GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

कंप्यूटर स्क्रीन का उपयोग करते समय अपनी आँखों की सुरक्षा कैसे करें?

Dr. Snehal Singh

3rd June 2020

अधिक स्क्रीन समय और कंप्यूटर का उपयोग बढ़ रहा है। न केवल कामकाजी लोग, बल्कि ऑनलाइन अध्ययन के लिए छात्र भी, स्क्रीन पर अधिक समय बिता रहे हैं। स्मार्टफोन का इस्तेमाल हर कोई विभिन्न उद्देश्यों के लिए कर रहा है। यह सभी उम्र के लोगों में बढ़ती चिंता है। इस लेख में, हम यह देखेंगे कि कंप्यूटर स्क्रीन का उपयोग करते समय अपनी आँखों की सुरक्षा कैसे करें?

कंप्यूटर स्क्रीन का उपयोग करते समय अपनी आँखों की सुरक्षा कैसे करें?
एक दिन मैं अपनी बहन से बात कर रही थी। उसे आँखों में जलन और सूखापन की शिकायत थी। कुछ घंटों के लिए कंप्यूटर पर काम करने के बाद, उसकी आँखों में पानी आना शुरू हो जाता है। उसे आँखों के आसपास दर्द होता था और कभी-कभी सिरदर्द भी होता था। उसे आँखों में जलन और आँखों में दर्द की शिकायत थी। कुछ घंटों के लिए कंप्यूटर पर काम करने के बाद, उसकी आँखों में पानी आना शुरू हो जाता है। उसे आँखों के आसपास दर्द होता था और कभी-कभी सिरदर्द भी होता था। 
वास्तव में, यहां तक कि उसका बच्चा, जो ऑनलाइन अध्ययन के लिए टैबलेट का उपयोग कर रहा था, वह इसी तरह की शिकायतों से पीड़ित था। वह केवल 10 वर्ष का था और उसका कोई चश्मा नहीं था। लेकिन जब भी वह पढ़ाई के लिए कंप्यूटर या टैबलेट का इस्तेमाल करते थे तो उन्हें आँखों में दर्द, जलन और आँखों में पानी आता था।
मेरी सलाह पर वह अपनी आँखों की शिकायतों के लिए एक नेत्र रोग विशेषज्ञ के पास गई। मेरी सलाह पर उसने एक नेत्र रोग विशेषज्ञ से सलाह ली। नेत्र विशेषज्ञ बहुत अच्छे थे और अच्छी सलाह देते थे। उनके अनुसार ये समस्याएं कंप्यूटर या टैबलेट स्क्रीन का उपयोग करते समय अत्यधिक खिंचाव के कारण हो रही थीं। इसे चिकित्सकीय रूप से कंप्यूटर आईस्ट्रेन या कंप्यूटर विज़न सिंड्रोम कहा जाता है।
स्क्रीन समय बढ़ रहा है ।
इन दिनों लगभग हर कोई या तो कंप्यूटर, या टैबलेट या मोबाइल का उपयोग कर रहा है। साथ ही ज्यादातर लोग घर से काम कर रहे हैं। स्कूल छात्रों के लिए ऑनलाइन कक्षाएं भी संचालित कर रहे हैं और वे घर से पढ़ाई कर रहे हैं। कुछ संस्थाएँ कला, संगीत जैसे शौक वर्ग भी चला रही हैं। फिटनेस कक्षाएं, नृत्य और योग भी सभी के लिए ऑनलाइन आयोजित किए जा रहे हैं। इससे परिवार के अधिकांश सदस्यों के लिए हर समय स्क्रीन का उपयोग करना आवश्यक हो जाता है।
Increased Screen Time For Online Work And Studies
डिजिटल उपकरणों के निरंतर उपयोग से एक स्थिति बढ़ी है जिसे स्क्रीन टाइम कहा जाता है। स्क्रीन समय से हमारा मतलब है कि आप हर समय इन डिजिटल उपकरणों के सामने रहें और विभिन्न उद्देश्यों के लिए स्क्रीन का उपयोग करें। यह सीखने, विकास और काम करने के उद्देश्य के लिए आवश्यक हो सकता है। लेकिन क्या आपने अपनी आँखों के बारे में सोचा है? क्या आपकी आँखें इसके कारण पीड़ित नहीं हैं?
स्क्रीन पर काम करते समय आपकी आँखें लगातार फोकस और रिफोकस करती हैं। जब आपकी आँखें पढ़ती हैं तो आगे-पीछे चलती हैं और अन्य दस्तावेजों या पुस्तकों की जांच करने के लिए अपनी दृष्टि की दिशा बदल देती हैं। ये परिवर्तन अचानक होते हैं और अक्सर आपकी आँखों की मांसपेशियों में खिंचाव पैदा करते हैं।
साथ ही स्क्रीन की चमक आपकी आँखों को प्रभावित करती है। स्क्रीन पर विभिन्न रोशनी और रंग हैं। जब आप इस तरह की तेजी से बदलती रोशनी और अंधेरे या रंगीन चित्रों को देखते हैं तो आपकी आँखें और मस्तिष्क तनावग्रस्त हो जाते हैं। यह आसानी से विभिन्न आँखों की शिकायतों को जन्म दे सकता है। आँखों का सूखना, आँखों में जलन, आँखों का पानी बहना, आँखों में थकान महसूस होना, आँखों में जलन होना, आँखों के आस-पास दर्द का अनुभव होना, ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई, धुंधली दृष्टि, ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई और प्रकाश की संवेदनशीलता। थकान, सिरदर्द, गर्दन और कंधे का दर्द भी आम है।
कंप्यूटर स्क्रीन से अपनी आँखों की सुरक्षा कैसे करें ।
हमने कंप्यूटर या मोबाइल के उपयोग के कारण आँखों में खिंचाव के संभावित कारणों और लक्षणों को समझा है। अब हमें यह समझने की आवश्यकता है कि स्क्रीन के अत्यधिक उपयोग से हमारी आँखों को कैसे बचाया जाए। यहाँ आपकी आँखों की सुरक्षा के लिए कुछ महत्वपूर्ण सुझाव दिए गए हैं। 
Protect Your Eyes - Right Ways Of Using Computer
स्क्रीन की चमक कम करें - कंप्यूटर स्क्रीन को खिड़की के पास न रखें। यह अतिरिक्त चकाचौंध का कारण बन सकता है और आँखों में अधिक खिंचाव पैदा कर सकता है। अपने स्क्रीन डिस्प्ले की जाँच करें और चमक को समायोजित करें। स्क्रीन ब्राइटनेस कम रखें। आप कंप्यूटर, टैबलेट और मोबाइल पर चकाचौंध को कम करने के लिए स्क्रीन फिल्टर का उपयोग कर सकते हैं। अपने डिवाइस का रंग तापमान कम करें। यह डिवाइस से निकलने वाली नीली रोशनी को कम करने और आपकी आँखों को राहत देने में मदद करेगा।
अपने डिवाइस का सही तरीके से उपयोग करें - कंप्यूटर स्क्रीन को अपनी आँखों से दूर रखें। इसे अपने हाथ की लंबाई पर रखें। स्क्रीन का केंद्र आपकी आँखों की लंबाई से 10 से 15 डिग्री नीचे होना चाहिए। अपने कमरे को अच्छी तरह से रोशन रखें। अगर आप रात में काम कर रहे हैं तो कमरे की लाइट ऑन रखें। अंधेरे में मोबाइल और कंप्यूटर का उपयोग न करें। यदि आवश्यक हो तो अपने पाठ का आकार बढ़ाएं। यदि आप स्क्रीन पर काम करते समय नीचे रखे किसी दस्तावेज़ को देख रहे हैं, तो इसे कंप्यूटर के करीब रखें, ताकि आपको बहुत अधिक खिंचाव न पड़े।
• अपनी आँखोंकी देखभाल करें - बीच-बीच में ब्रेक लें और अपनी आँखों को थोड़ा आराम दें। यदि आप लेंस पहनते हैं, तो कुछ समय के लिए ब्रेक लें और चश्मा पहनें। आप ब्रेक के दौरान अपनी आँखों को साफ पानी से धो सकते हैं। अपनी आँखें अधिक बार झपकाएँ। इससे आँखों के सूखने से बचा जा सकता है। विशेषज्ञों का सुझाव है कि हर 20 मिनट के बाद आप अपनी आँखों पर खिंचाव को कम करने के लिए कम से कम 20 सेकंड के लिए 20 फीट दूर किसी वस्तु को देखें। 
नियमित नेत्र जांच के लिए जाएं - अपनी आँखों को नुकसान से बचाने के लिए नियमित नेत्र जांच जरूरी है। सही चिकित्सीय सलाह और समय पर उपचार से आप आँखों की समस्याओं को रोक सकते हैं।
यदि आँखों की तकलीफ़ लंबे समय तक बनी रही तो चिकित्सकीय सलाह लें। यदि आवश्यक हो तो आप डॉक्टर की सलाह से आई ड्रॉप का उपयोग कर सकते हैं। इन दिनों विशेष रूप से नीली रोशनी को कम करने के लिए डिज़ाइन किए गए ब्लू-ब्लॉक ग्लास उपलब्ध हैं।

 

यह भी पढ़ें

लॉकडाउन स्ट्रेस - महिलाएँ कैसे करें इसका सामना?

लॉकडाउन की स्वास्थ्य समस्याओं से कैसे बचें?

यही सही समय है - जानिये अपने आप को

मासिक धर्म स्वच्छता क्यों है जरूरी? 

माहवारी में स्वस्थ रहने के तरीके

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

Monsoon Heal...

Monsoon Health - मानसून के लिए १० प्रभावी...

Family Healt...

Family Health - पारिवारिक स्वास्थ्य और फिटनेस...

जानिए महिलाओ...

जानिए महिलाओं में कैंसर के लक्षण और बचाव...

मासिक धर्म स...

मासिक धर्म स्वच्छता क्यों है जरूरी?

पोल

आपकी पसंदीदा हिरोइन

गृहलक्ष्मी गपशप

पहली बार घर ...

पहली बार घर रहे...

लाॅकडाउन से पहले अक्षय कुमार की फिल्म सूर्यवंशी रीलीज़...

अनलाॅक 2 में...

अनलाॅक 2 में 31...

मिनिस्ट्री आफ होम अफेयर्स ने कहा है कि जो डोमैस्टिक...

संपादक की पसंद

गुरु एक सेतु...

गुरु एक सेतु है,...

गुरु तो एक सेतु है, एक संभावना है। गुरु एक तरह की रिक्तता...

दिल जीत लेंग...

दिल जीत लेंगे जयपुर...

जयपुर को गुलाबी शहर कहा जाता है लेकिन ये महलों का शहर...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription