GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

कहीं आप मोटापे के शिकार तो नहीं, बीएमआई से करें जांच

अर्चना चतुर्वेदी

29th February 2016

यूं तो शरीर पर थोड़ी बहुत चर्बी बुरी नहीं लगती, लेकिन ये बढ़ती है तो आपको खुद बता देती है कि दहलीज आ गई। अब बस.. अब और नहीं। वहीं दूसरी तरफ कामकाजी महिलाओं को तो इस बात का पता भी नहीं चल पाता कि वह ओवरवेट का शिकार हो रही हैं। मेडिकल साइंस की भी हमेशा से यहीं सलाह रही है कि ज्यादा वजन बढ़ना परेशानियों का सबब है। इसिलए इसे कट्रोल में रखें। मोटापा कोई बड़ी बीमारी नहीं है, लेकिन एक स्वस्थ एवं सेहतमंद शरीर से विपरीत जाने की सीमा है। यदि इसे समय रहते जान लिया जाए तो इसके बुरे परिणामों को रोका जा सकता है। आप कितना फिट है, इसको जानने के लिए सबसे अच्छा तरीका है बीएमआई (बॉडी मॉस इंडेक्स) निकालना।

कहीं आप मोटापे के शिकार तो नहीं, बीएमआई से करें जांच

 

 

क्या है बीएमआई (बॉडी मास इंडेक्स) ?

बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) आपके शरीर के अनुपात से आपकी चर्बी कितनी अधिक हैं, इसका मापदंड हैं। बीएमआई व्यक्ति विशेष की लंबाई और वजन पर निर्भर करता है। किसी भी व्यक्ति की सेहत का शुरुआती जायजा लेने के लिए डॉक्टर उसके बॉडी मास इंडेक्स (बी एम आई) देख कर ही यह फैसला लेते हैं कि उसे अपना वजन और कम करने की जरूरत है या नहीं। इसके जरिए ये जाना जा सकता है कि आप कितने फिट हैं। उदाहरण के लिए भारतीय लोगों के लिए उनका बी.एम.आई 22.9 से अधिक नही होना चाहिए।

 

बीएमआई चार्ट-

 

 

 

 

 

 

 

 

 

इस तरह निकाले अपना बीएमआई

बीएमआई को किसी व्यक्ति की लंबाई को दुगुना कर उसमें भार किलोग्राम से भाग देकर निकाला जाता है।

 

जैसे -

बॉडी मॉस इंडेक्स = वजन (कलो में)/ लंबाई (मीटर में) का स्क्वेयर

मान लीजिए कि यदि आपका वजन 60 किलो है और लंबाई 160 सेंटीमीटर यानी 1.6 मीटर है तो -

60/2.56= 23.4

 

 

 

 

यानी आप सामान्य वजन के हैं। 19 से नीचे के बीएमआई को अंडरवेट माना जाता है।

 

वजन तालिका के अनुसार ---

 

 

 

 

 

 

 

 

 

यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि वजन का यह अनुपात लंबाई के अनुसार बढ़ता जाता है। वहीं दूसरा तरीका है कमर की चौड़ाई से भी यह पता लगाया जा सकता है कि आप ओवरवेट हैं कि नहीं।

 

सामान्य : 32 इंच से कम

ज्यादा : 32 से 35 इंच

बहुत ज्यादा : 35 इंच से ज्यादा

 

 

 

 

ज्यादातर महिलाएं मोटापे पर तभी गौर करती हैं, जब वह ओवरवेट हो जाती हैं। इसलिए अपने खान-पान और दिनचर्या के साथ-साथ नियमित तौर से बीएमआई की जांच करती रहनी चाहिए।

यदि आप चाहे तो नीचे दिए गए लिंक पर किल्क करके बीएमआई कैलक्यूलेटर के जरिए ऑनलाइन बी एम आई भी निकाल सकती हैं-

http://fasterre.s21.o12.pl/timeanddate/pages/hi/bmi-calc-hi.html

 

 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

इनडोर प्लांटिंग : सुंदरता भी, फायदे भी

इनडोर प्लांटिंग...

अपने घर में पौधे लगाना जहां घर के सौंदर्य में चार...

स्मार्ट करियर गोल्स बनाने की सलाह देती हैं गृहलक्ष्मी ऑफ द डे दीपशिखा वर्मा

स्मार्ट करियर गोल्स...

गृहलक्ष्मी ऑफ द डे

संपादक की पसंद

फिक्स्ड डिपॉजिट करने के पहले जान लें ये जरूरी बातें

फिक्स्ड डिपॉजिट...

वर्तमान में कम निवेश में अधिक रिटर्न के लिए वर्तमान...

तेजाब खोखला नहीं कर पाया मेरे हौसलों को

तेजाब खोखला नहीं...

लड़कियों के चेहरे पर तेजाब डालने वालों के लिए ये कविता...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription