GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

स्नेह का बंधन मां और बच्चे का रिश्ता

मोनिका अग्रवाल

21st June 2019

आपकी नजरों में सबसे खूबसूरत रिश्ता कौन सा है? अगर यह सवाल मैं आपसे पूछूं तो आप सब बिना सोचे एकदम जवाब देंगे- 'मां और बच्चे का रिश्ता! जी हां! जीवन का सबसे खूबसूरत व सबसे अनमोल रिश्ता यही है! बिना किसी स्वार्थ भावना के, एक मां हर दिन सिर्फ अपने बच्चे का विकास, उसके स्वास्थ और उसके पोषण के लिए ही सोचती है।

स्नेह का बंधन मां और बच्चे का रिश्ता

उससे उनका आपसी संबंध निरंतर विकसित और मजबूत होता है। हालांकि ये जरूरी नहीं कि मां और बच्चे के बीच हर संवाद 'आई लव यू से शुरू हो और 'आई लव यू पर खत्म हो। वैसे भी जब तक बच्चा बोलने लायक नहीं होता, तब तक वह सांकेतिक हाव-भावों से ही, हर पल यह एहसास कराता है कि वह आपसे बहुत प्यार करता है। आइए जानते हैं, कैसे-

मां का दूध

शायद आपको थोड़ा अटपटा लगे लेकिन यह हकीकत है। मां के दूध की महक बच्चे को अपनी ओर आकर्षित करती है। तभी तो बच्चा भीड़ में भी अपनी मां की गोद को पहचान लेता है। जन्म लेने के बाद से जब तक बच्चा बोलना नहीं सीखता, मां बच्चे के इशारों के जरिये उसकी जरूरतों को पहचानना शुरू कर देती है। बच्चे की जरूरतों को पूरी करने की क्षमता, स्नेहपूर्ण स्पर्श और वे सब क्रियाएं,जो इनकी एक-दूसरे के साथ जुड़ी हुई हैं, ये मां-बच्चे के बीच के बंधन को मजबूती प्रदान करती हैं।

फिर बचपन में कदम

कहते हैं शिशु के जन्म के साथ ही मां का भी नया जन्म होता है। जी हां, मां और बच्चे के बीच इस अनोखे प्यार भरे रिश्ते में, मां का सहज रूप से तरह-तरह के चेहरे बनाने पर बच्चे की मुस्कुराहट और अपने चंचल हावभाव के साथ अपनी भाषा में जवाब देना भी शामिल है। ये एक ऐसी पारस्परिक क्रिया है, जो मां और बच्चे के रिश्ते को बढ़ावा देने में मदद करती है और ये स्नेह का बंधन मजबूत होता है।

आपसी चुंबन

छोटे बच्चे अक्सर हल्के से चुंबन के साथ अपने प्यार का अहसास कराते हैं और मां के प्रति अपनी भावनाओं को व्यक्त करते है। जब वे बिना दांत वाले मुंह से आपकी त्वचा को चूमते है तो उनका प्यार भरा स्पर्श आपका दिल जीत लेता है। शारीरिक रूप से बच्चों का ये सरल अंदाज सबसे पहले अपनी मां के सामने ही प्यार को अभिव्यक्त करता है।

टकटकी लगाना

जी हां, टकटकी लगाता बच्चा किस को मोहक नहीं लगता? ये बच्चों का काफी प्यारा तरीका है। वह भी जानता है कि इस अंदाज से किसी को बुरा नहीं लगेगा। आपको टकटकी लगाकर देखकर वह आपका चेहरा पढ़ता है और आपको रिझाने का प्रयास करता है। जब वह आपको टकटकी लगाए देख रहा हो तो उससे दूर ना जाएं या अपने कामों में उलझे नहीं, बस मुस्कुराइए।

चोट की ओर इशारा

भले ही बच्चे को जरा-सी खरोंच भी ना लगी हो, लेकिन उसका आपके पास आकर चोट की तरफ इशारा करना और आपको चूमने के लिए कहना दर्शाता है, उसका ह्रश्वयार और चाह कि उसकी मां हर हाल में, हर स्थिति में उसकी देखभाल करें।

बच्चे का रोना

यह भी बच्चे के प्यार जताने का एक तरीका है कि वे आपको अपनी आंखों से ओझल नहीं होने देता। आप जरा सा भी इधर-उधर जाएं, वह रोकर आप को अपनी ओर खींच ही लेता है। बच्चा चाहता है कि मां की निगाहें लगातार उसी पर बनी रहें, इसीलिए वह तब तक रोता रहेगा, जब तक आप दिखाई ना दें।

बांहें फैलाना

बच्चे की हर उम्र के पड़ाव पर अपना प्यार जताने का अलग तरीका होता है। जब बच्चा घुटनों के बल या छोटे-छोटे डग भर के चलने लायक हो जाता है, तब वह कई बार जान कर गिरता है, जान कर उठता है, लेकिन आपको देखकर बांहें फैलाना नहीं छोड़ता। यह मां के प्रति उसका प्यार और लाड़-प्यार दर्शाने का अपना तरीका है।

ये भी पढ़े-

पेरेन्ट्स बच्चों से कभी न कहें ऐसी बात

इन बातों का ख्याल रखकर आप बेटियों को बना सकते हैं ज्यादा कॉन्फिडेंट

बच्चों को टीवी के सामने से उठाना है तो ट्राई करें ये टिप्स

आप हमें फेसबुकट्विटरगूगल प्लस और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकती हैं।

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

इनडोर प्लांटिंग : सुंदरता भी, फायदे भी

इनडोर प्लांटिंग...

अपने घर में पौधे लगाना जहां घर के सौंदर्य में चार...

स्मार्ट करियर गोल्स बनाने की सलाह देती हैं गृहलक्ष्मी ऑफ द डे दीपशिखा वर्मा

स्मार्ट करियर गोल्स...

गृहलक्ष्मी ऑफ द डे

संपादक की पसंद

फिक्स्ड डिपॉजिट करने के पहले जान लें ये जरूरी बातें

फिक्स्ड डिपॉजिट...

वर्तमान में कम निवेश में अधिक रिटर्न के लिए वर्तमान...

तेजाब खोखला नहीं कर पाया मेरे हौसलों को

तेजाब खोखला नहीं...

लड़कियों के चेहरे पर तेजाब डालने वालों के लिए ये कविता...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription