GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

भावी पिता को सताती है पत्नी के प्रसव व डिलीवरी की चिंता

गृहलक्ष्मी टीम

9th July 2019

भावी पिता को सताती है पत्नी के प्रसव व डिलीवरी की चिंता

‘‘मैं शिशु के जन्म को लेकर काफी उत्साहित हूँ लेकिन इस वजह से काफी तनाव भी है।’’

बहुत कम पिता ऐसे होते हैं, जिन्हें इस बारे में तनाव न होता हो। यहां तक कि सैकड़ों डिलीवरी करवाने वाले डॉक्टर भी अपने शिशु के जन्म के समय घबरा जाते हैं। लेकिन वे सब अपनी घबराहट पर काबू पाकर, अपने साथी को पूरी तरह से संभालने के लिए तैयार भी हो जाते हैं। यदि आप चाइल्ड बर्थ कक्षाओं में जाएँ तो अपने डर व घबराहट पर काफी हद तक काबू पा सकते हैं।

आपको इस विषय का विशेषज्ञ बनना होगा क्योंकि जानकारी से आधा डर निकल जाता है । इंटरनेट या किताबों से इस बारे में जानकारी लें। लेबर व डिलीवरी की डीवीडी देखें। अस्पताल या बर्थ सेंटर में समय से पहले पहुँचें ताकि वहाँ के माहौल से परिचित हो सकें। अपने ऊपर इतना दबाव महसूस न करें।वहाँ आपके अलावा डॉक्टर नर्स व दाई वगैरह भी होंगे। अगर आप कुछ भूल भी गए तो वो सब संभाल लेंगे। आपकी पत्नी भी उस समय इस हालत में नहीं होगी कि आपकी किसी बात का बुरा माने या नाराजगी दिखाए। आपका वहां होना व आपका स्पर्श ही उसके लिए काफी होगा।

अब भी प्रदर्शन के लिए चिंतित हैं। अपने किसी पारिवारिक सदस्य को ले जाएँ।

‘‘खून देखते ही मेरी हालत खराब हो जाती है। डिलीवरी के वक्त क्या होगा?’’

अधिकतर भावी पिता डिलीवरी के समय दिखनेवाले खून के बारे में सोचकर घबरा जाते हैं।जबकि उम्मीद यही है कि इस ओर तो आपका ध्यान तक नहीं जाएगा। शिशु को देखने की उत्सुकता इतनी हावी होगी कि कुछ और दिखाई ही नहीं देगा।

यदि खून देखते ही घबराहट हो तो अपनी साथी के चेहरे पर ध्यान दें। सब ठीक हो जाएगा।

‘‘मेरी पत्नी की डिलीवरी सी-सैक्शन से होने वाली है। ऐसे में मुझे पहले से क्या-क्या जानना होगा?’’

सी-सैक्शन के बारे में जितना जानेंगे,आपके लिए उतना ही बेहतर होगा। आपकी प्रतिक्रिया का साथी पर गहरा असर होगा। अगर आप ही डरकर घबरा गए तो उसे सहारा कौन देगा। इस बारे में जानकारी पाना ही तनाव घटाने का सबसे बेहतर तरीका हो सकता है।दोनों मिलकर चाइल्ड बर्थ कक्षा में जाएँ व डॉक्टर से बातचीत करें।

सी-सैक्शन पूरी तरह सुरक्षित होता है।अस्पतालों में इसे और भी सहज बनाने की कोशिश की जा रही है ताकि आप लोग ऑप्रेशन के नाम से ही थर-थर काँपने न लगें।

 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

इनडोर प्लांटिंग : सुंदरता भी, फायदे भी

इनडोर प्लांटिंग...

अपने घर में पौधे लगाना जहां घर के सौंदर्य में चार...

स्मार्ट करियर गोल्स बनाने की सलाह देती हैं गृहलक्ष्मी ऑफ द डे दीपशिखा वर्मा

स्मार्ट करियर गोल्स...

गृहलक्ष्मी ऑफ द डे

संपादक की पसंद

फिक्स्ड डिपॉजिट करने के पहले जान लें ये जरूरी बातें

फिक्स्ड डिपॉजिट...

वर्तमान में कम निवेश में अधिक रिटर्न के लिए वर्तमान...

तेजाब खोखला नहीं कर पाया मेरे हौसलों को

तेजाब खोखला नहीं...

लड़कियों के चेहरे पर तेजाब डालने वालों के लिए ये कविता...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription