GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

बच्चे को घर में अकेला छोड़ते समय रखें कुछ बातों का ध्यान 

संविदा मिश्रा

30th July 2019

वैसे तो पेरेंट्स जब तक इस बात के लिए श्योर नहीं होते कि  उनका बच्चा इतना समझदार है कि  घर में आसानी से अकेला  रुक जाएगा तब तक बच्चे को अकेला नहीं छोड़ते लेकिन समझदार बच्चों से भी कई बार ऐसी लापरवाही हो जाती है जो खतरनाक साबित  हो सकती है। ऐसे में कुछ बातों को ध्यान में रखकर बिना किसी चिंता के बच्चों को घर में अकेला छोड़ा जा सकता है। 

बच्चे को घर में अकेला छोड़ते समय रखें कुछ बातों का ध्यान 
आमतौर पर देखा गया है कि पेरेंट्स अपने बच्चों को बहुत कम ही अकेला घर में छोडते हैं। पेरेंट्स के मन में बच्चे को लेकर एक ओवरप्रोटेक्शन की भावना होती है जिसकी वजह से वो अपने बच्चे को तब तक घर में अकेला छोड़कर  नहीं जाते जब तक काम बहुत ज़रूरी न हो। वर्किंग पेरेंट्स भी बच्चों की देखभाल के लिए घर में किसी मेड या फिर किसी अन्य व्यक्ति को रखते हैं।लेकिन कुछ बातों का ध्यान रखकर आप अपने बच्चे को घर में अकेला छोड़कर जा सकते हैं। 
 
  • बच्चे को मोबाइल ज़रूर देकर जाएं जिससे समय -समय पर वो अपनी गतिविधियों से अवगत कराता रहेगा। आप कितने भी व्यस्त क्यों न हों बच्चों की बीच-बीच में खबर लेते रहें।  
  •  बच्चे को कुछ जरूरी इमरजेंसी नंबर देकर जाएं चाहे तो वो नंबर मोबाइल की जगह किसी पेपर पर लिख दें जिससे कि वो आपातकालीन परिस्थितियों में उन नम्बर्स पर संपर्क कर सके।  
  • बच्चे को घर के किसी एक कोने या कमरे में बंद न करें ताकि अनहोनी होने पर वो बाहर भाग सके। 
  • बच्चे को अपने सामने दरवाजा बंद करना और खोलना सिखाएं। उसे ये भी बताएं कि ऊपर की कुंडी लगाने की जगह वो नीचे की कुंडी लगाए ।
  • बच्चे के खाने-पीने की चीजें ऐसी जगह पर रख कर जाएं जहाँ वो आसानी से पहुंच सके। हो सके तो खाने का सामान किचन से बहार रख दें। किचन में गैस से आग लगने का खतरा हमेशा बना रहता है इसलिए गैस सिलेंडर का नॉब नीचे से बंद कर दें। 
  • बच्चे को कोई क्रिएटिव काम जैसे उसकी पढ़ाई से संबंधित काम देकर जाएं ताकि वो उसी में व्यस्त रहे। 
  • घर में यदि बालकनी है तो उसको अंदर से लॉक कर दें। कई बार बच्चे बालकनी में चेयर व कुछ अन्य सामान रखकर खड़े होते हैं जो उनकी जान के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। 
  • बच्चे को ये बात ठीक से सिखा दें कि  किसी अंजान व्यक्ति के लिए दरवाज़ा बिल्कुल न खोलें। 
     
     
     यदि आपके पड़ोसी से संबंध अच्छे हैं तो इस बात की जानकारी अपने पड़ोसी को देकर जाएं कि बच्चा घर में अकेला है। 

ये भी पढ़ें -

बच्चों के लिए बेहद जरूरी है प्यार भरी झप्पी और मीठी-सी पप्पी

इन बातों का ख्याल रखकर आप बेटियों को बना सकते हैं ज्यादा कॉन्फिडेंट

पेरेन्ट्स बच्चों से कभी न कहें ऐसी बात

 

आप हमें फेसबुकट्विटरगूगल प्लस और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकती हैं।

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

इनडोर प्लांटिंग : सुंदरता भी, फायदे भी

इनडोर प्लांटिंग...

अपने घर में पौधे लगाना जहां घर के सौंदर्य में चार...

स्मार्ट करियर गोल्स बनाने की सलाह देती हैं गृहलक्ष्मी ऑफ द डे दीपशिखा वर्मा

स्मार्ट करियर गोल्स...

गृहलक्ष्मी ऑफ द डे

संपादक की पसंद

फिक्स्ड डिपॉजिट करने के पहले जान लें ये जरूरी बातें

फिक्स्ड डिपॉजिट...

वर्तमान में कम निवेश में अधिक रिटर्न के लिए वर्तमान...

तेजाब खोखला नहीं कर पाया मेरे हौसलों को

तेजाब खोखला नहीं...

लड़कियों के चेहरे पर तेजाब डालने वालों के लिए ये कविता...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription