GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

क्या अापने देखा है देश के ये खूबसूरत फ्लावर डेस्टिनेशन्स

गरिमा अनुराग

15th March 2019

क्या अापने देखा है देश के ये खूबसूरत फ्लावर डेस्टिनेशन्स

अगर आपको फूलों का शौक है तो आप देश के इन बेहद खूबसूरत फूलों के लिए प्रसिद्ध घाटियों का रुख करीए और देखिए प्रक़ति के गर्भ में कैसे-कैसे मनोरम फूल आपका अचंभित करने का इंतज़ार कर रहे हैं-

उत्तराखंड स्थित वैसी ऑफ फ्लावर्स-

 

यूवेस्को द्वारा विश्व धरोहर का दर्जा प्राप्त उत्तराखंड के गोविंदघाट (जोशीमठ के पास) स्थित फूलों की ये घाटी इस क्षेत्र के सबसे मनोरम दृश्यों में से एक है। यहां आपको ब्रह्मकमल, यलो कोबरा लिलि, ऑर्चिड, हिमालयन स्लिपर ऑर्चिड, हिमालयन मार्श ऑर्चिड जैसे फूल देखने मिलेंगे। 

कश्मीर में खिले ट्यूलिप के फूल-

 

इंदीरा गांधी मेमोरियल ट्यूलिप गार्डन श्रीनगर के दर्शनीय स्थलों में से एक है औऱ वहां की प्राकृतिक खूबसूरती को दिखाता है। ट्यूलिप के फूलों से रंगीन हुआ ये गार्डन जबरवां हिल्स के नीचे फैला है और एशिया का सबसे बड़ा ट्यूलिप के फूलों का गार्डन है। वैसे जब भी आप फूलों के इस गार्डन में जाएं तो आप इसके आसपास स्थित चश्म-ए-शाही गार्डन, परी महल, शंकराचार्य टेम्पल, डल लेक जैसी जगहों का भी नज़ारा ले सकते हैं। 

यहां घूमने का सही समय है जून से सितंबर तक।

महाराष्ट्र के कास के पठार-

 

पुणे शहर से तीन घंटे दूर कास के पठार हर सात साल में एक बार पर्पल रंग के जंगली, मगर बेहद खूबसूरत फूलों की चादर ओढ़ लेते हैं। देखने वाले इसकी तुलना तुरंत स्विटज़रलैंड स करने लगते हैं, लेकिन कास के इस पठार की खूबसूरती ऐसी है जो देखने वाले के दिल में उतर जाती है।  

सतारा क्षेत्र के इस आकर्षण को देखने का बेहतरीन समय है अगस्त और सितंबर का महीना। 

सिक्किम की यमथंग वैली

 

कभी आपने सोचा है कि लाल, गुलाबी, सफेद, पीले, पर्पल फूलों से बिछे प्राकृतिक कालीन पर चलना कैसा होगा। अगर इस एहसास को महसूस करना है, तो उत्तर पूर्वी राज्य सिक्किम के यमथंग में जाकर अनुभव करें। समुद्र तट से 3596 मीटर की ऊंचाई पर स्थित यह फूलों की घाटी वसंत ऋतु आते ही बेहद खूबसूरत बन जाता है।

केरला स्थित मुन्नार की घाटी

 

हनीमून पर जाने वालों के लिए मुन्नार को स्वर्ग कहा जाता है। मुन्नार की प्रकृतिक सौंदर्य में हर बाहर साल में यहां खिलने वाले फूल नीलकुरिंजी चार चांद लगा देते हैं। ये फूल लैवेंडर रंग के होते हैं और पूरी घाटी को ढ़क देते हैं और जब भी खिलते हैं तो मुन्नार विश्व भर के पर्यटकों के बीच आकर्षण का कारण बन जाता है। ये फूल अगस्त महीने की शुरूआत में खिलते हैं। वैसे अगर आप इन फूलों को देखना चाहते हैं, तो आपको अब लंबा इंतज़ार करना पड़ेगा क्योंकि ये फूल पिछले साल 2018 में खिल चुके हैं औऱ अब इन्हें खिलने में फिर 12 साल का समय लगेगा।

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

इनडोर प्लांटिंग : सुंदरता भी, फायदे भी

इनडोर प्लांटिंग...

अपने घर में पौधे लगाना जहां घर के सौंदर्य में चार...

स्मार्ट करियर गोल्स बनाने की सलाह देती हैं गृहलक्ष्मी ऑफ द डे दीपशिखा वर्मा

स्मार्ट करियर गोल्स...

गृहलक्ष्मी ऑफ द डे

संपादक की पसंद

फिक्स्ड डिपॉजिट करने के पहले जान लें ये जरूरी बातें

फिक्स्ड डिपॉजिट...

वर्तमान में कम निवेश में अधिक रिटर्न के लिए वर्तमान...

तेजाब खोखला नहीं कर पाया मेरे हौसलों को

तेजाब खोखला नहीं...

लड़कियों के चेहरे पर तेजाब डालने वालों के लिए ये कविता...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription