...

6 न्यू मेकअप लुक्स...

रेड लुक रेड लुक हर ओकेज़न पर कूल लगते हैं। इस लुक...

संपादक की पसंद

कहीं आपका बच...

कहीं आपका बच्चा...

सात वर्षीय विहान को अभी कुछ दिनों पहले ही स्कूल में...

Whatsapp Hel...

Whatsapp Help :...

मुझे किसी खास मौके पर अपने व्हाट्सप्प के संपर्कों को...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription