GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

सिंगल मदर से कभी न कहें ये बातें

संविदा मिश्रा

6th August 2019

बेहद कॉन्फिडेंस से भरी हुई, निरंतर संघर्ष करती हुई और बच्चे की पूरी ज़िम्मेदारी अकेले उठाने वाली सिंगल मदर। जो बहुत सी परेशानियों से अकेले ही जूझ रही होती है ऐसी मां को कभी आघात पहुंचाने वाली बात नहीं बोलनी चाहिए।

सिंगल मदर से कभी न कहें ये बातें
ओवर-वर्क, तनाव से भरी हुई , बहुत कम नींद लेने वाली , और सब कुछ अकेले सँभालने वाली ऐसी होती है सिंगल मदर।  एक ऐसी मां  जो बिना किसी और की मदद के अकेले ही अपने बच्चे की पूरी देखभाल करती है। फिजिकली, मेंटली और फ़िनान्सियली सभी तरह का सपोर्ट वो बच्चे को अकेले ही देती है। पति का किसी वजह से दूसरी शादी कर लेना , बिना शादी के मां बन जाना , किसी बच्चे को शादी के बिना ही गोद ले लेना या फिर पति की किसी वजह से असमय मृत्यु हो जाना।  वजह चाहे जो भी हो सिंगल मदर बहुत ज्यादा बोल्ड और हिम्मती होती है। उसके कंधे पर अपने बच्चे का पूरा दारोमदार होता है। जाने अंजाने कई बार हम ऐसी मां से कोई ऐसी बात  बोल देते हैं जो उसकी भावनाओं को आघात पहुंचाती हैं। आइए ऐसी कौन सी बातें हैं जो कभी सिंगल मदर से नहीं कहनी चाहिए। 
 
 
मैं ऐसा कभी नहीं कर सकती 
सिंगल मदर से कभी ये बात न कहें कि आप ऐसा कभी नहीं कर सकती। हो सकता है किसी परिस्थितिवश वो सिंगल मदर की तरह रह रही हो इसलिए उसे ये बात आघात पंहुचा सकती है। बहुत सारी सिंगल मदर ने कभी नहीं सोचा था कि वो ये सब संभाल पाएंगी लेकिन वो रोज़ संगर्ष करके सब संभाल रही हैं।  
 
बच्चे के पापा कहाँ हैं 
आप कभी भी नहीं जान सकते कि  किसी व्यक्ति की परिस्थितियां क्या हैं। ये जानना कोई मायने नहीं रखता कि बच्चेके पिता कहाँ हैं। यदि वो आपको इसके बारे में बताना चाहे तो खुद ही जिक्र करेगी। या अगर किसी के बच्चे की पिता गुजर गए तो आपका  ये प्रश्न सिंगल मदर की भावनाओं को ठेस पंहुचा सकता है। 
 
तुम अपने बच्चे को उसके पिता के बारे में क्या बताओगे 
ये एक पर्सनल प्रश्न है कि मां अपने बच्चे को उसके पिता के बारे में कब और कैसे बताए। आपको इस बात में किसी तरह की दखलंदाज़ी नहीं करनी चाहिए। 
 
आपने अपने बच्चे के सपोर्ट के लिए लड़ाई क्यों नहीं की 
 
यह मत समझिये  कि आर्थिक रूप से जीवित रहने के लिए सिंगल मदर को पिता के सपोर्ट की आवश्यकता होती है। बहुत सी माताएं अपने दम पर स्थिर और पर्याप्त लिविंग बनाते हैं। और उनकी सैलरी बच्चे की परवरिश की लागत को कवर करने के लिए पर्याप्त से अधिक होती है। 
 
आप लकी हैं की आपके पास लड़ने के लिए पार्टनर नहीं है 
कभी मज़ाक में भी सिंगल मदर से ये बात नहीं बोलनी चाहिए क्योंकि उसके मन की स्थिति का पता आप नहीं लगा सकती हैं कि वो अपने पार्टनर को कितना मिस करती है।  आपकी ये छोटी सी बात उसको झकझोर कर रख देगी। 
 
ये एक दुखद बात है कि आपके बच्चे को पिता के बिना ही बड़ा होना पड़ेगा 
ऐसा कभी नहीं कहना  चाहिए कि आपके बच्चे को पिता का स्नेह नहीं मिल पा रहा है और उसको बिना पिता के ही बड़ा होना पड़ेगा। 
 
तुम्हे बहुत अकेला फील होता होगा 
सिंगल मदर से कभी नहीं बोलना चाहिए कि उसे अकेला फील होता होगा।  क्योंकि पूरे टाइम अपने बच्चे की अकेले सँभालने वाली मां को बच्चे के पिता की कमी फील होना लाज़मी है लेकिन उससे ये बात बोलने से उसे आघात लग सकता है। 
 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

इनडोर प्लांटिंग : सुंदरता भी, फायदे भी

इनडोर प्लांटिंग...

अपने घर में पौधे लगाना जहां घर के सौंदर्य में चार...

स्मार्ट करियर गोल्स बनाने की सलाह देती हैं गृहलक्ष्मी ऑफ द डे दीपशिखा वर्मा

स्मार्ट करियर गोल्स...

गृहलक्ष्मी ऑफ द डे

संपादक की पसंद

फिक्स्ड डिपॉजिट करने के पहले जान लें ये जरूरी बातें

फिक्स्ड डिपॉजिट...

वर्तमान में कम निवेश में अधिक रिटर्न के लिए वर्तमान...

तेजाब खोखला नहीं कर पाया मेरे हौसलों को

तेजाब खोखला नहीं...

लड़कियों के चेहरे पर तेजाब डालने वालों के लिए ये कविता...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription