वैशाख माह मे...

वैशाख माह में जरूर करें यह काम,...

वैशाख माह में भगवान विष्णु की पूजा करने, दान पुण्य करने और पवित्र नदी में स्नान करने से भगवान की कृपा प्राप्त होती है और सभी मनोकामनाएं...

जानिए एकादशी...

जानिए एकादशी के दिन क्यों नहीं...

एकादशी तिथि भगवान विष्णु को समर्पित होती है इसलिए एकादशी को हरि का दिन कहा जाता है। हर महीने कृष्ण पक्ष और शुक्ल पक्ष में दो एकादशी...

मनुष्य जाति ...

मनुष्य जाति के पहले मनोवैज्ञानिक-...

बुद्ध ने मानव की मनोवृत्ति में सकारात्मक परिवर्तन लाने के लिए अपने उपदेशों को गाथाओं के माध्यम से तत्कालीन जनभाषा का प्रयोग कर सही...

क्यों है बौद...

क्यों है बौद्घ धर्म में स्तूप का...

जब से बौद्ध धर्म पृथ्वी पर आया तभी से स्तूप बनने शुरू हुए। स्तूप संस्कृत का शब्द है। यह प्रतीक है ज्ञानोदय का यह सिर का ऊपर का हिस्सा...

जानें बजरंग ...

जानें बजरंग बली को चढ़ाएं कौन सा...

संकटमोचन हनुमान अपने भक्तों की हर मुराद पूरी करते हैं। बजरंग बली को मंगलवार के दिन विशेष प्रकार का भोग लगाया जाता है। उन्हें हलवा,...

ओंकारेश्वर ज...

ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग

श्री ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग मध्य प्रदेश के खंडवा जिले में नर्मदा नदी के बीच मन्धाता या शिवपुरी नामक द्वीप पर स्थित है। यहां ओंकारेश्वर...

Gl ban 166w

वो जगह जहां पैदा हुए थे हनुमान...

दण्डकारण्य वो मनोरम स्थान है जहां की एक खूबसूरत पहाड़ी अंजनी पर्वत पर हनुमानजी का जन्म हुआ था। ये वो जगह है जहां दक्षिण भारत की पवित्र...

महाकालेश्वर ...

महाकालेश्वर मंदिर उज्जैन

देश के अलग.अलग भागों में स्थित भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग में से सबसे खास है श्री महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग। यह ज्योतिर्लिंग मध्य...

शनि की यह दश...

शनि की यह दशा कहलाती है साढ़े साती,...

शनि की साढ़े साती वास्तव में शनि का गोचर ही है। जिस प्रकार अन्य ग्रह अपना गोचर करते हैं उसी प्रकार शनि ग्रह भी गोचर करता है। सबसे मंद...

पोल

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत किस देश से हुई थी ?

वोट करने क लिए धन्यवाद

इंग्लैण्ड

जर्मनी

गृहलक्ष्मी गपशप

चित्त की महत...

चित्त की महत्ता...

श्री गुरुदेव की कृपा के बिना कुछ भी संभव नहीं। अध्यात्म...

तुम अपना भाग...

तुम अपना भाग्य फिर...

एक बार ऐसा हुआ कि पोप अमेरिका गए, वहां पर उनकी कई वचनबद्घताएं...

संपादक की पसंद

शांति के क्ष...

शांति के क्षण -...

मानसिक शांति के अत्यन्त सशक्त क्षण केवल दुर्बल खालीपन...

सुख खोजने की...

सुख खोजने की कला...

एक महिला बोली : मुनिश्री! मैं बड़ी दु:खी हूं। यों तो...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription