GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

पापा की चिट्ठियों से मिली थी मास्टरशेफ फायनलिस्ट रोहिणी को कुकिंग क्लासेस

गरिमा अनुराग

12th September 2017

गृहलक्ष्मी ऑफ द डे- रोहिणी टी चावला

पापा की चिट्ठियों से मिली थी मास्टरशेफ फायनलिस्ट रोहिणी को कुकिंग क्लासेस
रोहिणी से ये पूछने पर कि आजकल वो क्या कर रही हैं, उनका जवाब था, 'मैं किचन में नए डिश बनाना, नए एक्सपेरिमेंट्स करना और फ्रेंड्स और फैमिली को नए-नए डिश बना कर खिला रही हूं और बहुत एंजॉय कर रही हूं।'
 
ऐसे हुई शुरूआत 
रोहिणी मात्र 19 साल की थी जब पढ़ाई के लिए वो यूएस शिफ्ट हो गई। उनके पापा हमेशा से बहुत अच्छे कुक थे और यही वजह थी की पापा की इस बेटी को स्वाद का पूरा अंदाज था। हॉस्टल में रहते हुए रोहिणी ने एक साल तो खाना बस किसी तरह खाया। सालभर होते ही वो अलग एकोमोडेशन में शिफ्ट सिर्फ इसलिए क्योंकि उन्हें खाना बनाना शुरू करना था। वो ऐसे फ्लैट में शिफ्ट हुई जहां उन्हें खाना बनाने की आज़ादी थी। रोहिणी बताती हैं कि उनके पापा इंलैंड में रेसिपी लिखकर भेजते थे और वो उन्हें ही पढ़कर खाना बनाना सीखते गई। उन्होंने शुरू में हल्के रेसिपी जैसे पीली दाल बनाना बताया और फिर धीरे-धीरे रेसिपी का लेवल बढ़ने लगे जैसे गोभी आलू, राजमा। 
 
एजुकेशन का रहा था बैगग्राउंड
रोहिणी के लाइफ में कुकिंग पहले पर्सनल पैशन की तरह था क्योंकि उन्होंने करियर के लिए एजुकेशन में मास्टर्स किया था। घर पर वो कुकिंग हमेशा एंजॉय करती थी। वो बताती हैं, 'यूएस में मैं जिस कंपनी में काम करती थी वहां मैं स्कूल के लिए कोर्स डिज़ाइन करती थी।'
 
मेरे लिए खुशी की परिभाषा- अच्छा खाना बनाना और सबको खिलाना ही मुझे सबसे ज्यादा खुशी देता है। 
 

 

खुद को किया मोटीवेट
क्योंकि रोहिणी के फ्रेंड्स हमेशा उनकी कुकिंग की तारीफ करते थे, तो जब उनकी एक फ्रेंड ने उन्हें मास्टरशेफ में पार्टीसिपेट करने के लिए कहा तो शुरू में उन्होंने हल्के में लिया, लेकिन रात को सोते वक्त उन्हें महसूस हुआ कि जब वो खुद 16 सालों से कुकिंग कर रही हैं और हर तरह का खाना बनाना जानती हैं, तो क्यों खुद को कम आंकना। दूसरे दिन ही रोहिणी ने मास्टर शेफ का फ़ॉर्म भरा और वो कहती हैं कि जब शो पर एक्सपर्ट्स ने उनकी कुकिंग की तारीफ की तो उनका कॉन्फिडेंस बढ़ा। 
मेरी सलाह:
अच्छी मां, बीवी होने के साथ खुद की खुशी का भी रखें ख्याल
 

अगर आपको भी बनना है गृहलक्ष्मी ऑफ द डे?

यदि आप भी 'गृहलक्ष्मी ऑफ़ द डे' बनना चाहती हैं, तो हमें अपनी एंट्री भेंजें या किसी को नॉमिनेट करें इस लिंक पर http://glkittyparty.com/hi/ । साथ ही गृहलक्ष्मी के फेसबुक पेज पर सभी पोस्ट को लाइक व शेयर करें । फिर देर किस बात की, आज ही भेजें अपनी एंट्री।

या

आप अपने बारे में ये जानकारियां लिख भेजें हमें -

 पसंद-

जिंदगी का मंत्र -

एक शब्द में आप-

आइडियल -

आपका सपना-

आपकी उपलब्धियां-

 

ये जवाब लिखकर भेजें अपने फ़ोन नंबर और ईमेल आई डी और फोटो के साथ।अपनी फोटो हमारे फेसबुक मेसेज बॉक्स में या वेबसाइट पेज पर नीचे लॉगिन कर कमेंट बॉक्स में या फिर grehlakshmihindi@gmail.com पर भेजे।

 
ये भी पढ़े-
 
 
 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

पोल

क्या महिलाओं को अपनी सेक्स डिजायर पर खुल कर बात करनी चाहिए ?

गृहलक्ष्मी गपशप

अपने इस ऐप के जरिए डॉ. अंजली हूडा सांगवान लोगों को रखती हैं फिट

अपने इस ऐप के जरिए डॉ....

"गृहलक्ष्मी ऑफ द डे"- डॉ. अंजली हूडा सांगवान

रिंग सेरेमनी से दें रिश्ते को पहचान

रिंग सेरेमनी से...

रिंग सेरेमनी, ये एकमात्रा रस्म नहीं बल्कि एक ऐसा मौका...

संपादक की पसंद

आओ, हम ही श्रीगणेश करें

आओ, हम ही श्रीगणेश...

“मम्मी गर्मी से मैं जला जा रहा हूं, मुझे बचा लो” मां...

रिदम और रूद्राक्ष की प्रेम कहानी

रिदम और रूद्राक्ष...

अक्सर जब किताबों में कोई प्रेम कहानी पढ़ती थी, तब मन...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription