GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

भक्तों की हर...

भक्तों की हर मन्शा पूरी करती हैं...

  पंजाब और हरियाणा की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ में स्थित मां मनसा देवी का भव्य मंदिर बेहद ही प्राचीन है। यह मंदिर देवी के शक्तिपीठों...

मां नैना देव...

मां नैना देवी के दरबार में होती...

  नैना देवी 51 शक्तिपीठों में से एक है। मान्यता है कि यहीं सती की आंखें गिरी थीं। यूं को मां के दरबार में हर वक्त भक्तों का तांता...

श्रीकृष्ण जन...

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी: इस उपवास...

भगवान श्री कृष्ण जगत के पालनहार हैं। उनका नाम लेते ही मनुष्य के चौरासी चक्र के बंधन से मुक्त हो जाता है। जो व्यक्ति जन्माष्टमी के व्रत...

नन्द के आनंद...

नन्द के आनंद भयो, जय कन्हैया लाल...

  श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की धूम श्रीकृष्ण युगों से भक्तों की आस्था के केंद्र रहे हैं। वे कभी यशोदा मैया के लाल होते हैं तो कभी ब्रज...

किसी उत्सव स...

किसी उत्सव से कम नहीं है वृंदावन...

यद्यपि श्रीकृष्ण जन्माष्टमी समस्त विश्व में अत्यंत धूमधाम के साथ मनाई जाती है परंतु ब्रज में इस पावन पर्व पर जो वात्सल्यमय वातावरण...

साल में सिर्...

साल में सिर्फ एक बार खुलते हैं...

धार्मिक नगरी उज्जैन में एक ऐसा अनोखा मंदिर स्थित है जिसके पट साल में केवल एक ही दिन खुलते हैं और वो खास दिन है नागपंचमी। नागचंद्रेश्वर...

हरियाली तीज:...

हरियाली तीज: इसी दिन हुआ था शिव...

त्योहार तो सिर्फ बहाना है। खुशियों को मनाने, जनाने और समझने का । यूं तो भारत में त्योहारों की एक लंबी श्रंखला व परम्परा है। यहां हर...

सावधान! सावन...

सावधान! सावन में भूलकर भी न करें...

शास्त्रों में कहा गया है कि सावन का महीना भगवान शिव का महीना होता है। इसे पवित्र महीना भी माना जाता है। दूसरी तरफ यह हरियाली भरा खुशनुमा...

सावन भर कैला...

सावन भर कैलाश में नहीं ससुराल में...

  भगवान भोलेनाथ का सबसे प्रिय महीना सावन शुरू हो चुका है। कहा जाता है कि सावन में किया गया शिव पूजन व्रत और उपवास बहुत फलदायी होता...

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

कम हो गया है...

कम हो गया है अब...

‘‘मैंने सुना है कि आजकल एपिसिओटॉमी का चलन नहीं रहा...

सेक्स ना करन...

सेक्स ना करने के...

यूं तो हर इंसान अपने जीवन में सेक्स ज़रूर करता है,...

संपादक की पसंद

पूजा में बां...

पूजा में बांधा जाने...

किसी भी पूजा की शुरुआत या समाप्ति के बाद या फिर किसी...

इन हाथों में...

इन हाथों में लिख...

हर दुल्हन अपने होने वाले पति का नाम लिखवाना पसंद करती...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription