बायोडिग्रेडेबल पेंटिंग इस्तांबुल में दिया एकजुटता का संदेश

Jyoti Sohi

2nd December 2020

सायपे बियान्ड वाल्स नाम से दुनियाभर में विशालकाय चित्र बना रहे हैं। जून 2019 में शुरू हुए इस प्रोजेक्ट का इस्तांबुल आठवां पड़ाव है। सायपे फोब्र्स कल्चर के 30 अंडर 30 प्रभावी कलाकारों की सूची में भी शुमार रहे हैं।

बायोडिग्रेडेबल पेंटिंग इस्तांबुल में दिया एकजुटता का संदेश
तुर्की के शहर इस्तांबुल में बनी ये विशालकाय पेंटिंग फ्रांस के चित्रकार सायपे ने बनाई है। सायपे दुनिया में एकजुटता और नेकी का संदेश देने के मिशन पर है। बियान्ड वाल्स नाम से वे दुनियाभर में इसी तरह के विशालकाय चित्र बना रहे हैं। जून 2019 में शुरू हुए इस प्रोजेक्ट का इस्तांबुल आठवां पड़ाव है। चित्र बनाने में सायपे ने चारकोल, चाक, पानी और मिल्क प्रोटीन से बनी बायोडिग्रेडेबल चीजों को इस्तेमाल किया है। सायपे फोब्र्स कल्चर के 30 अंडर 30 प्रभावी कलाकारों की सूची में भी शुमार रहे हैं।

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

एक ऐसा समुद्...

एक ऐसा समुद्र जहां कभी नहीं डूबेंगे आप, जानें...

ताइवान में ब...

ताइवान में बांस के इस्तेमाल से बनाई गई अनोखी...

विचित्र: ढाई...

विचित्र: ढाई घंटे तक बर्फ के क्यू.ग्लास में...

150 फुट की ग...

150 फुट की गहराई में बना इथोपिया का ये खास...

पोल

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत किस देश से हुई थी ?

वोट करने क लिए धन्यवाद

इंग्लैण्ड

जर्मनी

गृहलक्ष्मी गपशप

क्या है वॉटर...

क्या है वॉटर वेट?...

आपने कुछ खाया और खाते ही अचानक आपको महसूस होने लगा...

विजडम टीथ या...

विजडम टीथ यानी अकल...

पिछले कुछ दिनों से शिल्पा के मुंह में बहुत दर्द हो...

संपादक की पसंद

नारदजी के कि...

नारदजी के किस श्राप...

कहते हैं कि मां लक्ष्मी की पूजा करने से पैसों की कमी...

पहली बार खुद...

पहली बार खुद अपने...

मेहंदी लगाना एक कला है और इस कला को आजमाने की कोशिश...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription