GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

मॉनसून में कीजिए पहाड़ों की सैर और लीजिए बारिश का मज़ा

प्रियंका वर्मा

7th August 2018

मॉनसून में कीजिए पहाड़ों की सैर और लीजिए बारिश का मज़ा

मॉनसून के सीजन में हर तरफ हरे-भरे पेड़ों की हरियाली और रिमझिम बारिश की बूंदों में अपने हमसफर की बांहों में बांहें डालकर वादियों में घूमना किसे पसंद नहीं होगा। मदहोश कर देने वाला मौसम, प्यार भरी बातें, ऊंचे-ऊंचे पहाड़ और हमसफर का साथ, आखिर कौन नहीं जीना चाहेगा इस दिलकश पल को। सिर्फ इसके अहसास मात्र से आपके दिल में कुछ-कुछ तो होने ही लगा होगा। 

दोस्तों, इस मौसम में घूमने का अपना अलग ही मज़ा है। खूबसूरत वादियां, बारिश और नज़ारों का मजा लेते हुए हाथ में एक कप गरमा-गर्म कॉफी, वाह क्या कहने। ज़रा सोचिए कितना रिलैक्स फील होगा। तो अपने ऑफिस के बोझिल काम से थोड़ा वक्त निकालिए और इस खूबसूरत दुनिया का मज़ा लीजिए।

आपका ये मज़ा तब और भी दोगुना हो जाएगा जब आप ‘बारिश’ में घूमने का प्लान बनाएंगे। जी हां, बारिश! आज हम आपको भारत की कुछ खूबसूरत जगहों के बारे में बताते हैं जहां बारिश के मौसम में ट्रैवल करने का अपना एक अलग ही मज़ा है। फिर देर किस बात की, पैक करीए अपने बैग्स और निकल पड़िए अपने हमसफर के साथ इन ब्‍यूटीफुल प्‍लेसेस पर। 

डलहौज़ी (हिमाचल प्रदेश) 

भारत के हिमाचल प्रदेश में डलहौज़ी सबसे प्राचीन हिल स्टेशन है। ये चारों तरफ से हिमालय पर्वत और हरे-भरे पेड़ पौधों से घिरा हुआ है। यहां पर आप ‘पंच पुल्ला, सतधारा फॉल्स, खज्जियार, सुभाष बावली और चम्बा ज़िले में स्थित कालाटॉप पशु अभयारण्य घूम सकते हैं। ये जगह पांच पहाड़ों के ऊपर बनी हुई है। अब इसी बात से आप अंदाज़ा लगा सकते हैं कि बारिश के मौसम में कितना सुंदर नज़ारा होता होगा। यहां पर खूब सारे एडवेंचर स्‍पोटर्स भी हैं जो आपके मज़े को दोगुना कर देंगे।

लद्दाख

भारत में बारिश के मौसम में घूमने के लिए लेह लद्दाख भी सबसे अच्‍छी जगह है। यहां का खूबसूरत मौसम हर किसी को अपनी ओर खींच लेता है। समुद्र तल से करीब 10,000 किलोमीटर की ऊंचाई पर स्थित लद्दाख में मानव-सभ्यता का इतना समृद्धशाली रूप देख कर हर कोई दंग रह जाता है। यहां की खूबसूरत पैगांग झील और ऊंचे पहाड़ लोगों को बहुत पसंद आते हैं। लद्दाख के धर्मस्थल गोंपा कहलाते हैं। इनमें रखी पीतल की बड़ी-बड़ी मूर्तियां मंत्र-मुग्ध कर देती हैं। बड़े-बड़े प्रेयर व्हील को घुमाकर प्रार्थना करना अपने आप में अनोखा अनुभव है।

शिलांग (मेघालय)

खूबसूरत हिल्‍स और वादियों के कारण शिलांग को भारत का स्‍कॉटलैंड भी कहा जाता है। जुलाई और अगस्त के सीजन में घूमने के लिए ये जगह बिल्कुल परफेक्‍ट है। हरियाली भरे हिल्‍स, वाटरफॉल्स और लेक्‍स इस जगह को बेहद सुंदर और दर्शनीय बनाती हैं। यहां आकर आपको एक अलग ही दुनिया मिलेगी जिसे आप अभी तक ढूंढ रहे थे। एक और चीज जो आपको यहां पर आकर मिलेगी वो है मानसिक शांति। ऐसा इसलिए क्‍योंकि शिलांग शहर के शोरगुल से काफी दूर बसा हुआ है।

गोवा

गोवा यंगस्टर्स की फेवरेट जगहों में से एक है। अगर हर साल आप गोवा जाने का प्लान बनाते हैं और अफसोस अभी तक कामयाब नहीं हो पाए हैं तो यही सही समय है जब आपको गोवा की सैर करनी चाहिए। बारिश के मौसम में गोवा घूमने का मन तो हर किसी का करता है, आखिर यह जगह है ही इतनी खूबसूरत। वैसे तो गोवा में हर सीजन में काफी भीड़ रहती है लेकिन बारिश के मौसम में तो और ज़्यादा यह जगह खूबसूरत हो जाती है। बारिश की फुहारों और ठंडी हवाओं में मस्‍त होकर यहां के बीचों पर घूमना एक अलग ही दुनिया का अहसास कराता है।

ओरछा (मध्‍य प्रदेश)

ये सिटी जंगलों के बीच बसी हुई है। ये जगह अपने आप में किसी जन्नत से कम नहीं है। यहां पर कई ऐतिहासिक प्‍लेसेस हैं और कई तरह के सुन्दर बनावट वाले मंदिर, जो इस मौसम में बेहद खूबसूरत लगते हैं।

वैसे एक सबसे महत्वपूर्ण बात जो शायद आपको मालूम हो वो ये कि मध्य प्रदेश की मुख्‍य नदी “बेतवा” की सातों धाराएं ओरछा में ही आकर मिलती हैं जो पर्यटकों के लिए बड़ा ही अद्भूत नज़ारा है। इस नज़ारे को देखने के लिए दूर-दूर से लोग यहां आते हैं।  

 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

इनडोर प्लांटिंग : सुंदरता भी, फायदे भी

इनडोर प्लांटिंग...

अपने घर में पौधे लगाना जहां घर के सौंदर्य में चार...

स्मार्ट करियर गोल्स बनाने की सलाह देती हैं गृहलक्ष्मी ऑफ द डे दीपशिखा वर्मा

स्मार्ट करियर गोल्स...

गृहलक्ष्मी ऑफ द डे

संपादक की पसंद

फिक्स्ड डिपॉजिट करने के पहले जान लें ये जरूरी बातें

फिक्स्ड डिपॉजिट...

वर्तमान में कम निवेश में अधिक रिटर्न के लिए वर्तमान...

तेजाब खोखला नहीं कर पाया मेरे हौसलों को

तेजाब खोखला नहीं...

लड़कियों के चेहरे पर तेजाब डालने वालों के लिए ये कविता...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription