GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

'आपके बच्चे कहीं मोटापे का शिकार तो नहीं'

सुचिता माहेश्वरी

16th May 2016

शोध के अनुसार चौंकाने वाले आंकड़े सामने आये हैं कि देश के एक तिहाई बच्चे मोटापे के शिकार हैं। आप अपने बच्चों को स्वस्थ रखने के लिए और फिट करने के लिए कुछ कर रहे हैं? आप अपने घर में खेल गतिविधियों को किस प्रकार बढ़ावा दे रहे हैं? अगर नहीं तो आज से ही इन बदलावों को अपनाएं।

'आपके बच्चे कहीं मोटापे का शिकार तो नहीं'

 

क्या करें -क्या ना करें -


-सबसे पहले स्वस्थ खाद्य पदार्थ खाने के लिए बच्चों को समझाना चाहिए। उन्हें बताएं कि स्वस्थ भोजन करके वह सैचुरेटेड फैट और हाई कैलोरी स्नैक्स से बच सकते हैं।

-एक बच्चे के प्रारंभिक दौर के आहार में आप सब्जियां, फल, मछली, और कम प्रोटीन का खाना खिलाकर स्वस्थ भोजन के प्रति पसंद विकसित करने में मदद कर सकते हैं। जो बच्चे के किशोरावस्था में और वयस्क होने पर लाभकारी साबित होगा। 

 -बच्चो को नियमित रूप से खेलने का समय निकालने के लिए प्रोत्साहित करे । घर के अंदर बच्चे आराम से खेल सकते है लेकिन घर पर खेलने से उनकी ऊर्जा का सही उपयोग नहीं होता। आउटडोर खेल एक तरफ फिट रहने और सही विकास के लिए लाभकरी होते हैं। 

 

 

 

 

 आउटडोर खेल खेलने के लिए कहे


- घर के बाहर के खेल जैसे घूमना, कूदना, या दौड़ना उनके युवा शरीर के लिए अधिक फायदेमंद होते हैं। खेलते समय वह एक तरह से व्यायाम का ही तो अभ्यास कर रहे हैं। अलग-अलग तरह के खेल और खेल के तरीको को मजेदार और रचनात्मक रखने से,बच्चो में खेल के प्रति रूचि रहती है। इससे बच्चों की मांसपेशियों मजबूत और कैलोरी भी कम होती है। 



 -रोज़ खेलने से बच्चे चुस्त रहते है और उनमे समझदारी, सोचने की शक्ति और सामाजिक कौशल विकसित होता है। एक दिन में कम से कम एक घंटे खेलने के लिए अपने बच्चो को अनुमति दे और प्रोत्साहित करे.खेल -खेल में उनकी एक्सरसाइज बच्चो के लिए भी मज़ेदार होगी।इससे वास्तव में मोटापा रोका जा सकता है।

 

 

 

 

 

 

सही आदतों व जीवन शैली पर ध्यान दें- 
 
 

 


- एक बच्चे की भोजन की गलत आदतें और गतिहीन जीवन शैली माता-पिता के साथ बच्चों के लिए भी खतरनाक है। हो सकता है कि आपके बच्चे मधुमेह, उच्च रक्तचाप और हृदय की समस्याओं जैसी बीमारियों के साथ बड़े हो रहे हो जिनका पता आपको बाद मे चलें और खामियाजा भुगतना पड़े । 



- सबसे महत्वपूर्ण बात कि कही आपके बच्चें इतनी कम उम्र में ही मोटापे के कारण आत्मसम्मान, बढती असुरक्षा,और सामाजिक कटाव के रूप में कई मनोवैज्ञानिक मुद्दों का सामना कर रहे हो और आप उससे अनजान हो ।

 

-माता पिता को इस बारे में पता होना चाहिए कि बच्चे का मोटापा वास्तविक तौर पर एक आम समस्या है । लेकिन अच्छी बात यह है कि स्वस्थ खाने की आदतों से और सक्रिय खेलने के लिए प्रोत्साहित करके बच्चो को मोटापे से आसानी से बचाया जा सकता है। 


देश के बच्चों में मोटापे की यह समस्या बढ़ती जा रही है। माता-पिता को अपने बच्चों को फिट और स्वस्थ रखने के तरीके और साधनो के प्रति जागरूक होना चाहिए। इस उभरती समस्या से बचने के कुछ तरीके हैं जो आपकी मदद कर सकते हैं -

 

यह भी पढ़ें-

सिंगल पैरेंट्स और बच्चों की देखभाल

यूरीन से जुड़ी परेशानियों के लिए ट्राई करें ये टिप्स

'तरबूज काटे शेफ स्टाइल में '

तुलसी के पत्तों के 11 चमत्कारी गुण

अब अनीता भाभीजी के पति की जगह लेगा कोई और

पानी से निखारें अपनी खूबसूरती, जानिए कैसे

आप हमें फेसबुकट्विटर और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकते हैं।

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

इनडोर प्लांटिंग : सुंदरता भी, फायदे भी

इनडोर प्लांटिंग...

अपने घर में पौधे लगाना जहां घर के सौंदर्य में चार...

स्मार्ट करियर गोल्स बनाने की सलाह देती हैं गृहलक्ष्मी ऑफ द डे दीपशिखा वर्मा

स्मार्ट करियर गोल्स...

गृहलक्ष्मी ऑफ द डे

संपादक की पसंद

फिक्स्ड डिपॉजिट करने के पहले जान लें ये जरूरी बातें

फिक्स्ड डिपॉजिट...

वर्तमान में कम निवेश में अधिक रिटर्न के लिए वर्तमान...

तेजाब खोखला नहीं कर पाया मेरे हौसलों को

तेजाब खोखला नहीं...

लड़कियों के चेहरे पर तेजाब डालने वालों के लिए ये कविता...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription