GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

स्विट्ज़रलैंड पर्यटन का विंटर और समर- 2017 के लिए नया प्रचार अभियान

ऋचा कुलश्रेष्ठ

24th November 2016

स्विट्ज़रलैंड पर्यटन का विंटर और समर- 2017 के लिए नया प्रचार अभियान

 

स्विट्ज़रलैंड पर्यटन ने अपने 2016 के शीतकालीन प्रचार अभियान और 2017 के ग्रीष्मकाल के लिए 'नेचर वॉन्ट्स यू बैक' (प्रकृति आपको वापस बुला रही है) अभियान की शुरुआत की घोषणा की। शीतकालीन अभियान हर प्रकार के एक्शन और रोमांच पर केंद्रित होगा प्रकृति के सबसे कलात्मक परिदृश्यो में से एक-स्विट्ज़रलैंड में जिसे तलाशा जा सकता है, जिसकी टैगलाइन है 'यू कैन......बट यू डोन्ट हैव टू' (आप कर सकते हैं..... परंतु आपको करने की ज़रूरत नहीं है )। ग्रीष्मकालीन अभियान "नेचर वॉन्ट्स यू बैक", भी शुरू किया गया, जिसका नेतृत्व ब्राण्ड एम्बेसडर रणवीर सिंह द्वारा किया जायेगा। इस प्रचार अभियान की टैगलाइन से इस बात की बिल्कुल सही अभिव्यक्ति होती है की कैसे कोई ‘#INLOVEWITHSWITZERLAND' होना चाहता है; इसमें इस देश के रोमांचक जोश से भरपूर छुट्टियाँ हैं या अचंभित कर देने वाली प्रकृति, दृश्यों के सौंदर्य और सादगी, में एक फुर्सत के क्षणों से भरपूर, आरामदायक दौरा करना चाहता है।

 

स्विट्ज़रलैंड के पर्यटन सहभागियों - जिनेवा, लेक जिनेवा, ग्लेशियर 3000 और जीस्टैड के होते हुए यह अभियान 2015-2016 में हुए 16% के दोहरे अंकों के विकास को आगे बढ़ाने और बनाए रखने की आशा करता है। शीतकालीन पर्यटकों पर प्रारंभिक ध्यान केन्द्रण के साथ, स्विट्ज़रलैंड पर्यटन सक्रिय मुसाफिरों और क्रिसमस के बाज़ारों के लिए स्कीइंग, स्लेजिंग और स्नोबोर्डिंग, थोड़े ज़्यादा आरामपसंद पर्यटकों के लिए जो शीतकाल में पूर्ण आरामदायक समय बिताना चाहते हैं, उनके लिए खुले गर्म फ़व्वारे और इग्लू में रहने जैसे अनेकों विकल्प पेश करेगा। इस अभियान के ग्रीष्मकालीन विशेषता भी, स्काई-डाइविंग, वेकबोर्डिंग, कैनियनिंग इत्यादि अनेकों गतिविधियाँ के साथ-साथ स्विट्ज़रलैंड की सबसे अच्छी पर्यटन और प्राकृतिक विशेषताएँ लेकर आयेगा।

श्री कलॉडिओ ज़ेम्प, भारत में स्विट्ज़रलैंड पर्यटन के निदेशक ने कहा, "भारत में आजकल हम लोगों को ज़्यादा की रोमांचक होते हुए देख रहे हैं। वे केवल एक केबल कार से पहाड़ के ऊपर जाकर तसवीरें लेना नहीं चाहते बल्कि ऐसा रोमांच और मज़ा भी चाहते हैं जो हमें एडवेंचर स्पोर्ट्स में आता है। रणवीर सिंह जैसे बहुप्रतिभाशाली और जोशीली हस्ती के हमारे साथ होते हुए, हम यह प्रस्तुत करना चाहेंगे कि स्विट्ज़रलैंड सिर्फ मनोरम दृश्यों के लिए नहीं जाना जाता है बल्कि यहाँ और नई-नई चीज़ों को आज़माने वाले भारतीय यात्री के लिए बहुत सी गतिविधियाँ और रोमांच है। शीतकाल आनेवाला है और यह स्विट्ज़रलैंड घूमने का बहुत ही सही समय है। लोग यहाँ शीतकाल की विभिन्न चीज़ों का आनंद उठा सकते हैं और स्कीइंग, स्नो-शू ट्रैकिंग, टोबोगैंगिंग जैसे खेलों के साथ रोमांच के प्रति अपने छुपे हुए शौक़ को पूरा कर सकते हैं।"

 स्विट्ज़रलैंड टूरिज्म इंडिया की सह-निदेशक, सुश्री रितू शर्मा ने कहा, "हमारा नया अभियान बस लोगों को यह बताने के लिए है कि स्विट्ज़रलैंड में छुट्टियाँ जैसा आप चाहते हैं वैसी ही हो सकती हैं - शीत और ग्रीष्म ऋतू के लिए रोमांचकारी खेलों और गतिविधियों के बहुत सारे विकल्प हैं परंतु यदि आप ऐसी अधिक आरामदायक छुट्टियाँ बिताना चाहते हैं तो वह भी बिल्कुल संभव है। हालाँकि भारतीयों को गर्मियों में छुट्टियों पर जाने का शौक होता है, हम इस अभियान के बाद परिवर्तन की उम्मीद कर रहे हैं। सुरम्य प्राकृतिक सौन्दर्य के अलावा, स्विट्ज़रलैंड उन परिवारों और हनीमून पर जानेवालों के लिए सम्पूर्ण पैकेज है जो न केवल आरामदायक छुट्टियों की तलाश कर रहे हैं बल्कि थोड़े रोमांच की इच्छा भी रखते हैं।"


स्विट्ज़रलैंड में अवश्य देखने वाली जगहों में जीस्टैड का आकर्षण है, जो अपने बॉलीवुड फिल्मों के स्थानों के लिए जाना जाता है जहाँ अधिकतर भारतीय जाना और तसवीरें खिंचवाना चाहते हैं। जीस्टैड सेंटर से 28 मिनट की दूरी पर है ग्लेशियर 3000 जहाँ सालभर बर्फ जमी रहती है और जहाँ दुनिया का सबसे अधिक ऊँचाई पर स्थित टोबोगैन है। लेक जिनेवा एक बेहद पारिवारिक स्थल है जहाँ चैपलिन्स वर्ल्ड, एलिमेंटेरियम और दि ओलंपिक्स म्यूजियम जैसे म्यूजियम हैं। ला रिज़र्व जेनिव का द विंटर लाउन्ज आसमान तले के एक स्केटिंग रिंक, लाउन्ज और उत्सवी शामों का दावा करता है जहाँ लोग आराम कर सकते हैं। और हाँ, रेड क्रॉस म्यूजियम और संयुक्त राष्ट्र हमेशा जिनेवा के मुख्य आकर्षण होते हैं। एक मजेदार अचंभित कर देनेवाली छुट्टी बिताने के लिए, स्विट्ज़रलैंड बिल्कुल सही जगह है।

 

स्विट्ज़रलैंड पर्यटन के विषय में 
स्विट्ज़रलैंड टूरिज़्म (एसटी) एक संघीय सार्वजनिक निगम है। 16 दिसम्बर 1994 के फ़ेडरल रिज़ॉल्यूशन के आदेशानुसार, इसका उद्देश्य स्विट्ज़रलैंड को देश और विदेश में एक छुट्टियाँ बिताने, घूमने और सम्मलेन करने के गंतव्य स्थान के तौर पर प्रोत्साहित करना था। बोर्ड में पर्यटन क्षेत्र के, और व्यवसायिक एवं राजनैतिक क्षेत्र से 13 प्रतिनिधि शामिल हैं। लगभग 220 कर्मचारी स्विट्ज़रलैंड और 28 देशों में कार्य करते हैं। स्विट्ज़रलैंड टूरिज़्म ने भारत में अपना पहला ऑफिस 1997 में मुम्बई में खोला था, उसके बाद वर्ष 2000 में दिल्ली में एक ऑफिस खोला।


स्विट्ज़रलैंड टूरिज़्म बहुत सारे संस्थानों और कंपनियों के साथ मिलकर काम करता है, उदाहरणस्वरूप, स्विस इंटरनेशनल एयरलाइन्स, स्विस दूतावासों एवं वाणिज्य दूतावासों और व्यापार परिषदों के साथ। यह हर वर्ष ट्रेवल और टूरिज़्म एजेंसियों के प्रतिनिधियों और एजेंटों को अलग-अलग समय और ऋतुओं में स्विटज़रर्लैंड घूमने के लिए आमंत्रित करता है; साथ ही यह मीडिया के प्रमुख प्रतिनिधियों के एक समूह को सबसे ज़्यादा प्रसिद्ध स्विस पर्यटन स्थलों को देखने के लिए भी आमंत्रित करता है।

निर्यात राजस्व के मामले में रसायन और धातु उद्योग और लक्ज़री घड़ी निर्माण के उद्योग के बाद स्विट्ज़रलैंड पर्यटन को चौथा स्थान प्राप्त है।

 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

इनडोर प्लांटिंग : सुंदरता भी, फायदे भी

इनडोर प्लांटिंग...

अपने घर में पौधे लगाना जहां घर के सौंदर्य में चार...

स्मार्ट करियर गोल्स बनाने की सलाह देती हैं गृहलक्ष्मी ऑफ द डे दीपशिखा वर्मा

स्मार्ट करियर गोल्स...

गृहलक्ष्मी ऑफ द डे

संपादक की पसंद

फिक्स्ड डिपॉजिट करने के पहले जान लें ये जरूरी बातें

फिक्स्ड डिपॉजिट...

वर्तमान में कम निवेश में अधिक रिटर्न के लिए वर्तमान...

तेजाब खोखला नहीं कर पाया मेरे हौसलों को

तेजाब खोखला नहीं...

लड़कियों के चेहरे पर तेजाब डालने वालों के लिए ये कविता...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription