GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

आओ कुछ तूफानी करते हैं

स्पर्धा रानी

17th May 2016

कुछ लोग शहरों की व्यस्त दिनचर्या से छुट्टी लेकर कुछ दिन सुकून से बिताना चाहते हैं तो कुछ लोगों की थकान तूफानी एक्टिविटी के बिना नहीं उतरती। ऐसे ही कुछ एडवेंचर स्पोट्स के बारे में हम यहां बता रहे हैं आपको...

आओ कुछ तूफानी करते हैं

 


श्रेया मेहरा को घूमना पसंद है। इतना कि छुट्टी मिलते ही वह बैग पैक करके निकल पड़ती हैं, कहीं भी, किसी भी ओर। इस बार दो महीने बाद वह गोवा जा रही हैं लेकिन बीच पर नहीं बल्कि खासकर स्नोरकेलिंग और स्कूबा डाइविंग के लिए। उनके साथ उनके दो अन्य दोस्त भी जा रहे हैं, जो पहली बार ऐसे एडवेंचर्स का मजा लेंगे। छुट्टियों में मौज-मस्ती के नए ठिकाने अब युवाओं को लुभाने लगे हैं। पहले ऐसे एडवेंचर केवल विदेशों में होते थे और देश का केवल अमीर वर्ग ही इनका लुत्फ उठा पाता था, लेकिन अब अपने देश में खुल रहे एडवेंचर के नए ठिकानों ने मध्य वर्ग को भी इन तक पहुंचा दिया है।


जिप लाइनिंग

केबल तार पर देर तक लटके रहो और घाटी में इसी के सहारे धीरे-धीरे आगे बढ़ाते जाओ। रास्ते में घाटी की खूबसूरत प्रकृति को निहारने का जो सुख है, उसे शब्दों में बयान करना मुश्किल है। जोधपुर के मेहरानगढ़ किले और दिल्ली के पास नीमराना किले में भी जिप लाइनिंग का लुत्फ नए तरीके सेउठा सकते हैं।


हेली स्कीइंग 

आइस स्कीइंग का नाम तो सबने सुना होगा लेकिन अब नया एडवेंचर हेली स्कीइंग है। स्कीइंग के अल्टीमेट अनुभव को महसूस करना हो तो औली जाकर हेलीकॉह्रश्वटर पर चढ़ना होगा। जिन्हें स्कीइंग का अनुभव नहीं है, उनके लिए औली में 7 या 14 दिन का स्की सीखने के लिए वर्कशॉप भी होता है। वर्कशॉप में किसी भी स्लोप में स्कीइंग का बंधन नहीं है। औली पहुंचने के लिए करीब 150 किलोमीटर की दूरी पर रेलवे स्टेशन हरिद्वार है। गुलमर्ग में भी हेली स्कीइंग का मजा लिया जा सकता है।

 

स्काई डाइविंग

फिल्मों में फरहान अख्तर, ऋतिक रोशन और अभय देओल को स्काई डाइविंग करते देखा होगा। स्काई डाइविंग में आपको कई हजार फुट की उंचाई से हवाई जहाज से कूदने और फिर हवा में तैरने का असीम सुख प्राप्त हो सकता है। सभी एडवेंचर स्पोट्र्स से ऊपर स्काई डाइविंग को बोल्ड लोगों के लिए डिजाइन किया गया है। मैसूर में चामुण्डी हिल्स पर भी स्काई डाइविंग कैम्प का आयोजन किया जाता है। मैसूर की दूरी बेंगलूरू से करीब 3 घंटे की है। 

स्नोरकेलिंग और स्कूबा डाइविंग

गोवा ने हमेशा लोगों को आकर्षित और चकित किया है। बीच पर मस्ती करने तो आप जाती ही हैं, क्यों न इस बार स्नोरकेलिंग और स्कूबा डाइविंग का मजा उठाएं। समुद्र के अंदर नीले पानी में जादुई दुनिया का लुत्फ उठाइए और अपने अंदर के एडवेंचर की भूख को मिटा डालिए। अंडमान के हैवलॉक आईलैण्ड और मुरुदेश्वर में भी स्कूबा डाइविंग गजब की होती है। मुरुदेश्वर मैंगलोर से करीब 165 किलोमीटर की दूरी पर है। हैवलॉक में स्कूबा डाइविंग के लिए तीन दिन का कोर्स भी कराया जाता है। समुद्र के भीतर की खूबसूरती, तरह-तरह की मछलियों और पौधों को देखने का मजा ही कुछ और है।

अंडरवॉटर वॉक

यदि आपको गोवा के खूबसूरत समुद्र में चलने के लिए ट्रैक मिल जाए तो आप जरूर अचंभित रह जाएंगी। पानी के अंदर चलने का खुमार आपको बार-बार गोवा खींचकर ले जाएगा।

वाटर सर्फिंग

यूं तो वाटर सर्फिं ग किसी भी बीच पर की जा सकती है, लेकिन यह उनके लिए अधिक मजेदार होगा, जिन्हें पानी दोगुना उत्साहित कर देता है। सर्फिं ग के लिए अकेले वही जा सकते हैं, जिनके पास अनुभव है। वरना सर्टिफाइड ड्राइवर के साथ कोई भी जा सकता है। वॉटर स्कूटर में बैठकर सर्फिं ग करने में स्पीड के रोमांच के साथ पानी के तेज छींटे लगना अपने आप में मजेदार होता है।

 


बैंबू राफ्टिंग

बैंबू राफ्टिंग भी व्हाइट वॉटर राफ्टिंग की ही तरह होती है, बस यहां नाव कुछ अलग होती है। केरल के पेरियार नेशनल पार्क में अचंभित कर देने वाली वाइल्डलाइफ को देखना है तो पेरियार झील में बैंबू राफ्टिंग जरूर कीजिए। बांस की नाव की सवारी आपके जीवन का ऐसा अनुभव होगा, जिसे कभी भूल नहीं पाएंगे।

एंगलिंग

अरुणाचल प्रदेश के ही सुबनसिरी नदी में फिशिंग स्पोट्स की गूंज सुनाई पड़ती है। सुनहरी मशीर देखनी हो या ट्राउट या गूंज, तिब्बत के हिमालय से निकलने वाली इस नदी में एंगलिंग के प्रेमियों के लिए काफी कुछ है। एंगलिंग के थ्रिल का सही मायने में यही का मजा ले सकती हैं।


केविंग

भारत के उत्तर. पूर्व छोर में बसा मेघालय अपने आपमें बेशकीमती रत्न है। इस राज्य में कई ऐसी गुफाएं, पहाडिय़ां, वॉटरफॉल्स और पहाड़ हैं, जो आपको प्राकृतिक जीवन का बेशकीमती अनुभव देंगे। खासी और जैनतिया हिल्स यहां की दो पॉपुलर पहाडिय़ां हैं, जहां आप केविंग का लुत्फ उठा सकती हैं और राज्य की खूबसूरती का मजा ले सकती हैं। क्रेम माखिड्रॉप, क्रेम डैम, क्रेम लिम्पट और क्रेम माजिमबिन नामी गुफाएं हैं।

राइनो स्पॉटिंग

आपने एलीफैंट सफारी के बारे में तो सुना होगा लेकिन राइनो स्पॉटिंग नहीं। असम के काजीरंगा नेशनल पार्क में इन दिनों राइनो स्पॉटिंग का क्रेज बढ़ा है। राइनो एक सींग वाले दुर्लभ गैंडे होते हैं। जीप में बैठकर वे लोग भारतीय बाघ और जंगली बैलों के साथ ही राइनो को देखने भी जाते हैं, जिन्हें जंगली जीवन से प्यार है।

हॉट एयर बैलूनिंग

एडवेंचर प्रेमियों के लिए महाराष्ट्र के आकर्षक टूरिस्ट डेस्टिनेशन लोनावला में हॉट एयर बैलूनिंग का आयोजन किया जाता है। हॉट एयर बैलून में बैठकर आप लोनावला के विहंगम दृश्यों को अपनी आंखों के साथ ही कैमरे में संजोकर रख सकते हैं। राजस्थान के पुष्कर, जयपुर, रणथम्भौर नेशनल पार्क में भी हॉट एयर बैलूनिंग का लुत्फ उठाया जा सकता है।

 

माइक्रोलाइट फ्लाइंग

अपने अंदर की मस्तमौला लड़की को नए रोमांच से भरना है तो बेंगलूरू पहुंच जाइए। यहां के जक्कूर एयरफ ील्ड में माइक्रोलाइट फ्लाइट से रोमांस कीजिए। बागों के इस शहर के ऊपर उड़ान भरिए और ऊपर से नीचे का विहंगम दृश्य देखिए। इस पावर्ड हैंग ग्लाइडर को ट्रेंड पायलट हैंडिल करता है।

एटीवी राइड

एटीवी की क्रैंकी आवाज यदि आपको थ्रिल देती है तो इस पावरफु ल इंजन का लुत्फ उठाने पहुंच जाइए। इसके लिए फि टनेस स्तर की कोई व्याख्या नहीं है। ये पावरफु ल बाइक बेहतरीन एड्रेलाइन किक देती हैं और एडवेंचर जंकी को वह रोमांच, जिसे वह कभी भूल नहीं सकता।

हाइट वॉटर राफ्टिंग

ऋषिकेश में राफ्टिंग के बारे में तो सभी जानते हैं लेकिन जान्सकर वैली में राफ्टिंग का मजा अलग है। यहां पानी इतना ठण्डा है कि हाथ जम जाए। तेज उठती लहरों को देख डर लगेगा लेकिन यह पूरी तरह सुरक्षित हैं। जान्सकर के लिए जम्मू जाना होगा, जो 240 किलोमीटर दूर है। इसके अलावा कुल्लू में भी राफ्टिंग होती है।

बाइकिंग

पहाड़ों पर जाना हो या खतरनाक घाटी से गुजरना हो, जमाना है बाइकिंग का। उत्साही एडवेंचरर्स निकल पड़ते हैं अपनी बाइक लेकर। अरुणाचल प्रदेश हो, गुजरात हो या पुणे, बाइकिंग प्रेमियों के इस अनूठे प्रेम को कहीं भी अपनाया जा सकता है। इन दिनों तो लड़कियां भी बाइकिंग का लुत्फ उठाती हैं। लेह लद्दाख के रास्ते में भी दिल्ली के बाइक प्रेमी यात्रा करते दिख जाते हैं। 

 

 

 आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

इनडोर प्लांटिंग : सुंदरता भी, फायदे भी

इनडोर प्लांटिंग...

अपने घर में पौधे लगाना जहां घर के सौंदर्य में चार...

स्मार्ट करियर गोल्स बनाने की सलाह देती हैं गृहलक्ष्मी ऑफ द डे दीपशिखा वर्मा

स्मार्ट करियर गोल्स...

गृहलक्ष्मी ऑफ द डे

संपादक की पसंद

फिक्स्ड डिपॉजिट करने के पहले जान लें ये जरूरी बातें

फिक्स्ड डिपॉजिट...

वर्तमान में कम निवेश में अधिक रिटर्न के लिए वर्तमान...

तेजाब खोखला नहीं कर पाया मेरे हौसलों को

तेजाब खोखला नहीं...

लड़कियों के चेहरे पर तेजाब डालने वालों के लिए ये कविता...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription