GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

इन उपायों को...

इन उपायों को करने से मिलेगी 'पितृदोष'...

  पितृ हमारे पूर्वज हैं जिन्हें हम देवता के समान पूजते हैं। पितृ हमारे बुजुर्गों के वे सूक्ष्म शरीर हैं जो मृत्यु पर्यंत पुनर्जन्म...

गणेश चतुर्थी...

गणेश चतुर्थी: ऐसे करें गणपति को...

कहते हैं कोई भी व्रत करने के लिए मन में श्रद्धा होना परम आवश्यक है। मन के आन्तरिक भाव से किया गया व्रत सीधा भगवान तक पहुंचता है। परन्तु...

जन्माष्टमी प...

जन्माष्टमी पर जाएं कान्हा के धाम...

कृष्ण का नाम लेते ही राधा रानी के साथ बंकिम मुद्रा में खड़े अधरों पर बांसुरी लगाये बांकेबिहारी की मनोहारी छवि सामने आ जाती है। भक्त...

निर्जला एकाद...

निर्जला एकादशी: इसी व्रत से मिला...

  ज्येष्ठ मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी निर्जला एकादशी कहलाती है। अन्य माह की एकादशियों में फलाहार किया जाता है, परन्तु इसमें जल तक...

आखिर क्यों क...

आखिर क्यों कहते हैं गंगा को गंगा...

  गंगा हिंदू धर्म की ही नहीं, बल्कि भारत तथा समस्त संसार की पवित्र नदी है। गंगा का नाम ही इतना पवित्र है कि जिसे लेते ही तन-मन ही...

जानिए आखिर क...

जानिए आखिर क्यों मनाया जाता है...

      बैसाखी शब्द सुनते ही दिलोदिमाग पर प्रसिद्ध व जोशीला गिद्ध व भांगड़ा नृत्य जीवंत हो उठता है। ये नृत्य, जिसमें उत्साह, उमंग...

जानिए कैसे ब...

जानिए कैसे बदलता और बिगड़ता जा...

    क्या हमारे जीवन में कोई ऐसा व्रत है जब हम कह सकें कि हम एक दिन के लिए गुस्सा छोड़ देंगे, किसी की निंदा या चुगली नहीं करेंगे...

महाशिवरात्रि...

महाशिवरात्रि पर ही हुआ था शिवलिंग...

  शिवरात्रि अथवा महाशिवरात्रि हिन्दुओं का एक प्रमुख त्योहार है। शिव पुराण के ईशान संहिता में बताया गया है कि फाल्गुन कृष्ण चतुर्दशी...

शिवलिंग पर इ...

शिवलिंग पर इन 10 चीजों को चढ़ाने...

सभी देवी-देवताओं में शिवजी का विशेष स्थान है। देवों के देव महादेव के भक्त उन्हें प्यार से भोले बाबा भी कहकर बुलाते हैं। भोले अपने नाम...