GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

उज्जैन का काल भैरव मंदिर जहां भगवान को चढ़ायी जाती है शराब

गृहलक्ष्मी टीम

8th December 2017

उज्जैन का काल भैरव मंदिर जहां भगवान को चढ़ायी जाती है शराब
 
महाकाल के नगर उज्जैन को मंदिरों का नगर कहा जाता है। उज्जैन स्तिथ काल भैरव मंदिर की बहुत बड़ी मान्यता है। यहां भगवान काल भैरव साक्षात रूप में मदिरा पान करते है। जैसे ही शराब से भरे प्याले काल भैरव की मूर्ति के मुंह से लगाते है तो देखते ही देखते वो शराब के प्याले खाली हो जाते है। कहा जाता है कि बाबा काल भैरव को ये वरदान है कि शिव से पहले उनकी पूजा होगी इसलिए 12 ज्योर्तिलिंगों में से एक महाकालेश्वर जी के दर्शन के साथ ही भक्त महाकाल भैरव के भी दर्शन जरूर करते हैं।
 
इस मंदिर का निर्माण राजा भद्रसेन ने करवाया था। मंदिर में भैरव बाबा की विशाल मूर्ति है। इस प्रतिमा के चमत्कार की चर्चा दूर-दूर तक है क्योंकि यहां बाबा पलक झपकते ही सारी शराब प्रसाद रूप में ग्रहण कर लेते हैं। दिन भर चढ़ने वाली शराब जाती कहां है? ये एक रहस्य है। आज तक इस बात का पता नहीं चल पाया यहां मंदिर के आस-पास की दुकानों में शराब ही मिलती है। लोगों का मानना है कि शराब के प्रसाद से बाबा जल्दी खुश हो जाते हैं। इस मंदिर को हजारों साल पुराना कहा जाता है। यहां भक्त तंत्र साधना भी करते हैं।
 
बाबा भैरव की पूजा की तीन विधियां हैं। सात्विक, तामसिक, राजसी। सात्विक पूजा के अंदर बाबा को गंध, दीप, अक्षत, रोली, पुष्प, फल, नारियल का भोग लगाते हैं। राजसी पूजा में उपरोक्त सभी चीजों के साथ पशु बलि भी दी जाती है व तामसिक पूजा में उपरोक्त सभी चीजों के साथ शराब व पशु बलि व शास्त्रीय गायन भी सुनाया जाता है। परन्तु तामसिक पूजा किसी विशिष्टï ज्ञानी गुरु के सान्निध्य में ही की जाती है। इसलिए सबसे सुलझी पूजा सात्विक ही मानी जाती है। जिस तरह इन पूजाओं के विधान अलग हैं उसी तरह इनके प्रभाव भी अलग हैं। जैसे-
 
सात्विक पूजा- के लाभ से अकाल मृत्यु का नाश, आयु वृद्धि, आरोग्य वृद्धि होती है।
राजसी पूजा- के लाभ से धर्म ज्ञान की वृद्धि, धन की वृद्धि होती है और सम्मान व सुख-सुविधाएं भी बढ़ती हैं।
तामसिक पूजा- के लाभ से शत्रु दमन, भूत-प्रेत बाधा से बचाव होता है। रविवार व मंगलवार को भैरव जी की पूजा का दिन माना जाता है।
 
देखिए वीडियो -
 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

इनडोर प्लांटिंग : सुंदरता भी, फायदे भी

इनडोर प्लांटिंग...

अपने घर में पौधे लगाना जहां घर के सौंदर्य में चार...

स्मार्ट करियर गोल्स बनाने की सलाह देती हैं गृहलक्ष्मी ऑफ द डे दीपशिखा वर्मा

स्मार्ट करियर गोल्स...

गृहलक्ष्मी ऑफ द डे

संपादक की पसंद

फिक्स्ड डिपॉजिट करने के पहले जान लें ये जरूरी बातें

फिक्स्ड डिपॉजिट...

वर्तमान में कम निवेश में अधिक रिटर्न के लिए वर्तमान...

तेजाब खोखला नहीं कर पाया मेरे हौसलों को

तेजाब खोखला नहीं...

लड़कियों के चेहरे पर तेजाब डालने वालों के लिए ये कविता...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription