GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

सेनको नोएडा में कुछ यूं मना गृहलक्ष्मी दोपहर

गरिमा अनुराग

1st February 2018

सेनको नोएडा में कुछ यूं मना गृहलक्ष्मी दोपहर

नोएडा सेनको क्लब की लेडीज़ ने  गृहलक्ष्मी दोपहर के दौरान पूरे जोश और उत्साह के साथ कार्यक्रम में हिस्सा लिया। और ऐसा क्यों न होता, आखिर वो सेनको गोल्ड एंड डायमंड्स के स्टोर पर थी। आपको पता तो होगा कि गहने लगभग हर उम्र और हर तबके की औरतें रखना बेहद पसंद करती हैं।

स्टोर विज़िट से हुई शुरुआत 

इस मौके पर उन्होंने सेनको के स्टोर को विज़िट किया और वहां मौजूद सेनको की टीम से नए कलेक्शन और पारंपरिक डिज़ाइन्स के बारे में पूछताछ भी की। मस्ती और गपशप के मूड में दोपहर में आई महिलाओं में बातचीत के दौरान ज्वेलरी पर कई तरह की जानकारियां भी बटोरी जैसे की कैसे करते हैं ज्वेलरी की देखभाल। 

 
मौसमी ने बताया क्यों न ले लोकल ज्वेलर से सोना 
 
 

सेनको की टीम से मौसमी ने लेडीज़ को बताया कि किसी ब्रांड से खरीदें ज्वेलरी के क्या फायदें हो सकते हैं। उन्होंने बताया कि ब्रांड से खरीदे ज्वेलरी में कभी भी गुणवत्ता में दिक्कत नहीं आएगी। क्योंकि गोल्ड हर परिवार में आने वाली पीढियों तक जाता है, इसलिए इसका बिना मिलावट होना ही अच्छा है। 

 
ऐसे पहचाने हॉलमार्क
 

सेनको की टीम के विरेन्द्र ने बताया की हॉलमार्क की क्या अहमियत है। उन्होंने महिलाओं को बताया कि कैसे हॉलमार्क पहचाना जाता है। हॉलमार्क लगे ज्वेलरी में 5 निशान होते हैं।

पहला, होता है ट्राएंगल का निशान।
दूसरा, गहने पर प्योरिटी लिखा होता है। 22 कैरेट के गोल्ड के लिए लिए 91.66 फिसदी लिखा होगा, जबकि डायमंड में 14 कैरेट के लिए 68 फिसदी और 18 कैरेट के लिए 75 फिसदी लिखा होता है।
तीसरा, जिस केंद्र से हॉलमार्क करवाया गया है, उसका निशान होता है। 
चौथा, जहां से हॉलमार्क है उसका मार्क होता है।
पांचवा, जिस ज्वेलर से ले रहे हैं उसके नाम का शुरुआती अक्षर।
 
घर पर ऐसे करें गहने की सफाई
गुनगुने पानी में हल्का सा डिटर्जेन्ट डालकर आधे घंटे के लिए ज्वेलरी उसमें डालकर छोड़ दे. हल्के हाथों से ब्रश से रगड़े और सूखने दें। किसी साफ कॉटन के कपड़े से सुखाएं। 
 
 
ये बनी टाइटल विजेता
कार्यक्रम में समय पर पहुंचकर नीलम सिंह बनी मिस अर्ली बर्ड। तन्नी कपूर बनी मिस चटर पटर, विभा गोयल को मिला मिस चुपचाप का टाइटल और श्वेता शर्मा को मिला मिस फिट एंड एक्टिव का टाइटल।
 
ये बनी लकि विजेता
 
 
शशि राज श्रीवास्तव बनी पहली लकि डिप विजेता। दीपिका गुप्ता जी ने जीता दूसरा लकी डिप ईनाम। सीमा जी को मिला बम्पर प्राइज़। 
 
 
ये भी पढ़े- 
 

 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

इनडोर प्लांटिंग : सुंदरता भी, फायदे भी

इनडोर प्लांटिंग...

अपने घर में पौधे लगाना जहां घर के सौंदर्य में चार...

स्मार्ट करियर गोल्स बनाने की सलाह देती हैं गृहलक्ष्मी ऑफ द डे दीपशिखा वर्मा

स्मार्ट करियर गोल्स...

गृहलक्ष्मी ऑफ द डे

संपादक की पसंद

फिक्स्ड डिपॉजिट करने के पहले जान लें ये जरूरी बातें

फिक्स्ड डिपॉजिट...

वर्तमान में कम निवेश में अधिक रिटर्न के लिए वर्तमान...

तेजाब खोखला नहीं कर पाया मेरे हौसलों को

तेजाब खोखला नहीं...

लड़कियों के चेहरे पर तेजाब डालने वालों के लिए ये कविता...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription