GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

हाई बी॰ पी॰ की तरह लो ब्लड प्रैशर भी हो सकता है जानलेवा, ये उपाय करेंगे काम

सुचि बंसल, योगा एक्सपर्ट एवं डाइटीशियन

11th August 2018

हाई बी॰ पी॰ की तरह लो ब्लड प्रैशर भी हो सकता है जानलेवा, ये उपाय करेंगे काम

इस तनाव भरी और बदलती लाइफ स्टाइल के चलते हर 5 में से 3 लोग ब्लड प्रैशर की समस्या से पीड़ित मिल जाएंगे। यह समस्या इतनी आम हो गयी है कि यह बहुत ही साधारण सी बीमारी लगती है। कई लोग हाई ब्लड प्रैशर से परेशान हैं तो कई लो ब्लड प्रैशर से, ये दोनों ही परेशानी का कारण बनते हैं।

लेकिन जब भी ब्लड प्रैशर के बारे में बात होती है, अधिकांश लोगों का मतलब हाई बी॰ पी॰ से ही होता है। क्योंकि यह समस्या अधिकांश हृदय रोगों से संबन्धित होती है। हममें से ज़्यादातर लोग लो ब्लड प्रैशर को कोई समस्या या बीमारी ही नहीं मानते। जबकि यह समस्या भी उतनी ही जानलेवा है जितनी की हाई बी॰ पी॰ की।

क्या है लो ब्लड प्रैशर

जब किसी व्यक्ति के शरीर में रक्त का प्रवाह सामान्य से कम हो जाता है तो उसे लो ब्लड प्रैशर कहा जाता है। सामान्य ब्लड प्रैशर 120/80 होता है, लेकिन यदि यह 90 से कम हो जाता है तो यह लो ब्लड प्रैशर कहलाता है। ब्लड प्रैशर लो होने पर शरीर में रक्त का प्रवाह सही से नहीं हो पाता, जिससे सिर चकराना, कमजोरी, जी मिचलाना, सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्याएँ होने लगती हैं।

क्यों होता है लो ब्लड प्रैशर

  • हार्ट की मांसपेशियाँ कमजोर होने की स्थिति में हार्ट बहुत कम मात्रा में ब्लड सप्लाई कर पाता है, इससे शरीर में ब्लड सर्कुलेशन धीमी गति से होता है और व्यक्ति का ब्लड प्रैशर लो हो जाता है।
  • हार्ट की आर्टरीज में ब्लोकेज होने से या दिल की धड़कन कम होने की वजह से भी बीपी लो हो जाता है।
  • शरीर से ज्यादा खून बह जाने की वजह से बीपी में कमी आ जाती है। डिलिवरी के बाद अधिक रक्त बह जाने से कई महिलाओं में लो ब्लड प्रैशर की समस्या हो जाती है।
  • डिहाइड्रेशन, जरूरत से ज्यादा शारीरिक श्रम, थकावट या अत्यधिक एक्सर्साइज़ भी लो ब्लड प्रैशर का कारण बनता है।

ये उपाय हैं कारगार

नमक- चीनी का घोल

इस उपाय से हममें से अधिकांश लोग परिचित होंगे। नमक लो ब्लड प्रैशर को कंट्रोल करने का सबसे बढ़िया इलाज है। यदि ब्लड प्रैशर लो हो जाए तो एक गिलास में नमक और चीनी का घोल बनाकर पीने से आराम मिलता है।

किशमिश और चने

यदि आपका बीपी ज़्यादातर लो रहता है तो 50 ग्राम चने और 10 ग्राम किशमिश को 100 ग्राम पानी में रात में भिगोकर रख दें और सुबह उसे अच्छे से चबा- चबाकर खाएं। कुछ दिन तक रोजाना ऐसा करने से बीपी कुछ ही दिनों में सामान्य हो जाएगा।

बादाम

एक गिलास दूध में 3 -4 पिसे हुए बादाम मिलाकर पीने से कुछ ही दिनों में लो ब्लड प्रैशर सामान्य हो जाता है।

दही

अपने खाने में दही को जरूर शामिल करें। यदि लो ब्लड प्रैशर है तो दही में भुना जीरा, हींग और नमक मिलाकर खाने से बहुत ही जल्द ब्लड प्रैशर सामान्य हो जाता है।

 

ये भी पढ़ें-

सिर्फ 'सूर्य नमस्कार' करके भी आप रह सकते हैं फिट

योग के दौरान खानपान में कभी ना करें ये गलतियां

योग से तन और मन का सौंदर्य निखारेें

आप हमें फेसबुकट्विटरगूगल प्लस और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकती हैं।

 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

इनडोर प्लांटिंग : सुंदरता भी, फायदे भी

इनडोर प्लांटिंग...

अपने घर में पौधे लगाना जहां घर के सौंदर्य में चार...

स्मार्ट करियर गोल्स बनाने की सलाह देती हैं गृहलक्ष्मी ऑफ द डे दीपशिखा वर्मा

स्मार्ट करियर गोल्स...

गृहलक्ष्मी ऑफ द डे

संपादक की पसंद

फिक्स्ड डिपॉजिट करने के पहले जान लें ये जरूरी बातें

फिक्स्ड डिपॉजिट...

वर्तमान में कम निवेश में अधिक रिटर्न के लिए वर्तमान...

तेजाब खोखला नहीं कर पाया मेरे हौसलों को

तेजाब खोखला नहीं...

लड़कियों के चेहरे पर तेजाब डालने वालों के लिए ये कविता...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription