GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

सोनम की ईको फ्रेंडली कलीरें बनी न्यू वेडिंग ट्रेंड

जूही मिश्रा

11th May 2018

इन दिनों चारों ओर सोनम कपूर की शादी की चर्चा हो रही है। उनके लंहगा, हेयर स्टाइल, मेकअप और कॉस्टृयूम चर्चा का विषय बने हैं लेकिन इन सबके बीच सबसे खास हैं सोनम कपूर की कलीरें। जिन्हें खास तौर पर डिजाइन किया गया। ये कलीरें रेगुलर वेडिंग में पहनी जाने वाली कलीरों से जरा हटकर हैं। उनकी कलीरें सामने आने के बाद अब डिजाइनर्स कलीरों के मेकिंग मैथड में बदलाव ला रहे हैं। तो आइए जानते हैं कि क्या है कलीरों का नया वेडिंग ट्रेंड-

सोनम की ईको फ्रेंडली कलीरें बनी न्यू वेडिंग ट्रेंड
 
आम तौर पर पंजाबी शादी में चूड़ा सेरेमनी के साथ होने वाली दुल्हन के हाथों में कलीरें बांधी जाती हैं। पारंपरिक रूप से कलीरें अम्ब्रेला शेप वाली होती है लेकिन अब कलीरों के डिजाइन में वेरिएशन देखे जा रहे हैं। होने वाली दुल्हन टैसल्स कलीरे, 2 लेयर कलीरें, पॉम-पॉम कलीरें पहनना पसंद कर रही है। इसी कड़ी में एक्ट्रेस सोनम कपूर ने नया ट्रेंड शुरू किया है। उन्होंने अपनी शादी में ईको फ्रेंडली कलीरें पहनी, जो जूही और मोगरा के फूलों से बनी थी।
 
क्या है ईको फ्रेंडली कलीरें
 
ईको फ्रेंडली कलीरें फ्लावर ज्वैलरी की तरह ही हैं। इन्हें बनाना आसान है। कलीरों की चेन में जूही, मोगरा या दूसरे छोटे फूलों की मालाओं का इस्तेमाल किया जाता है। चेन का रंग गोल्डन होगा तो यह ज्यादा खूबसूरत लगेंगी। खास बात यह है कि बाकी कलीरों की तरह यह ब्राइडल ड्रेस में बार बार उलझ कर आपको परेशान नही करेगी। साथ ही हल्की होने के कारण इसे चूड़े के साथ इस्तेमाल करना आसान है। 
 
सोनम कपूर ने अपनी कलीरों में छोटे अम्ब्रेला चेन के साथ फूलों का इस्तेमाल किया था। यह उनकी आॅफ व्हाइट ड्रेस के साथ मैच कर रहा था। इन्हें ब्राइड की फ्लावर ज्वैलरी के साथ ही तैयार करवाया जा सकता है।
 

  टैसल्स कलीरें

ईको फ्रेंडली कलीरों के अलावा भी और कई डिजाइन है जो इन दिनों पंजाबी दुल्हनों को पसंद आ रहे हैं। फैशन जगत में भी ब्राइडल कलेक्शन लांच करने वाले डिजाइनर्स अपनी ज्वैलरी में इन्हें जगह दे रहे हैं। कलीरों के इस सेगमेंट में दूसरा पॉपुलर ट्रेंड टैसल्स कलीरों का है। टैसल्स कलीरे काफी लंबी होती है और लहंगे के साथ  स्टाइलिश लुक भी देती है।
 
 
घुंघरूओं वाली कलीरें
 
यह कोकोनट शेप वाली कलीरों के डिजाइन से कुछ हटकर होती है। इन्हें अम्ब्रेला शेप दिया गया है जिससे ड्रेमेटिक लुक मिलता है। इनकी किनारों पर लगे घुंघरू काफी स्टाइलिश होते हैं। घुंघरूओं की जगह मोतियों का इस्तेमाल भी किया जा सकता है जो ब्राइड की ड्रेस से मैच करते हों।
 
 
2 लेयर कलीरें
 
2 लेयर कलीरों को घाघरा चोली और जैकेट शरारा के साथ कैरी किया जा सकता है। यह कलीरों को मॉर्डन स्वरूप है। शिल्पा शेट्टी ने भी अपनी शादी में 2 लेयर कलीरें पहनी थी। इन कलीरों की चेन लंबी होती है और लास्ट में अम्ब्रेंला शेप के कुछ डिजाइन होते हैं। इनका वेट कम होता है तो इसलिए यदि आपको हैवी ज्वैलरी का शौक नही है तो इन्हें चूडा सेरेमनी में जरूर पहनें।
 
 
पॉम-पॉम कलीरें
 

 

इसके अलावा यदि मैचिंग के शौकीन है तो पॉम—पॉम कलीरों से अच्छा विकल्प नही मिल सकता। ऊन के रंगीन धागों से बनी इन कलीरों को लाइट और डार्क हर तरह के ब्राइडल लहंगे के साथ कैरी किया जा सकता है। बाकी कलीरों की तुलना में ये ज्यादा आरामदायक और हल्की होती है। इनसे कपडे खराब होने का भी टेंशन नही होता।

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

इनडोर प्लांटिंग : सुंदरता भी, फायदे भी

इनडोर प्लांटिंग...

अपने घर में पौधे लगाना जहां घर के सौंदर्य में चार...

स्मार्ट करियर गोल्स बनाने की सलाह देती हैं गृहलक्ष्मी ऑफ द डे दीपशिखा वर्मा

स्मार्ट करियर गोल्स...

गृहलक्ष्मी ऑफ द डे

संपादक की पसंद

फिक्स्ड डिपॉजिट करने के पहले जान लें ये जरूरी बातें

फिक्स्ड डिपॉजिट...

वर्तमान में कम निवेश में अधिक रिटर्न के लिए वर्तमान...

तेजाब खोखला नहीं कर पाया मेरे हौसलों को

तेजाब खोखला नहीं...

लड़कियों के चेहरे पर तेजाब डालने वालों के लिए ये कविता...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription