GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

कुछ ऐसे ही टूट जाता है एक अनमोल रिश्ता

रश्मि द्विवेदी उपाध्याय

3rd September 2018

कुछ ऐसे ही टूट जाता है एक अनमोल रिश्ता

किसी ने सच ही कहा है कि शक ऐसी बीमारी है जिसका कोई इलाज नहीं होता। अगर किसी के प्रति एक बार मन में शक पैदा हो जाये तो इसे खत्म कर पाना बेहद ही मुश्किल है फिर भले ही चाहे वह कितना अच्छा इंसान क्यों ना हो। आमतौर पर देखा गया है कि शादीशुदा कपल्स एक-दूसरे पर कुछ ज्यादा ही शक करते हैं। उनका ये शक्कीमिजाज़ कभी तो इतना बढ़ जाता है कि दोनों के रिश्ते में दरार तक आ जाती है। शादीशुदा जिंदगी की खुशहाली के लिये बेहद ही जरुरी है कि आप हर बात पर अपने पार्टनर पर शक ना करें। बात-बात पर शक करना आपके पार्टनर को आपसे दूर कर सकता है।

अगर गौर से सोचा जायें तो शक की इस बीमारी के पनपने का कारण जेनेटिक तथा बायोकेमिकल हो सकता हैं लेकिन साथ ही सामाजिक परिवेश व आपकी परवरिश भी इस बिमारी के लिये जिम्मेदार हो सकती हैं। आस-पास घटनें वाली घटनाओं का भी हम पर असर पड़ता है। इन्हीं कारणों से हम शक जैसी बिमारी का शिकार हो जाते  हैं।

लड़कों की अपेक्षा लडकियाँ ज्यादा होती हैं शक्की

जी हां, हो सकता है की ये बात सुनने में थोड़ा अजीब लगे लेकिन इस बात को नाकारा नहीं जा सकता कि लड़कों की अपेक्षा लड़कियंा ज्यादा शक्की होती हैं। असल में अगर इस बात की तह तक जाया जाये तो लड़कियों की शक करने का सबसे बड़ा कारण हैं अपने रिश्ते को लेकर इनसिक्योरिटी। सभी लोग अपने रिश्ते को लेकर थोड़ा इनसिक्योर फील करते हैं लेकिन लड़कियों में यह डर सबसे ज्यादा देखा जाता है। इनसिक्योर की भावना के चलते वह अपने पार्टनर पर शक करने लगती हैं। उन्हें इस बात का डर हमेशा बना रहता है कि कहीं उनका पार्टनर उन्हें छोड़ कर ना चला जायें और यही चिंता उन्हें शक्कीमिजाज़ का बना देती हैं। हांलाकि ऐसा नहीं है कि लड़के शक नहीं करते। लड़के भी अपनी पार्टनर पर शक करते है लेकिन लड़कियों की तुलना में कम।

भरोसा रखें अपने पार्टनर पर

एक शादीशुदा खुशहाल भरी जिंदगी के लिये प्यार के साथ-साथ आपस में विश्वास का भी होना अति आवश्यक है। जीवन साथी का साथ जीवन भर का होता है। विश्वास ही प्यार को सींचने का काम करता है। अगर विश्वास की जगह शक ले लेता है तो प्यार को मुरझा कर मरते देर नहीं लगती। अगर आप अपने पार्टनर पर पूरी तरह से विश्वास करेंगे तभी आपका रिश्ता मजबूत होगा।

बात-बात पर ना करें शक

बहुत से कपल्स की ये आदत होती है कि वह अपने पार्टनर की हर बात पर शक करते हैं। बात-बात पर शक करना आपके रिश्ते के लिये सही नहीं है। ऐसा भी हो सकता है कि बात-बात पर शक के चलते आपका रिश्ता टूटने की कगार पर आ जायें।

करें गलतफहमियों को दूर

अगर आपको अपने पार्टनर को लेकर किसी बात पर उलझन है या शक है तो बेहतर होगा कि आप इस मसले पर अपने पार्टनर के साथ बैठकर बातें करें। हो सकता है कि आप जैसा सोच रही हो या रहे हो वैसा बिल्कुल भी ना हो। कभी-कभी हम बिना सच को जानें ही अपने पार्टनर को गलत समझने लगते हैं। हम उस पर इतना शक करने लगने लगते हैं कि उसकी सच बात भी हमें झूठ नजर आने लगती है। पार्टनर के व्यवहार या फिर उसकी किसी बात को लेकर किसी तरह की गलतफहमी ना पालें क्योंकि ये गलतफहमी ही आपके शक को पैदा कर देगी और आप अपने पार्टनर पर इन्हीं गलतफहमियों के चलते बात-बात पर शक करने लगेंगी। कुछ चीजें जैसी है वैसे ही स्वीकार करें और अगर आपको कुछ बात गलत लगें तो उनके साथ बैठकर उस पर बात करें।

रिश्ते में रखें पारदर्शिता

हर कपल्स को यह समझना होगा कि अगर आपसे कोई गलती हो जाती हैं या ऐसी कोई बात जो की आपके पार्टनर को नापसंद हो तो लेकिन आपने की हो तो उसे छिपायें नहीं बल्कि प्यार से उसे सारी बातें बता दें। पति-पत्नी के रिश्ते में पारदर्शिता होनी चाहिए। अगर आप दोनों अपने रिश्ते को ईमानदारी के साथ निभायेंगे तो आपका रिश्ता और मजबूत होगा और शक करने की गुंजाइश नहीं रहेगी।

वास्तव में देखा जायें तो हमारी जिंदगी में शक नमक की तरह घुला हुआ है, लेकिन अगर ये नमक सब्जी में ज्यादा पड़ जायें तो पूरी सब्जी कड़वी हो जाती है, ठीक उसी प्रकार बात-बात पर शक करने से खुशहाल जिंदगी बिखर जाती है इसलिये अपने रिश्ते में शक के कीड़े को ना पनपने दें।

 

अन्य लेख पढ़ें

लाइफ में रोमांस बढ़ाने के 10 टिप्स

जानिए ‘हग’ करने के क्या हैं फायदे...

रिश्तों में रोक-टोक से बचें और स्पेस दें

आप हमें फेसबुकट्विटरगूगल प्लस और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकती हैं। 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

इनडोर प्लांटिंग : सुंदरता भी, फायदे भी

इनडोर प्लांटिंग...

अपने घर में पौधे लगाना जहां घर के सौंदर्य में चार...

स्मार्ट करियर गोल्स बनाने की सलाह देती हैं गृहलक्ष्मी ऑफ द डे दीपशिखा वर्मा

स्मार्ट करियर गोल्स...

गृहलक्ष्मी ऑफ द डे

संपादक की पसंद

फिक्स्ड डिपॉजिट करने के पहले जान लें ये जरूरी बातें

फिक्स्ड डिपॉजिट...

वर्तमान में कम निवेश में अधिक रिटर्न के लिए वर्तमान...

तेजाब खोखला नहीं कर पाया मेरे हौसलों को

तेजाब खोखला नहीं...

लड़कियों के चेहरे पर तेजाब डालने वालों के लिए ये कविता...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription