GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

गृहलक्ष्मी दोपहर सीजन-5: खुशियों को कुछ यूं बांटा 'गोल्डन क्लब’ की महिलाओं के साथ

पूनम रावत

20th July 2019

हर महिला को गृहलक्ष्मी दोपहर का इंतज़ार होता है। महिलाएं इसके लिए कई तैयारियाँ करती हैं। कोई परफॉर्मेंस की तैयारी कर रही थी, तो कहीं अपनी ड्रेस को सवांर रही थी। इनके उत्साह को देखते ही बन रहा था।

गृहलक्ष्मी दोपहर सीजन-5: खुशियों को कुछ यूं बांटा 'गोल्डन क्लब’ की महिलाओं के साथ

हर बार की तरह इस बार भी मस्ती और धमाल के साथ गृहलक्ष्मी दोपहर सीजन 5 का कारवां पहुँचा 'गोल्डन क्लब’। यहां ‘गोल्डन क्लब’ की महिलाओं ने फन एक्टिविटीज और गेम्स में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया और गृहलक्ष्मी दोपहर को किया खूब एन्जॉय। इस क्लब की प्रेसिडेंट प्रीती जैन हैं।

स्वच्छ भारत की शपथ

गृहलक्ष्मी दोपहर में कार्यक्रम की शुरूआत स्वच्छ भारत की शपथ के साथ हुई। क्लब मेंबर्स ने शपथ ली कि वे केवल अपने घर की ही साफ सफाई नहीं बल्कि आस-पास की जगह और शहर को भी साफ रखने में अपना सहयोग करेंगी और साथ ही और लोगों को भी स्वच्छ भारत के लिए प्रोत्साहित करेंगी। अपने वातावरण को स्वच्छ रखने के लिए ज्यादा से ज्यादा पेड़-पौधे लगाने की कोशिश करेंगी और दूसरों को भी प्रोत्साहित करेंगी।

टाइटल्स से नवाज़ा गया

गृहलक्ष्मी दोपहर द्वारा महिलाओं को कई टाइटल्स से नवाज़ा गया था। जज को सबसे ज्यादा प्रभवित करके फर्स्ट रनरअप रहीं रेखा पोरवाल, सेकंड रनरअप रहीं रश्मि अग्रवाल और थर्ड रनरअप रहीं बबीता अग्रवाल। 

ब्रांड्स एक्टिविटीज़ का जादू

 

हर बार की तरह इस बार भी इवेंट को और भी एक्ससाइटेड बनाने के लिए हमारे बीच ब्रांड पार्टनर ‘फेम क्रीम ब्लीच’ मौजूद रहे। फेम की तरफ से महिलाओं को टाइटल्स दिए गए।

ये भी पढ़ें

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

इनडोर प्लांटिंग : सुंदरता भी, फायदे भी

इनडोर प्लांटिंग...

अपने घर में पौधे लगाना जहां घर के सौंदर्य में चार...

स्मार्ट करियर गोल्स बनाने की सलाह देती हैं गृहलक्ष्मी ऑफ द डे दीपशिखा वर्मा

स्मार्ट करियर गोल्स...

गृहलक्ष्मी ऑफ द डे

संपादक की पसंद

फिक्स्ड डिपॉजिट करने के पहले जान लें ये जरूरी बातें

फिक्स्ड डिपॉजिट...

वर्तमान में कम निवेश में अधिक रिटर्न के लिए वर्तमान...

तेजाब खोखला नहीं कर पाया मेरे हौसलों को

तेजाब खोखला नहीं...

लड़कियों के चेहरे पर तेजाब डालने वालों के लिए ये कविता...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription