GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

एक और पापा आ...

एक और पापा आए थे...

बात उन दिनों की है, जब मैं ढाई- तीन साल की थी। तब मैं अपनी मम्मी को तो मम्मी ही पुकारती थी, लेकिन पापा या किसी भी जेंट्स को पापा कह...

इतना खाते है...

इतना खाते हैं शर्म नहीं आती

हमारे घर पर पापा के कुछ दोस्त आए हुए थे तो मम्मी ने तरह-तरह के पकवान बनाए। मैं भी मम्मी का हाथ बंटा रही थी। जब मेहमान खाने पर आए तो...

खूब पड़ी बार...

खूब पड़ी बारिश की मार

जब मैं 7-8 साल का था, मुझे बारिश में नहाना बहुत पसंद था। एक दिन की बात है, मैं स्कूल के लिए निकला। मैंने देखा बहुत जोर की बारिश आ रही...