GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

नकल से नहीं अकल से बनाइए अपना स्टाइल

रीता गंगवानी (ग्रूमिंग एंड पर्सनेलिटी डेवलपर)

8th July 2019

अपनी शॉपिंग के दौरान जाने कितनी ही गलतियां हमने इस वजह से की होंगी, क्योंकि वैसी ही स्टायलिश आउटफिट्स हमने अपने किसी दोस्त, सिलेब्रिटी या रोल मॉडल को पहने देखा होगा। यहां तक कि कई बार तो हम किसी अजनबी के स्टाइल से प्रभावित होकर, बाज़ार जाकर ठीक वैसी ही या उससे मिलती-जुलती ड्रैस खरीदकर उसकी कॉपी करने की भूल कर बैठते हैं, जिसका एहसास हमें तब होता है, जब हम खुद को आईने में देखते हैं और पाते हैं कि ये तो वैसी बिल्कुल भी नहीं लग रही है, जैसी हमने कल्पना की थी। इसके पीछ कारण ये है कि हम सभी एक-दूसरे से पूरी तरह से अलग हैं। अलग कद-काठी, अलग शारीरिक संरचना, पर्सनेलिटी, स्किन टोन के अलावा और भी बहुत-कुछ।

नकल से नहीं अकल से बनाइए अपना स्टाइल

जब एक बार आप इस सच्चाई को समझकर अपने दिमाग में बिठा लेंगे तो आप एक ऐसी शख्सियत के तौर पर उभरकर सामने आएंगे, जो कि पूरी तरह से अपनी ओरिजनल स्टाइल रखती है, न कि किसी और के स्टाइल की कॉपी है। जब भी आप अपना स्टाइल स्टेटमेंट तय करने का फैसला ले लें तो इन बातों को अपने दिमाग में रखना न भूलिएगा-

  • जो भी पहनें, उसमें आपका भरपूर आत्मविश्वास झलकना चाहिए। यकीन कीजिए, इस बात की किसी को परवाह नहीं है कि आपकी ड्रैस के भीतर किस ब्रांड का लेबल लगा है। उसकी कीमत तो आपके चेहरे पर दिखता आत्मविश्वास बताता है, प्राइज़टैग नहीं। इस बात पर भी किसी का ध्यान नहीं जाता कि आप कितने कम से कम साइज़ के कपड़ों में समा जाती हैं। इस माइंडसेट से बाहर आकर अपने सही साइज़ को स्वीकारिए।
  • कपड़े हमेशा मौसम को ध्यान में रखते हुए भी पहनें। बहुत हल्के कपड़े दीवाली के बाद और होली से पहले न पहनें। सिल्क, ऊनी, फरवाले, टसर वगैरह जैसे कपड़े इस मौसम के हिसाब से ठीक नहीं होते हैं। ठीक इसी तरह होली के बाद और दीवाली से पहले ऐसे कपड़े नहीं पहनने चाहिए, जिसमें त्वचा खुलकर सांस ही न ले पाए। कॉटन, ऑर्गेज़ा, नेट, लिनेन, शिफॉन वगैरह पूरी तरह से इस मौसम के अनुकूल होते हैं। मॉनसून में कपड़े चुनते समय ऐसे फैब्रिक ही पसंद करें, जो रिंकल फ्री होने के साथ-साथ गीले होने पर जल्दी सूखने वाले भी हों।
  • लाइफस्टाइल की तस्वीर भी शामिल है। आपके काम का क्षेत्र, आपकी समझ, आपकी लाइफस्टाइल, आपकी संगत-संबंध, जि़ंदगी के प्रति नज़रिया और लक्ष्य तक के बारे में आपका स्टाइल बता जाता है।
  • तैयार होते समय अवसर पर भी ध्यान दें कि वह कोई खास ओकेशन तो नहीं है। किसी भी इवेंट के समय अपने-आपको आउट ऑफ ओकेशन न दिखाएं। आपको हर हाल में मौके का ख्याल रखना चाहिए और उसी के अनुसार ही तैयार होना चाहिए। आप अपने किसी इंटरव्यू में रॉक स्टार बनकर नहीं जा सकते और न ही
  • दिन या रात के समय को ध्यान में रखते हुए ही कपड़ों का चयन करें। कुछ रंग दिन के हिसाब से बहुत ज़्यादा डार्क हो जाते हैं। बहुत ज़्यादा चमकीले, शाइनी, ग्लिट्टरी दिन की रोशनी में बहुत बोझिल से लगते हैं, इसलिए इस समय पर ऐसे रंगों का चुनाव करें, जो दिखने में ठंडे और असर में गर्मजोशी भरे हों। दिन के समय में काले रंग के कपड़े या मैटेलिक चीज़ों का इस्तेमाल न करें। बहुत भड़कीले कपड़ों से भी दिन के समय परहेज़ करें।
  • किसी शादी में हद से ज़्यादा सादे कपड़ों में। इस ढंग से तैयार होइए, जैसा आप दूसरों के सामने खुद को दिखाना चाहते हैं। एक परफेक्ट वॉर्डरोब से न सिर्फ़ आपकी रचनात्मकता की झलक मिलती है, बल्कि इसमें आपके
  • अगर आप एक शर्मीले इंसान हैं तो बहुत ज़्यादा हाई-फाई फैशनेबल कपड़े और आउटफिट्स न पहनें, क्योंकि भले ही ये कितने भी ट्रैंडी क्यों न हों, आप इनमें अपने को कभी सहज महसूस नहीं कर पाएंगी। इसके ठीक उलट अगर आप काफी बोल्ड और आउटगोइंग पर्सन हैं तो कोई भी ड्रैस पहन सकती हैं, जो हज़ारों निगाहों को आपकी तर$फ मोड़ दे। अपनी शख्सियत के एकदम उलट कुछ भी पहनने का कोई फायदा नहीं है। 
  • कपड़ों के चयन में रंगों का भी ख्याल रखिए। हर रंग हर किसी पर सूट नहीं करता। चाहे आपका रंग गोरा हो या सांवला, गेंहुआ हो या फिर काला, ख्याल रखिए कि आप वही रंग चुनें, जो आप पर खिले।
  • एक्सेसरीज़ की अहमियत को कभी कमतर मत आंकिएगा। चाहे वे ट्रैंडी ज्यूलरी हो या एथेनिक, मौके के हिसाब से उन्हें नापतोल कर ही पहनिए, क्योंकि कायदे से पहना गया थोड़ा ही बहुत होता है। उसके लिए एक्सेसरीज़ का शोरूम बनने की कोई ज़रूरत नहीं है। अपने-आपको जानकर फिर अपना स्टाइल तैयार कीजिए।

 

ये भी पढ़े-

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

इनडोर प्लांटिंग : सुंदरता भी, फायदे भी

इनडोर प्लांटिंग...

अपने घर में पौधे लगाना जहां घर के सौंदर्य में चार...

स्मार्ट करियर गोल्स बनाने की सलाह देती हैं गृहलक्ष्मी ऑफ द डे दीपशिखा वर्मा

स्मार्ट करियर गोल्स...

गृहलक्ष्मी ऑफ द डे

संपादक की पसंद

फिक्स्ड डिपॉजिट करने के पहले जान लें ये जरूरी बातें

फिक्स्ड डिपॉजिट...

वर्तमान में कम निवेश में अधिक रिटर्न के लिए वर्तमान...

तेजाब खोखला नहीं कर पाया मेरे हौसलों को

तेजाब खोखला नहीं...

लड़कियों के चेहरे पर तेजाब डालने वालों के लिए ये कविता...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription