GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

जानें अपने सौंदर्य से जुड़ी समस्याओं का हल

भारती तनेजा

9th December 2017

निशानों को किसी दवा या क्रीम से ठीक कर पाना मुश्किल है। हां आप चाहें तो किसी अच्छे कॉस्मेटिक क्लीनिक से लेजर की सिटिंग्स ले सकती हैं। इसकी मदद से त्वचा के नए सेल्स रीजेनरेट होते हैं।

जानें अपने सौंदर्य से जुड़ी समस्याओं का हल
 
मेरी उम्र 16 वर्ष है। मौसम बदलते ही मेरी हथेलियों से परतें सी उतरने लगती हैं और हथेलियां रफ व हार्ड हो जाती हैं। हथेलियों को सॉफ्ट व हैल्दी रखने का कोई उपचार बताइए?
                                                                                     - भारती राघव, दिल्ली
सबसे पहले तो इस बात पर ध्यान दें कि नहाने व हाथ धोने के लिए जिस साबुन का इस्तेमाल करती हैं, कहीं उसके कारण आपके हाथ रूखे तो नहीं हो रहे हैं, या फिर आप जिस वॉशिंग पाउडर का इस्तेमाल करती हैं, क्या वो आपके हाथों के लिए ठीक है। अगर ऐसी कोई बात है तो अपना साबुन या वॉशिंग पाउडर बदल कर देखें और मॉइश्चराइजर युक्त साबुन का इस्तेमाल करें।
अपने बाथरूम व किचन में मॉइश्चराइजिंग क्रीम रखें ताकि आप जब भी पानी का काम करें, काम खत्म होते ही टॉवल से हाथों को सुखा लें और बिना भूले क्रीम लगा सके। रात को सोते समय आप ए.एच.ए. युक्त कोई क्रीम या फिर अच्छी किस्म की नरीशिंग क्रीम हाथों पर लगाएं। चाहें तो स्क्रब भी कर सकती हैं। इसके लिए नींबू के रस में चीनी डालकर हाथों पर तब तक रगड़े, जब तक चीनी के दाने घुल न जाएं। इसके बाद ताजे पानी से हाथ धो लें। महीने में कम से कम दो बार किसी अच्छे ब्यूटी क्लीनिक से मैनीक्योर जरूर करवा लें। इससे हाथों की मृत त्वचा हटेगी और कोमलता आएगी। इसके अलावा आप रोज नहाने से पहले हाथों की बेबी ऑयल से मसाज कीजिए और नहाने के बाद मॉइश्चराइजर जरूर लगाइए।
 
2- मेरा रंग सांवला है। कोई भी मेकअप मेरे चेहरे पर अच्छा नहीं लगता। मुझे किस तरह का मेकअप करना चाहिए कि मेरा रंग हाईलाइट न हो?
                                                                           - निधि अग्रवाल, फिरोजाबाद
अपनी त्वचा की रंगत के अनुसार एक शेड हल्का फाउंडेशन लेना चाहिए। पीच, गुलाबी या नैचुरल शेड्स का ब्लशऑन इस्तेमाल करें। ब्राउन, रेडिश ब्राउन, पीच, ऑलिव ग्रीन, पिकॉक, ब्लू शेड के आईशैडो दबे रंग पर खिलते हैं, पर आसमानी, जामुनी या मजेंटा शेड इस्तेमाल न करें। दबे रंग पर गुलाबी, पीली या संतरी रंग की बिंदी के बजाय ड्रेस से मेल खाती सफेद, मैरून या हल्के रंग की बिंदियां अधिक अच्छी लगती हैं। सांवले और दबे हुए रंग पर लिपस्टिक के लाल, संतरी, मैजेंटा बहुत चटक लगते हैं। इनके स्थान पर ब्राउन, मैरून और बर्गेंडी शेड बहुत स्वाभाविक लगेंगे।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

3- मेरी उम्र 35 साल की है। मेरे चेहरे पर झाइयां हैं। कई क्रीम लगाई लेकिन इसका कोई असर नहीं होता है। जब तक क्रीम लगाती हूं उसका असर चेहरे पर दिखता है। जैसे ही क्रीम लगाना बंद करती हूं, कुछ दिनों के बाद झाइयों के धब्बे दिखाई देने लगते हैं। कोई नैचुरल उपाय बताएं?

                                                                               - श्रुति दास गुप्ता, भोपाल
कई बार ऐसा देखा जाता है पिग्मेंटेशन के माक्र्स को जल्द कम करने के लिए उन पर स्ट्रेऑयड्स का इस्तेमाल करने को दिया जाता है, ऐसा करने से माक्र्स तुरंत गायब हो जाते हैं लेकिन जैसे ही उनका इस्तेमाल बंद कर दिया जाए, वे फिर से नजर आने लगते हैं। आपके साथ भी ऐसा ही हुआ है, अब इन निशानों को किसी दवा या क्रीम से ठीक कर पाना मुश्किल है। हां आप चाहें तो किसी अच्छे कॉस्मेटिक क्लीनिक से लेजर की सिटिंग्स ले सकती हैं। इसकी मदद से त्वचा के नए सेल्स रीजेनरेट होते हैं, ऐसे में हो सकता है कि आपकी ये समस्या ठीक हो जाए।
 
4- मेरे बाल बहुत पतले और रूखे हैं और चमक भी नहीं है। मुझे तेल लगाना पसंद नहीं है और बालों की अच्छी देखभाल के लिए मुझे समय नहीं मिलता। आप कोई ऐसा उपाय बताइए मेेरे बाल झड़ें नहीं और मजबूत और अच्छे हो जाएं।
 
                                                                                - सुमैया सिन्धी, गुजरात
आप आंवला, शिकाकाई, ब्राह्मी, मेथी दाना और जटामांसी बूटी को रात में पानी में भिगो दें और सुबह उठकर उसे पीस लें। इस पेस्ट को दही में मिलाकर बालों में लगाएं। इन हर्ब से बाल घने, लंबे व मजबूत होंगे। इसके अलावा अपनी डाइट का भी खास ख्याल रखें। अपने आहार में प्रोटीन युक्त चीजें जैसे- दूध, दही, दाले, अंकुरित अनाज, अंडा, मछली आदि लें और हफ्ते में 2-3 बार हेयर टॉनिक से बालों की मसाज करें।
 
5- मेरी उम्र 56 वर्ष है। मैंने लगभग 6 साल पहले लेजर द्वारा अपरलिप्स और चिन के हेयर रिमूव करवाए थे लेकिन मेरी चिन पर फिर से छोटे-छोटे रोएं आ रहे हैं क्या करूं?
                                                                        - नीलम एच. तोलवानी, सतना
ये आपकी मेनोपॉज़ स्टेज है, इसी कारण ऐसा हो रहा है। इसलिए बेहतर होगा कि आप किसी स्त्री रोग विशेषज्ञा से अपनी जांच करवा लें।
 
ये भी पढ़ें-
 
 
आप हमें फेसबुकट्विटरगूगल प्लस और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकती हैं। 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

पोल

क्यों फंसते हैं लोग नकली बाबाओं के चंगुल में, इसके पीछे कौन-सा कारण है जिम्मेदार?

गृहलक्ष्मी गपशप

अपने इस ऐप के जरिए डॉ. अंजली हूडा सांगवान लोगों को रखती हैं फिट

अपने इस ऐप के जरिए डॉ....

"गृहलक्ष्मी ऑफ द डे"- डॉ. अंजली हूडा सांगवान

रिंग सेरेमनी से दें रिश्ते को पहचान

रिंग सेरेमनी से...

रिंग सेरेमनी, ये एकमात्रा रस्म नहीं बल्कि एक ऐसा मौका...

संपादक की पसंद

आओ, हम ही श्रीगणेश करें

आओ, हम ही श्रीगणेश...

“मम्मी गर्मी से मैं जला जा रहा हूं, मुझे बचा लो” मां...

रिदम और रूद्राक्ष की प्रेम कहानी

रिदम और रूद्राक्ष...

अक्सर जब किताबों में कोई प्रेम कहानी पढ़ती थी, तब मन...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription