GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

जानें कब से शुरू है शारदीय नवरात्र , क्या है कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त

संविदा मिश्रा

26th September 2019

नवरात्रि हिंदुओं के प्रमुख त्यौहारों में से एक है। पूरे भारत में लोग नवरात्रि के इन नौ दिनों के अवसर को बेहद ही उत्साह के साथ मनाते हैं खासतौर पर शारदीय नवरात्रि का अलग ही महत्त्व है। शारदीय नवरात्रि नौ दिनों तक चलती है और दसवें दिन दशहरा का त्यौहार मनाया जाता है । इस दौरान मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा की जाती है। यह नौ रूप हैं - शैलपुत्री, ब्रह्मचारिणी, चंद्रघंटा, कूष्मांडा, स्कंदमाता, देवी कात्यायनी, कालरात्रि, महागौरी और सिद्धिदात्री।

जानें कब से शुरू है शारदीय नवरात्र , क्या है कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त
नवरात्रि का त्यौहार  देश के कोने-कोने में मनाया जाता है। इस पर्व में 9 दिनों तक अलग ही धूम होती है। इस त्यौहार में  9 दिनों तक मां दुर्गा की पूजा-अर्चना की जाती है और लोग मां दुर्गा को प्रसन्न करने के लिए  9 दिनों तक उपवास भी रखते हैं। नवरात्रि में कलश स्थापना के साथ नौ दिनों तक  मां दुर्गा के अलग-अलग रूपों की पूजा की जाती है।  आइए जानते हैं कब है शारदीय नवरात्र और क्या है कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त 

कब है नवरात्रि 

इस बार शारदीय नवरात्रि 29 सितंबर से शुरू होकर 7 अक्टूबर तक मनाई जाएगी। इसके बाद  8 अक्टूबर को दशहरा का त्यौहार है।  29 सितंबर यानि कि प्रतिपदा के दिन  कलश स्थापना भी की जाएगी।  मान्यता के अनुसार मां दुर्गा की कृपा पाने के लिए कलश की स्थापना हमेशा शुभ  मुहूर्त में ही करनी चाहिए।  

कलश स्थापना का मुहूर्त 

नवरात्रि में कलश स्थापना चक्र सुदर्शन मुहूर्त में करना श्रेष्ठ माना गया हैं। यदि अभिजित मुहूर्त में कलश स्थापना संभव ना हो तो अनुकूल लाभ, शुभ और अमृत चौघडिया श्रेष्ठ मानी जाती  है। यदि किसी संयोगवश, इनमे भी आप कलश स्थापना न कर पायें तो सोम, बुध, गुरु और शुक्र में से किसी की भी एक दिन होरा में कलश स्थापना कर सकते हैं।
इस बार नवरात्रि पर कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त सुबह सुबह 6 बजकर 16 मिनट से लेकर 7 बजकर 40 मिनट तक है। इसके अलावा सुबह 07 बजकर 42 मिनट से 09 बजकर 11 मिनट तक चौघड़िया सामान्य किंतु  कलश स्थापना किया जा सकता है। 09 बजकर 11 मिनट से 10 बजकर 40 मिनट तक लाभ चौघड़िया अतिशुभ और कल्याणकारी है । अतः यह कलश स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त है। यदि किसी वजह से आप सुबह कलश स्थापित नहीं कर पाए तो आप दिन में भी कलश स्थापना कर सकते हैं।  इसके लिए शुभ मुहूर्त दिन के 11 बजकर 48 मिनट से लेकर 12 बजकर 35 मिनट तक है। 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

default

शारदीय नवरात्रि 2019: नौ दुर्गा पूजन की ऐसे...

default

जानें नवरात्रि में श्री दुर्गा सप्तशती पाठ...

default

जानिए कब से शुरू हो रहे हैं चैत्र नवरात्र,...

default

शत्रुओं पर विजय चाहते हैं तो इस दशहरा करें...