न्यू ब्राइड्स दिमाग से निकाल दे ये मेकअप मिथ्य

गरिमा अनुराग

4th October 2019

न्यू ब्राइड्स दिमाग से निकाल दे ये मेकअप मिथ्य

मेकअप हर नई दुल्हन के लिए बड़ी कारगर चीज़ है, लेकिन मेकअप से जुडे़ ऐसे कई मिथ्य हैं,जिसकी वजह से कई न्यूली वेड लड़कियां इसे अपने रुटीन में शामिल नहीं करना चाहती। अगर आपके मन में भी मेकअप को लेकर किसी तरह की उलझन है तो पढ़िए-

पहला मिथ्य -

रोज़ मेकअप करने से स्किन को नुकसान पहुंचता है।
रोज़ मेकअप करने से स्किन को कोई नुकसान नहीं पहुंचती। नुकसान पुराने और सस्ती क्वालिटी के प्रोडक्ट्स यूज़ करने से होता है, लेकिन अगर आप सही प्रोडक्ट यूज़ करें और स्किन केयर रुटीन (क्लींजिंग-टोनिंग-मॉइश्चराइज़िंग) मेंटेन करें तो रोज़ मेकअप कर सकती हैं। 

दूसरा मिथ्य - 
अगर आप अकेले ब्रश यूज़ कर रही हैं तो आपको ब्रश धोने की जरूरत नहीं है।
मेकअप ब्रश पर कई तरह के प्रोडक्ट्स लगते हैं। इन्हें ज्यादा दिनों तक नहीं धोने से इनमें बैक्टेरिया पनपने लगते हैं और फिर इनके इस्तेमाल से कई तरह के स्किन इंफेक्शन भी होने लगते हैं। 

तीसरा मिथ्य - 
मस्करा ब्रश को बार-बार ट्यूब में डालने से उसपर ज्यादा लिक्विड लगता है और अच्छी फिनिशिंग आती है।
मस्करा के बारे में अक्सर लोगों को ये गलतफहमी होती है कि मस्करा के ब्रश को बार-बार ट्यूब में डिप करने से ब्रश में ज्यादा लिक्विड लगता है या आई लैशेज़ पर मोटी परत लगती है, लेकिन ये गलत है। बार-बार ट्यूब में ब्रश डालने से बाहर से ऐयर ट्यूब में घुस जाता है और प्रोडक्ट जल्दी सूखने लगता है। 

चौथा मिथ्य - 
ग्लिटर या शिमर से आप ज्यादा गॉर्जियस लगेंगी
अकसर न्यू ब्राइड को तैयार करते हुए उसे ढे़र सारा ग्लिटर या शिमर लगाया जाता है ताकि वो स्टेज पर ग्लो करती नज़र आए। ग्लिटर को लगाने से चेहरा चमकता तो जरूर है, लेकिन ये बहुत कम लड़कियां जानती हैं कि ग्लिटर को बहुत हेवी नहीं, हल्का सा लगाना चाहिए क्योंकि ये कम में ज्यादा अच्छा इफेक्ट देते हैं।

पांचवां मिथ्य
रेड लिपस्टिक हर किसी पर अच्छा नहीं लगती

ज्यादातर लोग खुद से ही ये मान लेते हैं कि रेड सब पर अच्छा नहीं लगता है। इसलिए रेड से दूर रहें  लेकिन हम न्यू ब्राइड्स को बताना चाहेंगे कि रेड कलर हर इंडियन शेड पर अच्छा लगता है और रेड लिपस्टिक भी। बस आपको अपनी स्किन के अनुसार रेड का सही शेड चुनना है। 

छट्ठा मिथ्य -
अपने स्किन टोन से हल्का फाउंडेशन लगाने से फोटो में आप ज्यादा गोरी नज़र आती हैं।
फाउंडेशन एक ऐसा प्रोडक्ट है, जो स्किन को एकसार करता है, लेकिन लोग सोचते हैं कि इस प्रोडक्ट का इस्तेमाल ज्यादा गोरे होने के लिए किया जाता है। जबकि स्किन टोन से हल्के शेड का फाउंडेशन लगाने पर चेहरा ग्रे लुक देता है , जिससे  फोटो अच्छी आती है।

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

श्रद्धा कपूर...

श्रद्धा कपूर का ब्यूटी सीक्रेट - श्रद्धा...

नैचुरल खूबसू...

नैचुरल खूबसूरती ही है असली खूबसूरती - आलिया...

एलोवेरा जैल ...

एलोवेरा जैल है मेरी स्किन ग्लो का राज़- सारा...

ब्यूटी कैलेंडर

ब्यूटी कैलेंडर

पोल

आपकी पसंदीदा हिरोइन

गृहलक्ष्मी गपशप

पहली बार घर ...

पहली बार घर रहे...

लाॅकडाउन से पहले अक्षय कुमार की फिल्म सूर्यवंशी रीलीज़...

अनलाॅक 2 में...

अनलाॅक 2 में 31...

मिनिस्ट्री आफ होम अफेयर्स ने कहा है कि जो डोमैस्टिक...

संपादक की पसंद

गुरु एक सेतु...

गुरु एक सेतु है,...

गुरु तो एक सेतु है, एक संभावना है। गुरु एक तरह की रिक्तता...

दिल जीत लेंग...

दिल जीत लेंगे जयपुर...

जयपुर को गुलाबी शहर कहा जाता है लेकिन ये महलों का शहर...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription