GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

शो 'मायावी मलंग' में नेगेटिव रोल में नज़र आएंगे हर्षद अरोरा

आभा यादव

5th June 2018

शो 'मायावी मलंग' में नेगेटिव रोल में नज़र आएंगे हर्षद अरोरा

टीवी कलाकार हर्षद अरोड़ा को कौन नही जानता अब तक वह अपने पॉजिटिव रोल से दर्शकों का दिल जीतते रहे है पर अब एक नए रूप में नजर आने वाले हैं। अब वे स्टार भारत के शो "मायावी मलिंग" में विलन का किरदार निभा रहे हैं।  एेसा पहली बार होने जा रहा है कि जब वे दर्शकों के सामने विलेन के रूप में नज़र आ रहे है। पेश है हर्षद अरोड़ा से बातचीत के कुछ अंश।

1- आप किस शहर से है, इस इंडस्ट्री मे आना अचानक हुआ या आपका प्री-प्लान था?

मैं दिल्ली के प्रीतमपुरा से हुं। मेरा कोई प्री-प्लान नही था। मैं पीआर बैकग्राउंड से हुं और एडवरटाइजिंग और पीआर कर रहा था। मैं एक दिल्ली बेस्ड कंपनी(मालवीय नगर) में काम करता था। इस दौरान मुझे मॉडलिंग के कॉल्स आते थे। मैं पार्ट टाइम मॉडलिंग भी करता था। जब फोन ऑडिशन के लिए आये तो मैंने सोचा एक ट्राई तो बनता है। घर बैठे तो कुछ होगा नहीं, पीआर में मज़ा भी नहीं आ रहा था। मुझे लग रहा था कि अब मुझसे पीआर नहीं होगा शायद, मैं इसके लिए बना ही नहीं। फिर एक दिन मैंने सब पेपर, लैपटॉप, फोन वगैरा अपने बॉस को डेस्क पर दिया और कहा अब मुझे जाने की इजाजत दे। बस 6-7 महीने बाद "बेइंतहा" सीरियल हो गया फिर "दहलीज" हो गया। उसके बाद चीजे बनती चली गई।

2- जब "मायावी मलिंग" में नेगेटिव रोल का ऑफर हुआ तो क्या लगा, करना चाहिए या नहीं ?

पहले तो नहीं करना था, क्योंकि मैंने कभी निगेटिव रोल किया ही नहीं था। फिर सोचा अगर सीखना ही है तो इससे बड़ी सीख कुछ हो ही नहीं सकती। राम बन कर भी देख लिया अब रावण बन कर भी देख लू। मैं इस नई चुनौती से बहुत ही उत्साहित हूं। मुझे कभी भी ऐसी भूमिका निभाने का मौका नहीं मिला है। इस सीरियल में विलेन के तौर पर कई नए तरह के लेयर्स भी हैं जिन्हें अभिनय के माध्यम से दिखाने का अवसर मिला।  इसमे मेरा अभिनय बहुत ही अलग है। 

3- सीरियल के अलावा कभी रियलिटी शो होस्ट करने का सोचा?

मेरा रियलिटी शो में कोई इंटरेस्ट नहीं है। मुझे मजा आता है ड्रामा, फिक्शन में जहाँ आप अपनी एक्टिंग कैपिबिलिटी किसी को दिखा सकते है। रियलिटी शो में जो आप है वो आप है। बस एक फॉर्मेट है जो फॉलो कर रहे है। आप एक एक्टर के तौर पर उसमें ग्रो नहीं कर सकते। मुझे एक्टिंग से प्यार है, मेरा मकसद सिर्फ ये ही है की हर प्रोजेक्ट्स से कैसे कुछ सीखू।

4-अगर बात की जाए काम से ब्रेक लेने की तो ब्रेक लेकर कहाँ जाना पसंद करेंगे?

मुझे बीचेस बहुत पसंद है। जितने भी आइलैंड है वो पसंद है। मैं नार्थ सिक्किम नाथुला पास जाना चाहूंगा। जहाँ अभी आर्मी परमिशन की जरूरत है। एक जगह और है लद्दाख जाना चाहूँगा वहाँ के पहाड़, हवा, सड़के ऐसी है लगता है हिंदुस्तान से बाहर आ गए।

5- डेली की शूटिंग में आपका शेड्यूल क्या होता है?

लगभग 50-55 (मायावी मलिंग) शूट तैयार हो चुके है। 20 ऑन एयर हो चुके है। 12 से 14 घंटे कभी कभी 18, 20 24 घंटे हो जाता है 10 से 12 ऐवरेज है इससे ज्यादा मैं काम करता भी नही। अपने को भी समय देना पड़ता है।

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

इनडोर प्लांटिंग : सुंदरता भी, फायदे भी

इनडोर प्लांटिंग...

अपने घर में पौधे लगाना जहां घर के सौंदर्य में चार...

स्मार्ट करियर गोल्स बनाने की सलाह देती हैं गृहलक्ष्मी ऑफ द डे दीपशिखा वर्मा

स्मार्ट करियर गोल्स...

गृहलक्ष्मी ऑफ द डे

संपादक की पसंद

फिक्स्ड डिपॉजिट करने के पहले जान लें ये जरूरी बातें

फिक्स्ड डिपॉजिट...

वर्तमान में कम निवेश में अधिक रिटर्न के लिए वर्तमान...

तेजाब खोखला नहीं कर पाया मेरे हौसलों को

तेजाब खोखला नहीं...

लड़कियों के चेहरे पर तेजाब डालने वालों के लिए ये कविता...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription