दीपिका की इस बात पर भड़की कंगना की बहन रंगोली चांदेल

गरिमा अनुराग

17th October 2019

दीपिका की इस बात पर भड़की कंगना की बहन रंगोली चांदेल
जब से दीपिका पादुकोण ने कंगना की फिल्म मेंटल है क्या के टाइटल और पोस्टर पर उंगली उठाई है, वो कंगना की बहन रंगोली चांदेल के निशाने पर हैं। हाल में ही दीपिका ने एक इंटरव्यू में फिर से कहा था कि इस फिल्म का नाम और पोस्टर थोड़ा और संवेदनशील होना चाहिए क्यूंकि मानसिक रूप से परेशान लोगों को सामान्य महसूस कराने के बहुत तरह के प्रयास हो रहे हैं, और ऐसे पोस्टर इन्हें स्टीरियोटाइप करते हैं।
इसपर रंगोली ने लगातार कई ट्वीट्स शेयर करते हुए लिखा कि कंगना को लोगों की तरह मीडिया के सामने बॉयफ्रेंड का कच्छा सुखाना नहीं आता (याद दिला दें, दीपिका ने एक इंटरव्यू के दौरान रनवीर कपूर के बॉक्सर की तारीफ करते हुए कहा था कि रनबीर के पास सबसे क्यूट बॉक्सर्स हैं।) और न ही डिप्रेशन का नाटक करना आता है। रंगोली ने लिखा कि अच्छा है कि कंगना क्लासी एक्ट्रेस नहीं है और वो सिर्फ अपने काम पर फोकस करती है। रंगोली ने ये भी कहा कि कंगना बहुत नादान है कि वो अपनी इमेज नहीं बना पाई, मीडिया और पब्लिक को अपनी उंगलियों पर नहीं नचा पाई।

वैसे दीपिका के फैन्स उन्हें अब उन्हें एसिड अटैक सर्वाइवर लक्ष्मी अग्रवाल के जीवन पर आधारित फिल्म छपाक और रनवीर सिंह के साथ 83 में देखेंगे। 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

तो इसलिए कंग...

तो इसलिए कंगना ने नहीं की फिल्म 'सांड की...

Chhapaak: कं...

Chhapaak: कंगना रनौत की बहन रंगोली ने बताया...

Chhapaak Box...

Chhapaak Box Office Collection: जानिए कितने...

दीपिका पादुक...

दीपिका पादुकोण के टिकटॉक वीडियो पर भड़कीं...

पोल

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत किस देश से हुई थी ?

वोट करने क लिए धन्यवाद

इंग्लैण्ड

जर्मनी

गृहलक्ष्मी गपशप

क्या है वॉटर...

क्या है वॉटर वेट?...

आपने कुछ खाया और खाते ही अचानक आपको महसूस होने लगा...

विजडम टीथ या...

विजडम टीथ यानी अकल...

पिछले कुछ दिनों से शिल्पा के मुंह में बहुत दर्द हो...

संपादक की पसंद

नारदजी के कि...

नारदजी के किस श्राप...

कहते हैं कि मां लक्ष्मी की पूजा करने से पैसों की कमी...

पहली बार खुद...

पहली बार खुद अपने...

मेहंदी लगाना एक कला है और इस कला को आजमाने की कोशिश...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription